रविशंकर प्रसाद बोले, कृषि कानून के फायदों को लेकर किसानों को करेंगे जागरूक

Highlights

  • किसानों का कहना कि इन तीन नए कानून को रद्द करा जाए।
  • कहा, प्रदर्शनकारी बिना जानकारी के सिर्फ कानूनों का विरोध करने में लगे हैं।

नई दिल्ली। पंजाब और हरियाणा समेत देश के कई राज्यों के किसान नए कृषि कानूनों को हटाने की मांग कर रहे हैं। किसानों का कहना कि इन तीन नए कानून को रद्द करा जाए। इसे लेकर बीते दिनों केंद्र सरकार और किसानों के बीच कई दौर की वार्ता हो चुकी है।

वहीं केंद्रीय कानून मंत्री रवि शंकर प्रसाद के अनुसार जो लोग आज कृषि कानूनों का विरोध कर रहे हैं, वे सिर्फ कानूनों का विरोध करने के लिए कर रहे हैं। उन्हें स्वयं पहले इन सुधारों की आवश्यकता को पहचाना होगा। हम लोगों को जागरूक करेंगे कि किसानों के लिए कृषि कानून कैसे फायदेमंद होंगे।

वहीं, इसके पहले केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकरर सरकार के बीच बातचीत के लिए दरवाजे खुले हैं। जावड़ेकर का कहना है कि किसानों के विरोध को लेकर परिस्थितियों पर कड़ी नजर रख रहे हैं। प्रदर्शकारियों का कहना है कि अपनी मांगों को लेकर राजस्थान, पंजाब और हरियाणा से सबसे अधिक किसान आ रहे हैं।

Mohit Saxena
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned