गुड़िया गैंगरेप केस: 18 जनवरी तक टला फैसला, 5 साल की बच्ची के साथ हुआ था दुष्कर्म

  • गुड़िया गैंगरेप केस ( gudiya gang rape case ) को लेकर कड़कड़डूमा कोर्ट में हुई सुनवाई
  • 18 जनवरी को सुनाया जाएगा फैसला
    5 साल की बच्ची के साथ 2013 में हुआ था गैंगरेप

नई दिल्ली। दिल्ली की गुड़िया गैंगरेप केस में आज कड़कड़डूमा कोर्ट में सुनवाई हुई। कोर्ट ने गैंगरेप केस में फैसला टाल दिया है। अब इस मामले में 18 जनवरी को फैसला सुनाएगी। बता दें कि यह मामला निर्भया केस के 4 महीने बाद सुर्खियों में आया। जिसे लेकर लोगों का गुस्सा फूट पड़ा था।

यह भी पढ़ें-जम्मू-कश्मीर: DSP देवेंद्र सिंह के करीबी लोगों के घरों पर छापेमारी

बता दें कि 2013 को 5 साल की गुड़िया को 2 लोगों ने किडनैप कर लिया था। इसके बाद दरिंदों ने उसके साथ गैंगरेप किया। 17 अप्रैल की सुबह गुड़िया खुन से लथपथ मिली थी । निर्भया की तरह गुड़िया के साथ भी गैंगरेप के दौरान बर्बरा की गई थी। उस दौरान 5 साल की मासूम बच्ची के शरीर से मोमबत्ती और कांच की शीशी निकली थी। जिसके बाद उसकी हालत काफी नाजूक थी।

गुड़िया को कई सर्जरी के बाद बचाया जा सकता था। वह कई दिनों तक अस्पताल में थी। वहीं इस गैंगेरेप के बाद लोगों का गुस्सा पुलिस पर फूट पड़ा था। दरअसल, चार महीने पहले निर्भया गैंगरेप कांड हुआ था। उसके बाद फिर गुड़िया के साथ ये घिनौनी घटना सामने आई थी। इस घटना ने पुलिस और प्रशासन पर कई सवाल खड़े कर दिए थे।

यह भी पढ़ें-जम्मू-कश्मीर: DSP देवेंद्र सिंह के करीबी लोगों के घरों पर छापेमारी

आरोपी थे पड़ोसी

इस मामले में पुलिस ने दो आरोपियों को गिरफ्तार किया था। एक की गिरफ्तारी बिहार और दूसरे की उत्तर प्रदेश से हुई थी। दोनों आरोपी मनोज शाह और प्रदीप उसके पड़ोसी थे।

Shivani Singh Content Writing
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned