नौकरशाही में बड़ा फेरबदल, केंद्र सरकार ने 18 IAS अधिकारियों को सौंपी नई जिम्मेदारियां

  • जल संसाधन, नदी विकास और गंगा कायाकल्प मंत्रालय के कामकाज में तेजी लाने की तैयारी।
  • आलोक कुमार को ऊर्जा मंत्रालय का सचिव नियुक्त।

 

 

नई दिल्ली। बजट सत्र से एक सप्ताह पहले केंद्र सरकार ने नौकरशाही में बड़े पैमाने पर फेरबदल किया है। इसका मकसद कुछ खास मंत्रालयों को काम की गति को तेज करना है। इस बात को ध्यान में रखते हुए केंद्र ने 18 अधिकारियों को नई जिम्मेदारियां सौंपी हैं।

उत्तर प्रदेश के आलोक टंडन और आलोक कुमार को केंद्र में बुलाया गया है। विभाग ने आईएएस अधिकारी आलोक टंडन को माइंस सचिव नियुक्त किया है।1986 बैच के आईएएस अधिकारी टंडन वर्तमान में अपने कैडर राज्य उत्तर प्रदेश में सेवारत हैं।

कार्मिक मंत्रालय की ओर से जारी शासनादेश के मुताबिक जल संसाधन, नदी विकास और गंगा कायाकल्प के तहत जल संसाधन विभाग के सचिव उपेंद्र प्रसाद सिंह को कपड़ा मंत्रालय में सचिव के रूप में नियुक्त किया गया है। उनके स्थान पर भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण के मुख्य कार्यकारी अधिकारी पंकज कुमार को जल संसाधन विभाग में सचिव नियुक्त किया गया है।

यूपी कैडर के वरिष्ठ नौकरशाह आलोक कुमार को ऊर्जा मंत्रालय का सचिव, जनजातीय मामलों के सचिव दीपक खांडेकर को सचिव डीओपीटी, पर्यटन सचिव की जिम्मेदारी संभाल रहे योगेंद्र त्रिपाठी को रसायन व पेट्रो रसायन विभाग में सचिव बनाया गया है। जीवी वेणुगोपाला सरमा को राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण में सदस्य सचिव पद से राष्ट्रीय प्राधिकरण से रासायनिक हथियार समझौता का चेयरमैन, एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया के चेयरमैन अरविंद सिंह को त्रिपाठी की जगह पर्यटन सचिव बनाया गया है। जबकि तमिलनाडु कैडर के ऑटम डे केंद्रीय सतर्कता आयोग के सचिव की जिम्मेदारी संभालेंगे।

Dhirendra
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned