दिल्ली में Corona संकट के बीच DRDO ने शुरू किया कोविड अस्पताल, आज से भर्ती हो सकेंगे मरीज

दिल्ली में एयरपोर्ट के पास DRDO ने शुरू किया कोविड हॉस्पिटल, फिलहाल 250 बेड रहेंगे उपलब्ध

नई दिल्ली। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में कोरोना वायरस ( Coronavirus in Delhi ) का कहर लगातार जारी है। रोज नए मामलों की संख्या में इजाफा हो रहा है। ऐसे में केंद्र के साथ केजरीवाल सरकार भी लगातार आवश्यक कदम उठा रही है। खास तौर पर बढ़ते मरीजों के चलते बेड की कमी को कम करने को लेकर भी कई कदम उठाए जा रहे हैं।

इसी कड़ी में राजधानी में रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन ( DRDO ) ने कोरोना मरीजों के इलाज के लिए दिल्ली कैंट में बने कोविड केयर केंद्र को दोबारा चालू कर दिया है।

खास बात यह है कि इसमें 500 बैड की व्यवस्था की जा रही है। इनमें 250 बेड सोमवार को उपलब्ध करवा दिए जाएंगे। आपको बता दें कि यह सभी आईसीयू बेड हैं।

यह भी पढ़ेँः देश में डराने वाले हैं Corona के नए आंकड़े, एक बार फिर टूटे अब तक के सारे रिकॉर्ड

19 अप्रैल से भर्ती हो सकेंगे मरीज
दिल्ली में बढ़ते कोरोना मामलों के बीच डीआरडीओ सोमवार यानी 19 अप्रैल से इस केंद्र को डॉक्टरों को सौंप देगा और यहां पर मरीज भर्ती हो सकेंगे।

फिलहाल कुछ दिन 250 बेड की व्यवस्था रहेगी और फिर उसके बाद 500 बेड मरीजों के लिए उपलब्ध होंगे।
वहीं इस दौरान कोविड अस्पताल में दवाइयों के लिए भी पूरे इंतजाम हैं। जरूरी दवाइयां यहां पर कम न हों इसके लिए सरकार के साथ मिलकर काम किया जा रहा है।

डीआरडीओ ने कोविड-19 मरीजों के इलाज के लिए दिल्ली हवाईअड्डे के नजदीक स्थित अपने अस्पताल को पूरी तरह कोविड मरीजों के लिए खोल दिया है।

आपको बता दें कि हाल में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने पीएम नरेंद्र मोदी को खत लिखकर केंद्र सरकार के अस्पतालों में 10 हजार में से 7 हजार बेड्स कोरोना के लिए सुरक्षित करने की मांग की है।

यह भी पढ़ेंः शिवसेना विधायक का विवादित बयान, बोले- Corona का वायरस मिलता तो देवेंद्र फडणवीस के मुंह में डाल देता

डीआरडीओ के बेड 1000 किए जाएं
सीएम केजरीवाल ने पत्र में कहा है दिल्ली में ऑक्सीजन की भारी कमी हो रही है, ऐसे तुरंत ऑक्सीजन मुहैया कराई जाए। यही नहीं अनुरोध किया है कि डीआरडीओ 500 आईसीयू बेड बना रहा है, इसे बढ़ा कर 1000 बेड कर दिए जाए।

दिल्ली के सीएम ने कहा है कि दिल्ली में कोरोना की स्थिति बेहद गंभीर हो गई है। कोरोना बेड्स और ऑक्सीजन की भारी कमी है। तकरीबन सभी आईसीयू बेड्स भर गए हैं। उन्होंने पीएम को लिखे पत्र में कहा है कि, हम अपने स्तर पर सभी तरह के प्रयास कर रहे हैं और इसमें आपकी भी मदद की जरूरत है।

आपको बता दें कि देश में कोरोना वायरस का खतरा लगातार बढ़ रहा है। बीते 24 घंटे में देश में कोरोना के नए मामले 2.75 लाख के पार पहुंच गए हैं। वहीं इस महामारी से अपनी जान गंवाने वालों की संख्या भी 1600 का आंकड़ा पार कर चुकी है। सबसे ज्यादा बुरा हाल महाराष्ट्र का है जबकि राजधानी दिल्ली में भी तेजी से नए मामले बढ़ रहे हैं।

धीरज शर्मा
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned