जानिए सूरज की हानिकारक किरणों से बचाने वाली ओजोन कैसे खुद है प्रदूषण की बड़ी वजह

जानिए सूरज की हानिकारक किरणों से बचाने वाली ओजोन कैसे खुद है प्रदूषण की बड़ी वजह

  • 2016 से 31 मई 2019 तक Delhi में Ozone है Pollution का बड़ा कारण
  • ओजोन की वजह से दिल्ली-NCR में बीमार पड़ रहे हैं लोग
  • 4 साल में 118 दिन तक ओजोन के कारण बढ़ा प्रदूषण

नई दिल्ली। दिल्ली ( delhi ) में लगातार प्रदूषण का स्तर बढ़ता जा रहा है। प्रदूषण की मुख्य वजह गाड़ियों से निकलता धुआं, दिवाली पर छोड़े जाने वाले पटाखे और पराली जलाना माना जाता है। लेकिन आपको जानकर हैरानी होगी कि हानिकारक अल्ट्रा वायलेट किरणों से हमें बचाने वाली ओजोन भी प्रदूषण ( pollution ) बढ़ा रही है। इसकी वजह से दिल्ली-NCR में लोग बीमार पड़ रहे हैं। 2016 से 31 मई 2019 तक ओजोन प्रदूषण का बड़ा कारण बनकर उभरी है।

कैसे हानिकारक है ओजोन

सभी जानते हैं कि ओजोन हमें हानिकारक अल्ट्रा वायलेट किरणों ( UV rays ) से बचाती है। लेकिन जब यही ओजोन जमीन के नजदीक हो तो यह हमारे लिए बेहद खतरनाक होती है। इसकी वजह से लोगों को आंखों और सीने में जलन, फेफड़ों से संबंधित बीमारियां और खांसी जैसी कई दिक्कतें आती हैं।

 

delhi air

लोकसभा में भी उठ चुका है ओजोन का मुद्दा

ओजोन से बढ़ते प्रदूषण का मुद्दा लोकसभा में भी उठ चुका है। सदन में पर्यावरण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने बताया कि दिल्ली-NCR में ओजोन प्रदूषण की एक बड़ी वजह बनकर सामने आई है। जावड़ेकर के मुताबिक, दिल्ली में 2016 से 31 मई 2019 तक चार साल में 118 दिन तक ओजोन की वजह से प्रदूषण बढ़ता रहा।

prakash javadekar

बता दें कि पृथ्वी पर 10 से 50 किमी की ऊंचाई तक ओजोन की परत है। यह परत हमे सूरज से निकलने वाली अल्ट्रा वायलेट किरणों से जरूर बचाती है। लेकिन जब यह परत 10 किमी की ऊंचाई से नीचे बनने लगे लगती है तो हमारे लिए खतरा बन जाती है। एक रिपोर्ट की मानें तो 2017 में ओजोन की वजह से देश में 146,320 लोगों की मौत हुई थी।

हर साल बढ़ रहा है प्रदूषण

किस जगह कितने दिन ओजोन रही प्रदूषण का कारण

क्षेत्र 2016 2017 2018 2019 कुल दिन
दिल्ली 36 दिन 14 दिन 45 दिन 23 दिन 118 दिन
नोएडा 00 33 16 00 49
गाजियाबाद 00 00 08 03 11
फरीदाबाद 03 00 08 55 66
गुरुग्राम 43 00 05 06 54

10 में से 7 भारतीय शहर सबसे प्रदूषित

gugugram

एयर विजुअल और ग्रीनपीस की मार्च में प्रदूषण को लेकर एक रिपोर्ट सामने आई थी। इस अध्ययन के मुताबिक, साल 2018 में दुनिया के 10 सबसे प्रदूषित शहरों में से 7 शहर भारत के हैं। इन में गुरुग्राम सबसे प्रदूषित शहरों में एक है। गुरुग्राम के अलावा गाजियाबाद, फरीदाबाद, भिवानी, नोएडा, पटना और लखनऊ भारत के सबसे प्रदूषित शहर हैं।

क्या होती है ओज़ोन...

Ozone

ओजोन से बढ़ते प्रदूषण को समझने के लिए सबसे पहले ये जान लेना जरूरी है कि ये होती क्या है। आपको बता दें कि ओजोन ( ozone ) ऑक्सीजन के तीन परमाणुओं से मिलकर बनती है। इसलिए इसे O3 भी कहते हैं। यह एक प्रतिक्रियाशील गैस है। इसकी मात्रा मौसम को भी प्रभावित करती है।

जमीन पर कैसे बनती है ओजोन

ओजोन के जमीन पर बनने के पीछे की वजह उद्योगों और वाहनों से निकलने वाली गैसें हैं। इनमें उद्योगों से निकलने वाली नाइट्रस ऑक्साइड और वाहनों, रासायनिक संयंत्रों, रिफाइनरियों आदि से निकलने वाला हाइड्रोकार्बन सूर्य की किरणों के साथ प्रतिक्रिया करते हैं, जिससे ओजोन बनती है।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned