scriptMamta asked the officials to be vigilant with Cyclone Yash | ममता बनर्जी ने चक्रवात यश से सतर्क रहने को उठाए जरूरी कदम, आधा दर्जन राज्यों में दिखेगा असर | Patrika News

ममता बनर्जी ने चक्रवात यश से सतर्क रहने को उठाए जरूरी कदम, आधा दर्जन राज्यों में दिखेगा असर

मौसम विभाग ने भविष्यवाणी की है कि सुपर साइक्लोन यश के 23 मई से 26 मई के बीच राज्य के सुंदरवन क्षेत्रों में दस्तक देने और संभवत: बांग्लादेश की ओर बढऩे की संभावना है।

नई दिल्ली

Updated: May 21, 2021 08:33:01 am

कोलकाता। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने गुरुवार को वरिष्ठ सरकारी अधिकारियों और जिला प्रशासन को 23 और 26 मई के बीच आने वाले चक्रवाती तूफान 'यश' से निपटने के लिए सभी जरूरी इंतजाम करने को कहा। क्षेत्रीय मौसम विभाग ने भविष्यवाणी की है कि सुपर साइक्लोन यश के 23 मई से 26 मई के बीच राज्य के सुंदरवन क्षेत्रों में दस्तक देने और संभवत: बांग्लादेश की ओर बढऩे की संभावना है। आपको बता दें कि इस चक्रवात का असर देश के आधा दर्जन पूर्वी राज्यों में देखने को मिल सकता है।

Mamta asked the officials to be vigilant with Cyclone Yaas
Mamta asked the officials to be vigilant with Cyclone Yaas

दवाओं और भोजन पर्याप्त स्टॉक रहे
राज्य और जिला प्रशासनिक अधिकारियों की एक आभासी बैठक की अध्यक्षता करते हुए ममता ने उन्हें दवाओं, पीने के पानी, सूखे भोजन और तिरपाल के पर्याप्त स्टॉक की व्यवस्था करने के लिए कहा। उन्होंने उनसे यह सुनिश्चित करने के लिए भी कहा कि राज्य आपदा प्रबंधन टीम और पुलिस दोनों की ओर से पर्याप्त बल क्षेत्र में तैनात किया गया है।

सभी डीएम को दी चेतावनी
एक अधिकारी ने कहा, सभी चक्रवात केंद्रों और आश्रयों को तैयार रहने के लिए कहा गया है। जिलाधिकारियों को चेतावनी के मद्देनजर सभी एहतियाती उपाय करने का निर्देश दिया गया है। जिला प्रशासन को मछुआरों को समुद्र में न जाने के लिए सावधान करने के लिए कहा गया है। कोलकाता नगर निगम (केएमसी) चक्रवात यश से निपटने के लिए सभी एहतियाती कदम उठा रहा है।

यह भी पढ़ेंः- Petrol Diesel Price Today : राजधानी दिल्ली में पेट्रोल पहुंचा 93 रुपए के पार, आज इतना हुआ इजाफा

बंगाल के साथ इन राज्यों में दिखेगा यश का असर
भारतीय मौसम विभाग के अनुसार बंगाल की खाड़ी में बन रहे यश चक्रवात से अंडमान और निकोबार के कई इलाकों में 22 और 23 मई को हल्की से मध्यम बारिश होने का अनुमान है। पश्चिम बंगाल और ओडि़शा के अधिकांश हिस्सों में 25 मई की शाम से हल्की से मध्यम बारिश की आशंका जताई गई है। चक्रवाती तूफान यश की तीव्रता दिन गुजरने के साथ बढ़ेगी। जानकारों की मानें तो असम, मेघालय से लेकर बिहार, झारखंड तक इसका असर देखने को मिल सकता है।

क्या है यश का मतलब
बंगाल की खाड़ी में उठने वाले चक्रवात का यश नाम ओमान ने रखा है, जिसका मतलब है निराशा। वास्तव में चक्रवात के नाम रोटेशन के आधार पर अलग-अलग देश द्वारा दिए जाते हैं। इसकी शुरुआत अटलांटिक क्षेत्र में साल 1953 की एक संधि के दौरान हुई थी। हिंद महासागर क्षेत्र के आठ देशों ने भारत की पहल पर साल 2004 से चक्रवातीय तूफानों को नाम देने की शुरुआत की। इन देशों में भारत, बांग्लादेश, पाकिस्तान, म्यांमार, मालदीव, श्रीलंका, ओमान के अलावा थाईलैंड शामिल हैं।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

किसी भी महीने की इन तीन तारीखों में जन्मे बच्चे होते हैं बेहद शार्प माइंड, लाइफ में करते हैं बड़ा कामपैदाइशी भाग्यशाली माने जाते हैं इन 3 राशियों के बच्चे, पिता की बदल देते हैं तकदीरइन राशि वालों पर देवी-देवताओं की मानी जाती है विशेष कृपा, भाग्य का भरपूर मिलता है साथ7 दिनों तक मीन राशि में साथ रहेंगे मंगल-शुक्र, इन राशियों के लोगों पर जमकर बरसेगी मां लक्ष्मी की कृपादो माह में शुरू होने वाला है जयपुर में एक और टर्मिनल रेलवे स्टेशन, कई ट्रेनें वहीं से होंगी शुरूपटवारी, गिरदावर और तहसीलदार कान खोलकर सुनले बदमाशी करोगे तो सस्पेंड करके यही टांग कर जाएंगेआम आदमी को राहत, अब सिर्फ कमर्शियल वाहनों को ही देना पड़ेगा टोल15 जून तक इन 3 राशि वालों के लिए बना रहेगा 'राज योग', सूर्य सी चमकेगी किस्मत!

बड़ी खबरें

IPL 2022 LSG vs KKR : डिकॉक-राहुल के तूफान में उड़ा केकेआर, कोलकाता को रोमांचक मुकाबले में 2 रनों से हरायानोट गिनने में लगीं कई मशीनें..नोट ढ़ोते-ढ़ोते छूटे पुलिस के पसीने, जानिए कहां मिला नोटों का ढेरपुलिस में मामला दर्ज, नाराज कांग्रेस विधायक का इस्तीफा, जानें क्या है पूरा मामलाडिकॉक-राहुल ने IPL में रचा इतिहास, तोड़ डाला वार्नर और बेयरेस्टो का 4 साल पुराना रिकॉर्डDelhi LG Resigned: दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल ने दिया इस्तीफा, निजी कारणों का दिया हवालाIndia-China Tension: पैंगोंग झील पर बॉर्डर के पास दूसरा पुल बना रहा चीन, सैटेलाइट इमेज से खुलासाWatch: टेक्सास के स्कूल में भारतीय अमेरिकी छात्र का दबाया गला, VIDEO देख भड़की जनताHeavy rain in bangalore: तेज बारिश से दो मजदूरों की मौत, मुख्यमंत्री ने की मुआवजे की घोषणा
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.