scriptलॉकडाउन में बेरोजगारी का असर! बिहार में शादी से पहले दूल्हे का अपहरण, पुलिस ने ऐसे जुटाया सुराग | Effect of unemployment in lockdown! Groom abducted before marriage | Patrika News

लॉकडाउन में बेरोजगारी का असर! बिहार में शादी से पहले दूल्हे का अपहरण, पुलिस ने ऐसे जुटाया सुराग

Published: Jun 09, 2021 11:03:19 am

Submitted by:

Ashutosh Pathak

फतेहपुर थाना स्थित मायापुर निवासी सौरभ की आगामी 27 जून को शादी है। इस सिलसिले में खरीदारी के लिए वह अपने दोस्त अंजित कुमार के साथ बाइक से निकला। कुछ दूर आगे बढ़ा तभी आधा दर्जन युवकों ने उन दोनों का अपहरण कर लिया।
 

symbolic_image.jpg

,,

नई दिल्ली।

कोरोना महामारी की दूसरी लहर के दौरान हुए लॉकडाउन में बिहार में बेरोजगार कुछ युवकों ने अपराध की राह पकड़ ली। शादी से पहले एक दूल्हे का अपहरण कर लिया। इस घटना में दूल्हे के दोस्त को भी अगवा कर लिया गया था। घटना गया जिले के मानपुर की है।
पुलिस के अनुसार, फतेहपुर थाना स्थित मायापुर निवासी सौरभ की आगामी 27 जून को शादी है। इस सिलसिले में खरीदारी के लिए वह अपने दोस्त अंजित कुमार के साथ बाइक से निकला। कुछ दूर आगे बढ़ा तभी आधा दर्जन युवकों ने उन दोनों का अपहरण कर लिया। दोनों को छोडऩे के लिए परिजनों से पहले पांच लाख की फिरौती मांगी गई। इसके बाद मामला ढाई लाख में तय हुआ। फिरौती नहीं मिलने या पुलिस को सूचना देने पर दूल्हे और उसके दोस्त को जान से मारने की धमकी भी दी गई।
यह भी पढ़ें
-

Video: दुनिया का सबसे बड़ा किंग कोबरा हिमाचल प्रदेश में दिखा, पहली झलक देख सब रह गए हैरान

हालांकि, परिजनों ने धमकी को नजरअंदाज करते पुलिस में इसकी सूचना दे दी, जिसके बाद पुलिस ने वजीरगंज डीएसपी के नेतृत्व में कई थानों की एक टीम बनाई। परिजनों ने बताया था कि अपहरणकर्ताओं ने रकम मानपुर के सूर्यमंदिर में मंगवाई है। पुलिस ने आसपास के इलाके में घेराबंदी की और छिपकर अपराधियों के आने का इंतजार करने लगे।
यह भी पढ़ें
-

नीति आयोग की SDG रिपोर्ट: बिहार फिर निचले पायदान पर पहुंचा तो जद-यू ने उठाई विशेष राज्य के दर्जे की मांग

3 बदमाश बाइक पर मंदिर पहुंचे, तो पुलिस ने उन्हें घेरकर पकड़ लिया। इनके नाम कारु सिंह, रौशन पासवान और चंदन कुमार थे। इसके अलावा इस घटना में चार और युवक शामिल थे, जिनकी तलाश पुलिस कर रही है। बहरहाल, बिहार में ऐसी घटना काफी समय बाद हुई है, जब शादी से पहले दूल्हे या दुल्हन को अगवा कर लिया जाए और बदले में मोटी फिरौती की रकम लेकर छोड़ा जाए। मगर यह घटना महज ढाई लाख रुपए के लिए हुआ, जो चर्चा का विषय बना हुआ है।
loksabha entry point

ट्रेंडिंग वीडियो