किसानों की मांगों को लेकर आरएलपी ने एनडीए से नाता तोड़ा, हनुमान बेनीवाल का ऐलान

Highlights

  • राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी (आरएलपी) ने एनडीए का दामन छोड़ दिया है।
  • पार्टी के संयोजक और नागौर से सांसद हनुमान बेनीवाल ने इसकी घोषणा की।

नई दिल्ली। किसानों आंदोलन को लेकर राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन को एक और तगड़ा झटका लगा है। राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी (आरएलपी) ने एनडीए का दामन छोड़ दिया है। पार्टी के संयोजक और नागौर से सांसद हनुमान बेनीवाल ने इसका ऐलान किया है।

गौरतलब है कि बीते दिनों बेनीवाल ने किसान आंदोलन के समर्थन किया। इसके कारण 26 दिसंबर को 2 लाख किसानों को राजस्थान से दिल्ली कूच करने का ऐलान किया था।

गौरतलब है कि किसान आंदोलन को लेकर एनडीए के सहयोगी दल अकाली दल ने भी उसका साथ छोड़ दिया था। एनडीए के सभी सहयोगी दलों में भाजपा सबसे बड़ी पार्टी है। वह लगातार किसानों को कृषि कानून के लाभ के बारे में समझा रही है। वहीं दूसरी ओर दिल्ली सिंघू बॉर्डर पर बीते कई दिनों से किसान आंदोलन कर रहे हैं।

इससे पहले बेनीवाल का कहना था कि नरेंद्र मोदी सरकार के पास 303 सांसद हैं जिस वजह से वह कृषि कानूनों को वापस नहीं ले रही है।

Mohit Saxena
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned