MSME Loan Process: लाखों युवाओं को दिया है रोजगार, आसानी से हासिल कर सकते हैं लोन

Highlights.

- अगर इस सेक्टर के जमे रहना है, तो आपको फंड की जरूरत होगी। आपके पास अपनी पूंजी नहीं है, तो आसानी से लोन भी हासिल कर सकते हैं

- यह लोन छोटे व मध्यम कारोबारियों के अलावा startups को भी मिल जाता है

- सरकार ने MSME Sector को लेकर गत जून में कुछ खास फैसले लिए। इसमें MSME की परिभाषा में बदलाव को मंजूरी दी गई

नई दिल्ली।

देश में सूक्ष्म, लघु और मध्यम आकार के उद्योग यानी MSME सेक्टर ने बदलते समय के साथ अपनी अहम पहचान बनाई है। जैसे-जैसे समय गुजरा, MSME sector की जीडीपी में हिस्सेदारी भी बढ़ी है। यही नहीं, MSME सेक्टर ने लाखों युवाओं को रोजगार भी दिया है।
अगर इस सेक्टर के जमे रहना है, तो आपको फंड की जरूरत होगी। आपके पास अपनी पूंजी नहीं है, तो आसानी से लोन भी हासिल कर सकते हैं। हम आपको बता रहे हैं कि लोन लेने की पूरी प्रक्रिया क्या है।

क्यों जरूरी है लोन-

MSME sector में ज्यादातर कम पूंजी वाले लोग होते हैं, इसलिए उन्हें लोन की जरूरत पड़ती है। यह लोन छोटे व मध्यम कारोबारियों के अलावा startups को भी मिल जाता है। हां, लोन चुकाने के लिए समय-सीमा अलग-अलग हो सकती है। इसके अलावा, ब्याज दर भी आवेदक की प्रोफाइल, कारोबार की स्थिति, पुराने लिए गए लोन को देखते हुए तय की जा सकती है। इस लोन के लिए बैंक या NBFC की शर्तें पूरी करनी होती है। MSME लोन के लिए आपको निम्न प्रक्रियाएं पूरी करना जरूरी हैं।

  • - आवेदक का नाम, आधार नंबर, दूसरी जरूरी जानकारी देनी होगी।
  • - इसके बाद OTP जेनरेट करना होगा, जो आपके आधार नंबर से लिंक मोबाइल नंबर पर आएगा।
  • - अब OTP दर्ज कर Submission पर क्लिक करें।
  • - इसके बाद एप्लीकेशन फॉर्म आएगा, इसमें सभी अनिवार्य जानकारियां भरें और तब Submit करें।
  • - इसके बाद मोबाइल नंबर पर एक और OTP आएगा।
  • - इस OTP को दर्ज करके एप्लीकेशन फॉर्म जमा करने के लिए Submit button पर क्लिक करें।
  • - यह प्रक्रिया पूरी होने पर आपको एक रजिस्ट्रेशन नंबर मिलेगा। इसे लिखकर रख लें।

ये दस्तावेज होंगे जरूरी -

  • - एपलिकेशन फॉर्म
  • - पहचान प्रमाण यानी Identification Proof के लिए पासपोर्ट, ड्राइविंग लाइसेंस, पैन कार्ड और वोटर आईडी
  • - निवास प्रमाण पत्र यानी Resident Proof के लिए पासपोर्ट, लीज एग्रीमेंट, टेलीफोन और बिजली बिल, ट्रेड लाइसेंस, राशन कार्ड और सेल्स टैक्स सर्टिफिकेट
  • - उम्र प्रमाण यानी Age Proof के लिए पासपोर्ट, मतदाता पहचान पत्र और फोटो पैन कार्ड
  • आय प्रमाण यानी Financial Proof के लिए 12 महीनों (अंतिम का बैंक स्टेटमेंट - कारोबार रजिस्ट्रेशन प्रमाण पत्र - प्रोपराइटर पैन कार्ड - कंपनी पैन कार्ड - 2 साल (अंतिम) प्रॉफिट एंड लॉस की बैलेंस शीट श, सेल्स टैक्स डॉक्युमेंट, सिटी टैक्स डॉक्युमेंट

कौन से बैंक देंगे MSME Loan :

  • - एसबीआई (SBI)
  • - एचडीएफसी बैंक (HDFC Bank)
  • - इलाहाबाद बैंक (Allahabad Bank)
  • - सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया (Central Bank of India)
  • - आईसीआईसीआई बैंक (ICICI Bank)
  • - ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स (Oriental Bank of Commerce)
  • - यूनियन बैंक ऑफ इंडिया (Union Bank of India)
  • - बजाज फिनसर्व (NBFC)

जून में लिए कुछ खास फैसले

सरकार ने MSME Sector को लेकर गत जून में कुछ खास फैसले लिए। बैठक हुई। इसमें MSME की परिभाषा में बदलाव को मंजूरी दी गई। मध्यम उद्यमों का टर्नओवर बढ़ाकर 250 करोड़ रुपये किया गया। 1 करोड़ रुपये के निवेश और 5 करोड़ रुपये के टर्नओवर वाले उद्यमों को सूक्ष्म उद्यम माना जाएगा। 10 करोड़ रुपये से कम के निवेश और 50 करोड़ रुपये से कम टर्नओवर वाले कारोबार को छोटे उद्यमों माने जाते हैं। वहीं, 50 करोड़ रुपये के निवेश और 250 करोड़ रुपये के कारोबार वाली इकाइयों को मध्यम उद्यम माना जाएगा।

Ashutosh Pathak
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned