scriptSocial media viral video stone pelting on bihar cm nitish kumar convoy | पत्रिका फैक्ट चेक: क्या सच में लॉकडाउन के दौरान सीएम नीतीश के काफिले पर हुआ पथराव, जानें सच्चाई? | Patrika News

पत्रिका फैक्ट चेक: क्या सच में लॉकडाउन के दौरान सीएम नीतीश के काफिले पर हुआ पथराव, जानें सच्चाई?

दावा किया जा रहा है कि लॉकडाउन के दौरान बिहार के लोग मुख्यमंत्री नीतीश कुमार द्वारा अच्छी व्यवस्था नहीं होने से खासे नाराज हैं और लगातार उनका विरोध कर रहे हैं।

नई दिल्ली

Updated: May 16, 2020 01:58:01 pm

नई दिल्ली। कोरोना वायरस को लेकर सोशल मीडिया पर कई तरह की झूठी और गलत खबरें फैलाई जा रही है। ऐसा ही एक वीडियो सोशल मीडिया पर इस समय वायरल हो रहा है। सियासी दल के एक काफिले पर पत्थरबाजी का वीडियो वायरल हो रहा है। दावा किया जा रहा है कि लॉकडाउन के दौरान बिहार के लोग मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की नीति और नियमों के खिलाफ खासे नाराज हैं और लगातार उनका विरोध कर रहे हैं।

Fact checking
पत्रिका फैक्ट चेक: क्या सच में लॉकडाउन के दौरान सीएम नीतीश के काफिले पर किया गया पथराव, जानें सच्चाई

दावा- नीतीश कुमार के काफिले पर पत्थरबाजी

तथ्य- पुराना वीडियो को लॉकडाउन से जोड़कर दिखाया जा रहा

वायरल वीडियो में क्या है ?

सोशल प्लेटफॉर्म फेसबुक पर यह वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है। राजद युवा नेता प्रेम पवन यादव ने अपने फेसबुक पेज पर यह वीडियो शेयर किया है। वीडियो पोस्ट में लिखा गया है, “ये हैं हमारे बिहार के मुख्यमंत्री और भाजपा संघी नीतीश कुमार जो जगह-जगह पत्थर खाते घूम रहे हैं, और जनता को नैतिकता की पाठ पढ़ा रहे हैं, यह इसी लाइक हैं जनता भूखे मर रही है यह साहब AC में हवा खा रहे हैं इनके साथ जो हुआ क्या अच्छा हुआ।” 2 मिनट 30 सेकेंड के वीडियो में साफ तौर से देखा जा रहा है कि बहुत सारी गाड़ियां एक गांव से गुजर रही हैं। इसी दौरान कुछ लोग काफिले में शामिल पुलिस की जीप पर पत्थरबाजी शुरू कर देते हैं। हालांकि वहां मौजूद लोग रोकने का प्रयास करते हैं। लेकिन ग्रामीण बेहद उग्र होकर ईंट पत्थर चलाते हुए दिखाई देते हैं।

ये भी पढ़ें: पत्रिका फैक्ट चेक: श्रम मंत्रालय में तीन दशक तक काम करने वाले श्रमिकों को मिलेगी आर्थिक मदद !, जानिए सच्चाई

क्या है वायरल वीडियो की सच्चाई?

पत्रिका फैक्ट चेक टीम ने जब इस वीडियो की पड़ताल की तो पता चला कि यह वीडियो 2 साल पुराना है। पत्रिका चेक टीम ने इस खबर को गूगल पर सर्च किया जिसमें यह खबर 2018 में प्रकाशित और प्रसारित की गई है। उस वक्त नीतीश कुमार बिहार विकास यात्रा की समीक्षा कर रहे थे। सरकार के विकास यात्राओं की समीक्षा के लिए वह 13 जनवरी 2018 को नीतीश कुमार बक्सर जिला के नंदन गांव पहुंचे थे। लोगों ने गांव में विकास नहीं होने को लेकर नीतीश से मुआयना करने की अपील की लेकिन अधिकारियों द्वारा कम समय का हवाला देकर निरीक्षण करने से इनकार कर दिया गया और काफिला आगे बढ़ने लगा। इसी दौरान कुछ लोगों ने उस काफिले पर हमला बोल दिया।

हालांकि नीतीश कुमार की गाड़ी आगे थी। पुलिस की एक गाड़ी पर लोगों ने ईंट और पत्थर फेंकने शुरू कर दिए थे। जवाब में पुलिस के जवानों ने भी पत्थरबाजी की। साथ ही कुछ लोगों की पिटाई की। इस घटना में पुलिस वालों को भी चोटें आईं। इससे साफ है कि लॉकडाउन के दौरान इस तरह की कोई हरकत नहीं हुई है। पत्रिका आपसे अपील करता है कि इस तरह की खबरों पर बिलकुल ध्यान नहीं दें।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

मौसम अलर्ट: जल्द दस्तक देगा मानसून, राजस्थान के 7 जिलों में होगी बारिशइन 4 राशियों के लोग होते हैं सबसे ज्यादा बुद्धिमान, देखें क्या आपकी राशि भी है इसमें शामिलस्कूलों में तीन दिन की छुट्टी, जानिये क्यों बंद रहेंगे स्कूल, जारी हो गया आदेश1 जुलाई से बदल जाएगा इंदौरी खान-पान का तरीका, जानिये क्यों हो रहा है ये बड़ा बदलावNumerology: इस मूलांक वालों के पास धन की नहीं होती कमी, स्वभाव से होते हैं थोड़े घमंडीबुध जल्द अपनी स्वराशि मिथुन में करेंगे प्रवेश, जानें किन राशि वालों का होगा भाग्योदयमोदी सरकार ने एलपीजी गैस सिलेण्डर पर दिया चुपके से तगड़ा झटकाजयपुर में रात 8 बजते ही घर में आ जाते है 40-50 सांप, कमरे में दुबक जाता है परिवार

बड़ी खबरें

Maharashtra Political Crisis: एकनाथ शिंदे की याचिका पर SC ने डिप्टी स्पीकर, महाराष्ट्र पुलिस और केंद्र को भेजा नोटिस, 5 दिन के भीतर जवाब मांगाMaharashtra Political Crisis: सुप्रीम कोर्ट से शिंदे खेमे को मिली राहत, अब 12 जुलाई तक दे सकते है डिप्टी स्पीकर के अयोग्यता नोटिस का जवाबMaharashtra Political Crisis: क्या महाराष्ट्र में दो-तीन दिनों में सरकार बना लेगी बीजेपी? यहां पढ़ें पूरा समीकरणPresidential Election: यशवंत सिन्हा ने भरा नामांकन, राहुल गांधी-शरद पवार समेत विपक्ष के कई बड़े नेता मौजूदPunjab Budget 2022: 1 जुलाई से फ्री बिजली; यहां पढ़ें पंजाब सरकार के पहले बजट में क्या-क्या है खासपटना विश्वविद्यालय के हॉस्टलों में छापेमारी, मिला बम बनाने का सामानMumbai News Live Updates: शिवसेना नेता आदित्य ठाकरे का बड़ा बयान, कहा- ये राजनीति नहीं है, ये अब सर्कस बन गया हैMaharashtra: ईडी के समन पर संजय राउत ने कसा तंज, बोले-ये मुझे रोकने की साजिश, हम बालासाहेब के शिवसैनिक
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.