दो माह के बच्चे की मां-बाप ने लगा दी रकम, 22 हजार में कर दिया मौत के हवाले, पुलिस ने शुरू की जांच

Highlights

- इस छोटी सी जगह में वह अपने आप को बहुत ही सुरक्षित महसूस करता है

-कहावत है न 'बाप बड़ा न भैया सबसे बड़ा रुपया'। यहीं कहावत हैदराबाद में हुई घटना पर सटीक बैठती है

-इस घटना ने माता-पिता जैसे दुनिया में सबसे पवित्र रिश्ते को शर्मसार कर दिया है

नई दिल्ली. मां और शिशु में एक ऐसा रिश्ता है, जो कि अनूठा है, अनमोल है। इस रिश्ते की महत्ता को शब्दों में बयान करना कठिन है। यह रिश्ता उस दिन कायम हो जाता है, जिस दिन शिशु मां की कोख में जन्म लेता है और नौ महीने तक उसी में रहता है, वही उसका घर होता है। इस छोटी सी जगह में वह अपने आप को बहुत ही सुरक्षित महसूस करता है। एेसा ही पिता का दुलार बच्चे के लिए होता है। इन सबके बीच अगर लालज आ जाए तो सारे रिश्ते दरकिनार हो जाते हैं। कहावत है न 'बाप बड़ा न भैया सबसे बड़ा रुपया'। यहीं कहावत हैदराबाद में हुई घटना पर सटीक बैठती है। इस घटना ने माता-पिता जैसे दुनिया में सबसे पवित्र रिश्ते को शर्मसार कर दिया है।

22 हजार में बेच दिया बच्चे को

यह मामला हैदराबाद के जिडीमेटला पुलिस थाने के इलाके की है, जहां एक माता पिता ने अपने दो माह के नवजात को कुछ रुपयों की लालच में अपने दो माह के नवजात बेटे को 22 हजार रुपयों में बेच दिया। बच्चा दो माह का ही था जिस समय वह पूर्ण रूप से अपनी मां पर निर्भर रहता है। भोजन भी मां के द्वारा ही प्राप्त करता है। एेसे में मां-बाप ने चंद पैसों के लिए उससे इस हालत में भेज दिया


पुलिस ने नवजात को छुड़ाया

यहां बतकम्मा कुंडा क्षेत्र में रहने वाले सिंह-सरिता दंपति ने अपने नवजात बेटे को शेषु नामक व्यक्ति को किसी दलाल की मध्यस्तता से बेच दिया। जब मामला स्थानीय लोगों के जरिये पुलिस तक पहुंचा तो पुलिस ने आरोपियों का पीछा कर नवजात को छुड़ाया।

पत्नी ने पति पर लगाया आरोप

हालांकि, नवजात की मां का कहना है कि उसके शराबी पति ने ही उसके बेटे को बेचा है। इस मामले को लेकर पुलिस दोनों ओर से आरोपियों से पूछताछ कर रही है। इस बीच नवजात को उसकी मां को सौंप दिया गया है।

Ruchi Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned