इजराइल में हुए फिलिस्तिनी रॉकेट हमले में केरल की महिला की मौत, वीडियो कॉल पर पति से कर रही थी बात

इजराइल में हुए फिलिस्तीनी रॉकेट हमले में भारतीय महिला सौम्या की मौत, आखिरी वक्त में पति से वीडियो कॉल पर कर रही थी बात

नई दिल्ली। इजराइल ( Israel ) और फलिस्तीन के बीच खूनी संघर्ष में एक केरल ( Kerala ) निवासी भारतीय महिला की भी जान चली गई है। केंद्रीय वित्त राज्य मंत्री वी मुरलीधरण ने इसकी जानकारी दी। उन्होंने बताया कि इजराइल में काम करने वाली केरल की एक महिला की फलीस्तीनी रॉकेट हमले में मौत हो गई।

महिला की पहचान सौम्या संतोष के रूप में हुई है। जब यह रॉकेट गिरा तब सौम्या ( Saumya )केरल में मौजूद अपने पति संतोष के साथ वीडियो कॉल पर बात कर रही थीं।

यह भी पढ़ेँः 1100 साल पुरानी कविता साझा करना चीन के इस अरबपति को पड़ा भारी, 18365 करोड़ रुपए का हुआ नुकसान, जानिए क्या है पूरा मामला

इजरायल और फिलिस्तीन के बीच पिछले कुछ दिनों से तनाव जारी है। इसी दौरान मंगलवार को हुए रॉकेट हमले में भारतीय महिला सौम्या की मौत हो गई। इजराइल ने इस घटना पर शोक व्यक्त किया और कहा कि इस मुश्किल वक्त में हम परिवार के साथ हैं।

सौम्या का परिवार केरल में रहता है। उनका कहना है कि रॉकेट सौम्या के एश्केलॉन स्थित घर पर गिरा। जब यह रॉकेट गिरा तब सौम्या केरल में मौजूद अपने पति संतोष के साथ वीडियो कॉल पर बात कर रही थीं। संतोष के भाई ने मीडिया से बातचीत में ये जानकारी दी।

यह भी पढ़ेँः साल के पहले चक्रवाती तूफान 'तौकते' का मंडराया खतरा, आईएमडी ने इन इलाकों में जारी किया अलर्ट

सौम्या केरल के इदुक्की जिले में केरिथोडु की रहने वाली थीं. वह इजरायल में एक हाउस मेड के तौर पर सात साल से काम कर रही थीं।

वहीं भारत में इजरायल के राजदूत रॉन मलका ने कहा कि, 'मैंने हमास के आतंकवादी हमले के शिकार सौम्या संतोष के परिवार से बात की।

मैंने उनके दुर्भाग्यपूर्ण नुकसान के लिए दुःख व्यक्त किया और इजराइल की ओर से अपनी संवेदना व्यक्त की। पूरा देश उनके इस दुख की घड़ी में शोक मना रहा है और हम उनके लिए यहां हैं।'

मूसा की याद दिलाता है ये हमला
रॉन मलका ने कहा, 9 साल के एडोन ने इतनी कम उम्र में अपनी मां को खो दिया और अब उसे मां के बिना ही बड़ा होना है। यह बुरा हमला उस छोटे बच्चे मूसा की याद दिलाता है, जिसने 2008 के मुंबई हमलों के दौरान अपने माता-पिता को खो दिया था। ईश्वर उन्हें शक्ति और साहस दे।

धीरज शर्मा
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned