Good News : अनलॉक 1 ​के बाद पहली बार बढ़ी रोजगार दर, एक हफ्ते में 3.3 फीसद का हुआ इजाफा

  • Employment Rate Increased : सेंटर फॉर मोनिटरिंग इंडियन इकोनॉमी (सीएमआईई) की रिपोर्ट के तहत इस समय देश में रोजगार की कुल दर 35.7 फीसद है
  • निर्यात बढ़ने और जीसएटी कलेक्शन के अच्छे होने से बढ़ रहे है रोजगार के अवसर

By: Soma Roy

Published: 17 Jun 2020, 09:23 AM IST

नई दिल्ली। कोरोना काल (Coronavirus Pandemic) के दौरान लोगों को कई तरह की मुसीबतों का सामना करना पड़ रहा है। एक तरफ जहां लोग इस महामारी से लड़ रहे हैं। वहीं दूसरी तरफ लॉकडाउन (Lockdown) की वजह से कई लोग बेरोजगार हो गए हैं। इस मुश्किल की घड़ी में पहली बार ऐसे लोगों के लिए अच्छी खबर सामने आई है। सेंटर फॉर मोनिटरिंग इंडियन इकोनॉमी (CMII) की रिपोर्ट के तहत रोजगार (Employment Rate) की दर में 35.7 फीसद का इजाफा हुआ है। अनलॉक 1.0 के तहत अब दोबारा रोजगार के नए अवसर बनते हुए दिखाई दे रहे हैं।

सीएमआईई की रिपोर्ट के तहत 7 जून को खत्म हुए सप्ताह के मुकाबले 14 जून को समाप्त हुए सप्ताह में रोजगार दर में बढ़ोत्तरी देखने को मिली। इससे पहले के सप्ताह में यह दर 32.4 फीसद थी। एक्सपर्ट्स के मुताबिक ये एक अच्छा संकेत है। इससे आईटी, इंजीनियरिंग, कंस्ट्रक्शन आदि क्षेत्रों में रोजगार के मौके मिलेंगे। लॉकडाउन के दौरान जिन लोगों को अपनी जॉब से हाथ धोना पड़ा है उनकी गाड़ी अब दोबारा पटरी पर लौटती दिख रही है।

निर्यात बढ़ना फायदेमंद
सीएमआईई की रिपोर्ट के मुताबिक मई माह में अप्रैल के मुकाबले जीएसटी कलेक्शन और निर्यात दोनों में बढ़ोतरी देखने को मिली। मालूम हो कि अप्रैल में निर्यात दर 10.4 अरब डॉलर थी, जो मई में बढ़कर 19 अरब डॉलर का हो गई। इसी तरह अप्रैल में जीएसटी कलेक्शन 32,172 करोड़ था जो कि मई में बढ़कर 62,151 करोड़ के स्तर पर पहुंच गया। इससे रोजगार बढ़ने में मदद मिली। 14 जून को समाप्त सप्ताह के दौरान लेबर पार्टिशिपेशन रेट (एलपीआर) 40.4 फीसद के स्तर पर पहुंच गई।

ग्रामीण इलाकों में रोजगार की दर ज्यादा
रिपोर्ट के मुताबिक इस समय कुल रोजगार दर 35.7 है। देश में 14 वर्ष से अधिक उम्र वाले लोगों के पास रोजगार ज्यादा है। साथ ही शहरी इलाकों के मुकाबले ग्रामीण जगह में रोजगार में रिकवरी अच्छी देखी गई। चूंकि एक जून से अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाने के लिए काफी कोशिशें की गई थी, जिसका असर अब धीरे-धीरे देखने को मिल रहा है।

लॉकडाउन में 10 फीसद की आई थी गिरावट
कोरोना महामारी के चलते 25 मार्च को लॉकडाउन के बाद से बेरोजगारी दर काफी बढ़ गई थी। शुरुआती एकसप्ताह में रोजगार की दर में 10 फीसद की गिरावट दर्ज की गई थी। जिसके चलते 29 मार्च को रोजगार की दर 29 फीसद थी जो 19 अप्रैल के समाप्त सप्ताह के दौरान 26.1 फीसद हो गई थी।

Show More
Soma Roy Content Writing
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned