FICCI के सम्मेलन में राजनाथ सिंह बोले - कृषि क्षेत्र को कमजोर करने के लिए कदम उठाने का सवाल ही नहीं उठता

  • केंद्र सरकार ने कृषि सुधारों पर जोर दिया।
  • किसानों की आय को बढ़ाना हमारी प्राथमिकताओं में शामिल।
  • केंद्र सरकार बातचीत के लिए तैयार है।

नई दिल्ली। कृषि कानूनों के खिलाफ 19 दिनों से जारी आंदोलन के बीच देश के रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि केंद्र सरकार द्वारा किसानों की ताकत और कृषि क्षेत्र को कमजोर करने के लिए कदम उठाने का कोई सवाल ही नहीं उठता है। किसानों की आय को बढ़ाने के लिए कृषि क्षेत्र में सुधारों पर बल दिया गया है। हमारी सरकार हमेशा से भारत के किसानों के सर्वोत्तम हितों को ध्यान में रखती आई है।

गलतफहमी दूर करने का प्रयास जारी है

हमारी सरकार हमेशा अपने किसान भाइयों की बात सुनने के लिए तैयार रहती है। इसी का नतीजा है कि किेसानों के साथ कई राउंड की बातचीत हुई। हमने किसानों की मांगों को मानने को लेकर एक प्रस्ताव भी उनके पास भेजा है। आपसी गलतफहमी को दूर करने के लिए केंद्र का प्रयास अभी भी जारी है। हमने किसानों को वो आश्वासन दिया है जिसे हम पूरा कर सकते हैं। हमारी सरकार हमेशा चर्चा और बातचीत के लिए तैयार है।

मोदी सरकार के लिए कृषि प्राथमिकताओं वाले क्षेत्र में से एक है। यह एक ऐसा क्षेत्र रहा है जो महामारी के दुष्प्रभावों से बचने में खुद सक्षम रहा है। यह हमारी सरकार के लिए ही नहीं बल्कि किसी भी सरकार के लिए अच्छी स्थिति है।

Dhirendra
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned