हैदराबाद में निजी स्कूल प्रबंधकों के खिलाफ सड़कों पर उतरे अभिभावक, कहा - नहीं करने देंगे मनमानी

  • निजी स्कूलों के संचालक अपनी मनमर्जी चलाना चाहते हैं।
  • स्कूल प्रबंधक अभिभावकों की मजबूरी को समझें।

नई दिल्ली। एक तरफ देशभर में कोरोना वायरस का प्रकोप सबसे बड़ी चुनौती बनकर उभरा है तो दूसरी तरफ संकट की इस घड़ी में हैदराबाद के छात्रों के अभिभावक निजी स्कूल प्रबंधन के मनमाने रवैये के खिलाफ सड़क पर प्रदर्शन कर रहे हैं। इस मुद्दे पर शनिवार को हैदराबाद स्कूल पैरेंट्स एसोसिएशन ( HSPA ) से जुड़े अभिभावक स्कूल संचालकों द्वारा फीस के नाम पर लूट का विरोध करते हुए सड़कों पर उतरे और फीस में कटौती की मांग को लेकर प्रदर्शन किया।

निजी स्कूल संचालकों का रवैया ठीक नहीं

हैदराबाद स्कूल पैरेंट्स एसोसिएशन से जुड़े अभिभावकों का कहना है कि स्कूलों के संचालक चाहते हैं कि हमने जिन सेवाओं का लाभ नहीं उठाया उसका फीस भी छात्र जमा करें। अभिभावकों का कहना है कि स्कूल संचालकों का यह रवैया ठीक नहीं है। कोरोना महामारी काल में कई अभिभावकों ने अपनी नौकरी खो दी है। एक अभिभावक ने बताया स्कूल प्रबंधकों को अभिभावकों की मजबूरी को समझने की जरूरत है। बता दें कि कोरोना संकट की वजह से मार्च से स्कूल बंद पड़े हैं। इस दौरान आनलाइन क्लासेज के जरिए बच्चों को पढ़ाया जा रहा है।

Dhirendra
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned