भाजपा सांसद की कोविड से मौत, पार्टी में शोक की लहर, पीएम मोदी से लेकर इस नेताओं ने दी श्रद्घांजलि

भाजपा सांसद चौहान कोरोना पीडि़त थे, उनका भोपाल के अस्पताल में इलाज चला, हालत बिगडऩे पर उन्हें गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल ले जाया गया। यहीं पर इनका इलाज चल रहा था।

नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी के खंडवा से सांसद और मध्य प्रदेश इकाई के पूर्व अध्यक्ष नंदकुमार सिंह चौहान का लंबी बीमारी के बाद निधन हो गया। उनकी मौत के बाद देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शोक व्यक्त किया है। वहीं दूसरी ओर प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान व प्रदेशाध्यक्ष विष्णु दत्त शर्मा ने पूर्व अध्यक्ष के निधन पर शोक व्यक्त किया है। भाजपा सांसद चौहान कोरोना पीडि़त थे, उनका भोपाल के अस्पताल में इलाज चला, हालत बिगडऩे पर उन्हें गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल ले जाया गया। यहीं पर इनका इलाज चल रहा था। वे पिछले कुछ दिनों से वेंटिलेटर पर थे। 68 वर्षीय चौहान ने मंगलवार की सुबह अंतिम सांस ली।

पीएम मोदी जताया शोक
पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि खंडवा से लोकसभा सांसद नंदकुमार सिंह चौहान के निधन से वो काफी दुखी हैं। उन्हें मध्यप्रदेश में भाजपा को मजबूत करने के लिए संसदीय कार्यवाही, संगठनात्मक कौशल और प्रयासों में उनके योगदान के लिए याद किया जाएगा। उनके परिवार के प्रति संवेदना।

मध्यप्रदेश के सीएम ने जताया शोक
नंदकुमार सिंह चौहान के निधन पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने शोक व्यक्त करते हुए कहा कि, "लोकप्रिय जननेता नंदू भैया, हम सबको छोड़कर चले गये। हमारे सब प्रयास विफल हुए। नंदू भैया के रूप में भाजपा ने एक आदर्श कार्यकर्ता, कुशल संगठक, समर्पित जननेता को खो दिया। मैं व्यथित हूं। उन्होंने आगे कहा कि नंदू भैया का जाना मेरे लिए व्यक्तिगत क्षति है। प्रदेश अध्यक्ष के रूप में नंदू भैया ने अपना सर्वोत्कृष्ट योगदान दिया। नंदू भैया की पार्थिव देह आज उनके गृह ग्राम पहुंचेगी। कल हम सब उन्हें विदाई देंगे। मैं उनके चरणों में श्रद्धासुमन अर्पित करता हूं।

 

पूरे प्रदेश के नेता थे नंदकुमार चौहान
भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष शर्मा ने श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए कहा कि भाजपा के वरिष्ठ नेता और खंडवा के लोकप्रिय सांसद नंदकुमार चौहान जी के दुखद निधन से स्तब्ध हूं। उन्होंने भाजपा मध्य प्रदेश के अध्यक्ष के रूप में संगठन के विस्तार और कार्यकर्ताओं को गढऩे में अहम भूमिका निभाई थी। नंदू भैया छह बार सांसद, दो बार प्रदेश अध्यक्ष, दो बार विधायक एवं तीन बार नगर पालिका अध्यक्ष रहे। वो केवल खंडवा ही नहीं, बल्कि पूरे मध्य प्रदेश के लोकप्रिय नेता थे। उनकी सादगी, स्पष्टता, सौम्यता उनके व्यक्तित्व को अन्य से प्रथक बनाती थी। शर्मा ने आगे कहा कि उनका यूं अचानक जाना भाजपा परिवार ही नहीं बल्कि पूरे मध्यप्रदेश के लिए अपूरणीय क्षति है। ईश्वर से विनम्र प्रार्थना है कि उन्हें अपने श्रीचरणों में स्थान दें एवं शोकाकुल परिजनों को यह वज्रपात सहन करने का संबल दें।

PM Narendra Modi
Saurabh Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned