पीएम मोदी की जैसलमेर में सुरक्षाबलों संग दिवाली मनाने के क्या हैं मायने? विशेषज्ञों ने बताए कारण

  • दिवाली के मौके पर शनिवार को पीएम मोदी ( PM Modi Diwali celebration ) पहुंचेे जैसलमेर के लोंगेवाला।
  • पीएम मोदी लगातार सातवें वर्ष सुरक्षाबलों के साथ दिवाली मनाने पहुंचे उनके बीच।
  • रक्षा विशेषज्ञों ने किया पीएम के कदम का स्वागत और बताया मनोबल बढ़ाने वाला।

गुरुग्राम। जवानों के साथ दिवाली मनाने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ( pm modi Diwali celebration ) की जैसलमेर यात्रा की प्रशंसा करते हुए रक्षा विशेषज्ञों ने कहा है कि यह एक स्वागत योग्य इशारा है, जो भारतीय सशस्त्र बलों का काफी मनोबल बढ़ाता है।

WHO ने दी दुनिया को चेतावनी, अगली महामारी के लिए हो जाएं तैयार

समाचार एजेंसी एएनआई से बात करते हुए रक्षा विशेषज्ञ सतीश दुआ ने कहा, "यह एक बहुत अच्छा कदम है। जब भी वरिष्ठ या प्रतिष्ठित व्यक्ति फ्रंटलाइन के बीच चलते हैं, तो यह उनका मनोबल बढ़ाता है। पीएम मोदी ने पिछले सात वर्षों से अपनी दिवाली फ्रंटलाइन पर बिताई है। सैनिक सीमा पर अपनी जान जोखिम में डाल रहे हैं और उन्हें त्योहारों पर घर लौटने का मौका नहीं मिलता है।"

वहीं, एक अन्य रक्षा विशेषज्ञ एसपी सिन्हा ने कहा कि प्रधानमंत्री का हावभाव दर्शाता है कि वह भारतीय सेना के जवानों को अपना परिवार मानते हैं। सिन्हा ने कहा, "2014 के बाद से हर साल वह सैनिकों के साथ दिवाली मनाते रहे हैं, जिसका मतलब है कि वह भारत की सेना के सैनिकों को अपना परिवार मानते हैं। वह इस महान परिवार के पिता हैं।"

उन्होंने आगे कहा, "यह हावभाव कई संदेशों देता है जैसे - पीएम मोदी भारतीय सशस्त्र बलों द्वारा प्रदान की गई सेवाओं का सम्मान करते हैं। वह बलों द्वारा किए गए बलिदानों का भी सम्मान करते हैं। इसके साथ ही भारतीय सैनिकों का मनोबल बढ़ता है। यह दुश्मनों को संदेश भी देता है कि प्रधानमंत्री पूरी तरह से सेनाओं का समर्थन करते हैं। पिछली सरकारों ने 'इस्तेमाल करने और फेंक देने' की नीति का इस्तेमाल किया।"

बोरों में भरी थी अरबों रुपये की देश भर को हिलाने वाली वो चीज, सुरक्षा बलों ने बड़ी मुस्तैदी से किया कब्जा

इस बीच मेजर जनरल (सेवानिवृत्त) जीडी बख्शी ने भी प्रधानमंत्री के हाव-भाव की सराहना की है। बख्शी ने कहा, "यह एक बहुत स्वागतयोग्य हाव-भाव है। उन्होंने एक अच्छी परंपरा की स्थापना की है कि है और वह अब सातवें वर्ष में भी इसे निभा हे हैं। वह सैनिकों के पास पहुंचते हैं और उन्हें यह एहसास दिलाते हैं कि वे अकेले नहीं हैं और पूरा देश उनके साथ है। यह सुरक्षा बलों के मनोबल को आसमान से ऊंचा पहुंचा देता है।"

उन्होंने आगे कहा कि पीएम मोदी ने जैसलमेर में एक बहुत ही महत्वपूर्ण क्षेत्र का दौरा किया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को सुरक्षाबलों के साथ दिवाली का त्योहार मनाने के लिए राजस्थान के जैसलमेर में लोंगेवाला में सैनिकों को संबोधित किया।

pm modi Prime Minister Narendra Modi
Show More
अमित कुमार बाजपेयी
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned