Ram Mandir Bhoomi Poojan : पाकिस्तान की टिप्पणी पर MEA का बड़ा बयान, कहा - India के आंतरिक मामलों से दूर रहने की नसीहत दी

  • Ram Mandir Bhoomi Pujan पर पाकिस्तान का बयान भारत के आंतरिक मामलों में दखल है।
  • MEA का पलटवार - Pakistan अपने यहां अल्पसंख्यकों को धार्मिक अधिकारों से वंचित रखता है।
  • Ayodhya में बुधवार को राम मंदिर भूमि पूजन के साथ ही Ram Mandir Nirman का काम शुरू हो गया है।

नई दिल्ली। भारतीय विदेश मंत्रालय ( MEA India) ने गुरुवार को राम जन्मभूमि ( Ram Janambhoomi ) को लेकर पाकिस्तान ( Pakistan ) के बयान पर अफसोस जताया है। एमईए ( MEA ) ने कहा कि सीमा पार आतंकवाद में संलिप्त एक पड़ोसी देश से इससे बेहतर की अपेक्षा करना बेकार है। एमईए ने साफ कर दिया है कि पाकिस्तान का यह बयान भारत के आंतरिक मामलों ( Internal affairs ) में दखल है। यह भारत ( India ) में साम्प्रदायिकता ( Communalism ) को शह देने वाला है।

भारत के आंतरिक मामलों से देर रहे पाकिस्तान

भारतीय विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अनुराग श्रीवास्तव ( MEA spokesperson Anurag Gupta ) ने पाकिस्तान को भारत के मामलों में हस्तक्षेप करने से दूर रहने को भी कहा। हमने भारत के आंतरिक मामले पर इस्लामिक गणराज्य पाकिस्तान के बयान को देखा है। उसे पाकिस्तान भारत के मामलों में हस्तक्षेप करने से दूर रहना चाहिए और साम्प्रदायिक भावना भड़काने से बचना चाहिए। उन्होंने कहा कि ऐसी टिप्पणी निंदनीय है। ऐसा टिप्पणी वो कर रहा है जो अपने यहां अल्पसंख्यकों को धार्मिक अधिकारों से वंचित रखता है।

पाकिस्तान ने क्या कहा था?

इससे पहले पाकिस्तान ने Ram Mandir Bhommi Poojan पर कहा कि जहां बाबरी मस्जिद 5 सदियों से खड़ी थी। इसलिए वहां पर मंदिर बनाए जाने की वह निंदा करता है। इतना ही नहीं पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय के जनसंपर्क अधिकारी ने कहा है कि भारत के सुप्रीम कोर्ट ( Supreme Court ) के गलत फैसले की वजह से मंदिर निर्माण का रास्ता खुला है।

इमरान खान की सरकार में रेल मंत्री शेख रशीद ने मोदी सरकार की आलोचना करते हुए उन्हें सांप्रदायिक करार दिया है। रशीद ने कहा है कि भारत अब राम नगर हो गया है। वहां सेक्युलरिज्म ( Secularism ) नहीं रहा।

बता दें कि इससे पहले जब अयोध्या राम जन्मभूमि मामले में सुप्रीम कोर्ट का फैसला राम मंदिर के पक्ष में आया था तब भी रशीद ने कुछ इसी तरह की प्रतिक्रिया दी थी। तब रशीद ने कहा था कि भारत में अब हिंदूवादी ताकतें हावी हो गई हैं।

बता दें कि लंबे कानूनी संघर्ष के बाद सुप्रीम कोर्ट ने फैसला राम जन्मभूमि के पक्ष में देते हुए राम मंदिर का मार्ग प्रशस्त किया था। बुधवार को अयोध्या में पीएम नरेंद्र मोदी द्वारा भूमि पूजन के साथ ही राम मंदिर निर्माण का काम आधिकारिक रूप से शुरू हो गया है।

pm modi
Show More
Dhirendra
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned