JNU देशद्रोह मामला: कन्हैया कुमार बोले- 'चुनाव से पहले चार्जशीट दाखिल करने के लिए शुक्रिया मोदी जी'

जेएनयू राजद्रोह मामले में सोमवार को दिल्ली पुलिस ने पटियाला हाउस कोर्ट में आरोप पत्र दायर किया है। पुलिसकर्मी लोहे के एक भारी बक्से में 1200 पन्नों का आरोप पत्र लेकर कोर्ट पहुंचे।

नई दिल्ली। जवाहर लाल नेहरु विश्वविद्यालय (जेएनयू) में देश विरोधी नारेबाजी मामले में दिल्ली पुलिस ने 10 आरोपियों के खिलाफ चार्जशीट दाखिल कर ली है। इस केस में पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष कन्हैया कुमार, उमर खालिद और अनिर्बान भट्टाचार्य समेत 10 लोगों को आरोपी बनाया गया है। पुलिस की इस कार्रवाई के बाद कन्हैया कुमार ने दिल्ली पुलिस और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा है।

शुक्रिया मोदी जी और दिल्ली पुलिस: कन्हैया कुमार

कन्हैया ने कहा कि मैंने सुना है कि आरोप पत्र दायर किया गया है। मैं इस काम के लिए पुलिस और मोदी जी को धन्यवाद देना चाहता हूं। मामले के तीन साल बाद और ठीक चुनावों से पहले आरोप पत्र दाखिल करना स्पष्ट दर्शाता है कि ये राजीनीति से प्रेरित है। उन्होंने आगे कहा कि मुझे अपने देश की न्यायपालिका पर पूरा भरोसा है। वहीं उमर खालिद ने कहा कि मैं दोषी नहीं हूं। मुझे न्यायपालिका पर पूरा भरोसा है और अंत में जीत सत्य की ही होगी।

दिल्ली पुलिस ने दाखिल किया 1200 पन्नों का आरोपपत्र

जेएनयू राजद्रोह मामले में सोमवार को दिल्ली पुलिस ने पटियाला हाउस कोर्ट में आरोप पत्र दायर किया है। पुलिसकर्मी लोहे के एक भारी बक्से में 1200 पन्नों का आरोप पत्र लेकर कोर्ट पहुंचे। आरोप पत्र में कन्हैया कुमार, उनके सहयोगी उमर खालिद, अनिर्बान चटर्जी, शहला राशिद, डीएमके नेता डी राजा की बेटी अपराजिता राजा, आकिब हुसैन, मुजीब हुसैन, मुनीब हुसैन, उमर गुल, राइया रसूल और बशील भट समेत कई लोगों के नाम है। न्यूज एजेंसी के मुताबिक इस मामले में आईपीसी की धारा 124ए, 323, 465, 471, 143, 149, 147, 120B के तहत केस दर्ज है। अब कोर्ट चार्जशीट पर संज्ञान लेने पर मंगलवार को फैसला करेगा।

जेएनयू में लगे थे देशद्रोही नारे

दो साल पहले साल 2016 में 9 फरवरी के दिन संसद हमले का दोषी आतंकी अफजल गुरु की बरसी पर जेएनयू में एक कार्यक्रम का आयोजन हुआ था। कॉलेज परिसर में हुए इस कार्य्रम में अफजल गुरू को फांसी पर लटकाए जाने का विरोध और कथित तौर देशविरोधी नारेबाजी हुई थी। साथ ही कार्यक्रम के दौरान भड़काऊ भाषण देने का भी आरोप है। जिसका एक कथित वीडियो भी सामने आया था।

Show More
Chandra Prakash Content Writing
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned