Maharashtra : गृह मंत्री अनिल देशमुख ने ट्विट कर बताया, परमबीर सिंह ने खुद को बचाने के लिए लगाए झूठे आरोप

महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने ट्विट कर मुंबई के पूर्व पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह के आरोपों झूठ का पुलिंदा करार दिया है।

नई दिल्ली। महराष्ट्र के एंटीलिया केस में अब नया मोड़ आ गया है। मुंबई के पूर्व पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह द्वारा आरोप लगाए जाने के बाद महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने ट्विटकर पलटवार किया है। इस मामले में देशमुख का कहना है कि परमबीर ने खुद को बचाने के लिए ये आरोप लगाए हैं।

जांच की आंच परमबीर तक पहुंचनी की जताई आशंका

महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख का कहना है कि परमबीर सिंह ने खुद को कानूनी कार्रवाई से बचने के लिए झूठा आरोप लगाया है। परमबीर के आरोपों से साफ है कि मुकेश अंबानी मामले के साथ-साथ मनसुख हिरेन हत्याकांड में भी सचिन वाजे शामिल हैं। इतना ही नहीं, इस मामले में जारी जांच की आंच अब पूर्व पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह तक पहुंचने की संभावना है।

परमबीर ने देशमुख पर लगाए ये आरोप

दरअसल, मुंबई के पूर्व पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह ने महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे को लिखी चिट्ठी में एंटीलिया केस में फंसे सचिन वाजे का जिक्र किया है। चिट्ठी में महाराष्ट्र के गृहमंत्री अनिल देशमुख पर आरोप लगाते हुए उन्होंने बताया है कि सचिन वाजे से 100 करोड़ रुपए हर महीने उगाही करने के लिए कहा गया था।

परमबीर ने अपनी चिट्ठी में बताया है कि गृह मंत्री ने वाजे को बताया कि मुंबई में लगभग 1750 बार, रेस्तरां और अन्य प्रतिष्ठान हैं। यदि प्रत्येक से 2 से 3 लाख रुपए कलेक्ट हर माल उगाही किए जाएं तो 40-50 करोड़ मिल जाएंगे। बाकी का कलेक्शन अन्य माध्यमों से किया जा सकता है।

Dhirendra
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned