Maharashtra: उद्धव सरकार का बड़ा ऐलान, प्राइवेट लैब में 50 प्रतिशत सस्ती हुई corona की जांच

  • Coronavirus की जांच को लेकर महाराष्ट्र सरकार का बड़ा फैसला
  • महाराष्ट्र में प्राइवेट लैब में COVID-19 टेस्ट की फीस आधी हुई
  • लोगों को अब 4500 के बदले 2200 रुपए देने होंगे

नई दिल्ली। कोरोना वायरस ( coronavirus in India ) का दंश पूरा देश झेल रहा है। लॉकडाउन ( Lockodwn ) के बावजूद देश में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा लगातार बढ़ रहा है। इस महामारी को लेकर सबसे ज्यादा खराब स्थिति महाराष्ट्र ( coronavirus in Maharashtra ) में है। राज्य में कोरोना मरीजों की संख्या एक लाख के पार पहुंच चुका है। इस बीच उद्धव सरकार ( Uddhav Government ) ने राज्य में कोरोना की जांच ( COVID-19 Test ) को लेकर बड़ा ऐलान किया है। महाराष्ट्र के प्राइवेट लैब में कोरोना जांच की फीस आधी कर दी गई है।

आधी हुई corona जांच की फीस

महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री ( Health Minister Of Maharashtra ) राजेश टोपे ( Rajesh Tope ) ने कहा कि राज्य में प्राइवेट लैब ( corona Test in Private Lab ) में कोरोना जांच की फीस आधी कर दी गई है। उन्होंने कहा कि पहले कोरोना जांच की फीस 4500 रुपए थी, लेकिन अब 2200 रुपए हो गई है। उन्होंने कहा कि सरकार के इस फैसले से लोगों को राहत मिलेगी। स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि हॉस्पिटल में आकर जांच कराने पर अब 2200 रुपए लगेंगे, जबकि घर पर जांच कराने के लिए 2800 रुपए देने होंगे। इससे पहले क्रमश: 4500 और 5200 रुपए लगते थे।

ज्यादा पैसा लेने पर होगी कानूनी कार्रवाई- राजेश टोपे

स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ( Rajesh Tope On Corona Test ) ने कहा कि प्राइवेट लैब अब कोरोना की जांच के लिए अधिकतम इतने ही पैसे ले सकते हैं। उन्होंने ये भी कहा कि जिलाधिकारी ( DM ) कीमतों को और कम कराने के लिए निजी लैब से बातचीत कर सकते हैं। टोपे ने कहा कि अगर कोई भी प्राइवेट लैब अब इससे ज्यादा पैसा लेते हैं तो उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी। स्वास्थ्य़ मंत्री ने कहा कि राज्य में फिलहाला 95 लैब में कोरोना की जांच की जा रही है। इनमें 53 सरकारी और 42 प्राइवेट लैब शामिल हैं। इसके अलावा पांच और लैब को पाइपलाइन में रखा गया है।

मुंबई और पुणे में सबसे ज्यादा टेस्ट

स्वास्थ्य मंत्री टोपे ने कि पुणे और मुंबई में कोरोना वायरस के सबसे ज्यादा मामले हैं। लिहाजा, यहां के डीएम चाहे तो प्राइवेट लैब से बात करके फीस को और कम कर सकते हैं। हालांकि, दबाव नहीं बनाया जा सकता है। शनिवार तक राज्य ने 6.24 लाख टेस्ट किया गया, जिनमें से 1.14 लाख लोग COVID-19 पॉजिटिव पाए गए हैं। इनमें सबसे ज्यादा टेस्ट मुंबई और पुणे में किए गए हैं। यहां आपको बता दें कि महाराष्ट्र में कोरोना मरीजों की संख्या 104,568 पहुंच गई है। इनमें 51,392 एक्टिव केस हैं, जबकि 49,346 लोग ठीक हो चुके हैं। वहीं, 3830 लोगों की मौत हो चुकी है।

Kaushlendra Pathak
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned