मुंबईः कोर्ट में बैठे जज को सांप ने डसा, मची अफरातफरी

मुंबईः कोर्ट में बैठे जज को सांप ने डसा, मची अफरातफरी

Amit Kumar Bajpai | Publish: Sep, 05 2018 11:19:39 AM (IST) | Updated: Sep, 05 2018 11:29:08 AM (IST) इंडिया की अन्‍य खबरें

महाराष्ट्र के नवी मुंबई में एक अदालत के चैंबर एक सांप ने जज को ही काट लिया और इससे अफरातफरी मच गई। जज को नजदीकी अस्पताल में भर्ती कराया गया।

मुंबई। महाराष्ट्र के नवी मुंबई में एक अदालत के चैंबर एक सांप ने जज को ही काट लिया और इससे अफरातफरी मच गई। हालांकि अच्छा यह रहा कि जज को डसने वाला सांप जहरीला नहीं था। जज को सांप के काटे जाने की जानकारी मिलते ही कोर्ट में मचे हड़कंप के दौरान ही जल्द जज को नजदीकी अस्पताल में भर्ती कराया गया। जबकि सांप को ढूंढ़कर पकड़ने के बाद दूसरी जगह ले जाकर छोड़ा गया।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक मंगलवार सुबह बंदर रोड स्थित पनवेल कोर्ट में जुडिशल मजिस्ट्रेट फर्स्ट क्लास (जेएमएफसी) अपने चैंबर में बैठे हुए थे। इसी दौरान रैट स्नेक प्रजाति के एक सांप ने उन्हें काट लिया। आम बोलचाल में इसे धामन सांप के रूप में पुकारा जाता है।

आंध्र प्रदेश में 'नागराज' का प्रकोप, सरकारी विभाग कराएगा 'सांप शांति हवन'

इस संबंध में पनवेल बार एसोसिएशन के अध्यक्ष एडवोकेट मनोज भुजबल ने बताया, "मंगलवार सुबह करीब 11.30 बजे बिना जहर वाले एक सांप ने जेएमएफसी सीपी काशिद के दाएं हाथ में काट लिया। इसके बाद जज को पनवेल के सब-डिविजनल अस्पताल में ले जाया गया। बाद में यहां से उन्हें ओल्ड पनवेल के गांधी अस्पताल रेफर कर दिया गया। उसी दिन शाम को अस्पताल से उन्हें छुट्टी दे दी गई।"

 

snake

उधर, इस घटना के बाद कोर्ट प्रशासन ने एक सांप पकड़ने वाले को कोर्ट चैंबर में बुलाया। संपेरे ने सांप को पकड़ने के बाद उसे उसके प्राकृतिक आवास स्थान पर छोड़ दिया। पनवेल सब-डिविजनल अस्पताल के मेडिकल सुपरिंटेंडेंट डॉ. नागपाल येम्पले ने बताया, "जज इलाज कराने के लिए यहां आए थे लेकिन बाद में उन्हें किसी दूसरे अस्पताल ले जाया गया।"

घटना की जानकारी मिलने के बाद उक्त जज से मिलने पहुंचे पनवेल के सीनियर इंस्पेक्टर विनोद चव्हाण ने कहा, "इस बारे में फिलहाल कोई शिकायत नहीं दर्ज कराई गई। लेकिन जब मुझे पता चला कि जज को सांप ने काट लिया है, तो मैं अनौपचारिक रूप से उनका हाल जानने के लिए मुलाकात करने पहुंच गया।"

बाढ़ प्रभावित केरल में अब फैला 'नागराज' का डर, अस्पतालों से कहा गया तैयार रहने को

बताया जा रहा है कि यह घटना कोर्ट नंबर 2 की है। इस अदालत की इमारत काफी पुरानी हो चुकी है। हाल ही में अदालत के एक हिस्से को अशोक बाग स्थित नई इमारत में स्थानांतरित कर दिया गया है। अदात परिसर का पिछला हिस्सा खुला हुआ है।

Ad Block is Banned