भगोड़े मेहुल चोकसी को वापस लाना सुनिश्चित करेगा भारत: विदेश मंत्रालय

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची ने कहा, "भारत अपने प्रयासों में दृढ़ है कि भगोड़ों को भारत वापस लाया जाए। मेहुल चोकसी वर्तमान में डोमिनिका की हिरासत में है और कुछ कानूनी कार्यवाही चल रही है। हम यह सुनिश्चित करना जारी रखेंगे कि उसे भारत वापस लाया जाए।"

नई दिल्ली। पंजाब नेशनल बैंक के हजारों करोड़ रुपये लेकर फरार हुए भगोड़े हीरा कारोबारी मेहुल चोकसी को वापस भारत लाने को लेकर सभी कानून प्रक्रियाएं पूरी की जा रही है। गुरुवार को विदेश मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि भारत सरकार यह सुनिश्चित करेगी कि भगोड़े हीरा कारोबारी मेहुल चोकसी को वापस देश लाया जाए।

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची ने कहा, "भारत अपने प्रयासों में दृढ़ है कि भगोड़ों को भारत वापस लाया जाए। मेहुल चोकसी वर्तमान में डोमिनिका की हिरासत में है और कुछ कानूनी कार्यवाही चल रही है। हम यह सुनिश्चित करना जारी रखेंगे कि उसे भारत वापस लाया जाए।"

यह भी पढ़ें :- मेहुल चोकसी को Dominica से लाने की तैयारी तेज, जानिए वापसी में क्या फंस सकता है पेंच

बता दें कि मेहुल चोकसी 23 मई को रात का खाना खाने के लिए बाहर निकला था, जिसके बाद वह एंटीगुआ से लापता हो गया था। एंटीगुआ पुलिस ने पिछले महीने मेहुल चोकसी के लिए तलाशी शुरू की, जिसके बाद वह जल्द ही डोमिनिका में पकड़ा गया। डोमिनिका पुलिस ने अवैध रूप से उसके देश में प्रवेश करने का आरोप लगाया। मीडिया रिपोर्ट्स में कहा गया कि चोकसी भारत में प्रत्यर्पण से बचने के संभावित प्रयास के तहत एंटीगुआ और बारबुडा से कथित रूप से भाग गया था।

कोर्ट ने चोकसी को जमानत देने से किया इनकार

डोमिनिकन की एक अदालत ने गुरुवार को मेहुल चोकसी को जमानत देने से इनकार कर दिया। सुनवाई के दौरान डोमिनिकन न्यायाधीश बर्नी स्टीफेंसन ने कहा कि भगोड़े व्यवसायी को डोमिनिका में अवैध तरीके से प्रवेश करने के आरोपों का मजिस्ट्रेट अदालत में जवाब देना चाहिए।

यह भी पढ़ें :- एंटीगुआ के पीएम का खुलासा, प्रेमिका को घुमाने के चक्कर में मेहुल चोकसी का हुआ भंडाफोड़

मालूम हो कि मेहुल चोकसी और उसका भतीजा नीरव मोदी 13,500 करोड़ रुपये के पंजाब नेशनल बैंक धोखाधड़ी मामले में आरोपी हैं। दोनों देश छोड़कर भाग चुके हैं। नीरव मोदी लंदन की जेल में बंद है। मेहुल चोकसी ने देश छोड़कर जनवरी 2018 में एंटीगुआ और बारबुडा की नागरिकता ले ली।

इस बीच, भगोड़े हीरा व्यापारी चोकसी के वकील विजय अग्रवाल ने बुधवार को कहा था कि चोकसी का अपहरण कर लिया गया था, वह अपनी मर्जी से डोमिनिका नहीं गया था।

Anil Kumar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned