सुप्रीम कोर्ट का बड़ा एक्शन, अब Mirzapur वेब सीरीज के निर्माताओं को जारी किया नोटिस

  • तांडव के बाद अब Mirzapur वेब सीरीज को लेकर बड़ा एक्शन
  • सुप्रीम कोर्ट ने मिर्जापुर के मेकर्स को भेजा नोटिस
  • मिर्जापुर की छवि को गलत ढंग से पेश करने का आरोप

नई दिल्ली। ओटीटी प्लेफॉर्म पर आ रही वेब सीरीजों को लेकर विवाद लगातार बढ़ रहा है। पहले तांडव ( Tandav ) और अब मिर्जापुर ( Mirzapur ) को लेकर भी बड़ी खबर सामने आई है। सुप्रीम कोर्ट ( Supreme Court ) ने मिर्जापुर वेब सीरीज के निर्माताओं और अमेजन प्राइव वीडियो को नोटिस जारी कर जवाब मांगा है।

शीर्ष अदालत ने यूपी के मिर्जापुर जिले की गलत तस्वीर पेश करने के आरोप पर मेकर्स और प्रोड्यूसर्स को नोटिस जारी किया है। वहीं इसे प्रसारित करने वाले ओटीटी प्लेटफॉर्म अमेजन प्राइम वीडियो को भी तलब किया गया है।

वेब सीरीज तांडव को लेकर गर्माई सियासत, अब शिवसेना ने विरोध कर रही बीजेपी को लेकर कह डाली इतनी बड़ी बात

वेब सीरीज मिर्जापुर के खिलाफ यह कहते हुए सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की गई थी कि इसमें जिले का गलत चित्रण किया गया है और इससे छवि खराब हुई है।

साथ इस वेब सीरीज में हकीकत से परे चीजें दिखाई गई हैं और मिर्जापुर की छवि ऐसी नहीं है, जैसा दिखाया गया है।

वेब सीरीज के चलते नहीं मिली नौकरी
आपको बता दें कि हाल ही में एक ऐसा केस भी सामने आया था, जिसमें युवक को इंटरव्यू से अपमानित करके निकाल दिया गया था क्योंकि वह मिर्जापुर जिले का रहने वाला था।

दरअसल तांडव के अलावा मिर्जापुर वेब सीरीज के भी दोनों सीजन अमेजन प्राइम वीडियो पर ही रिलीज हुए हैं। इस सीरीज में मिर्जापुर जिले की राजनीति में हिंसा के प्रभाव को दिखाया गया है।

गणतंत्र दिवस को लेकर केंद्र सरकार ने जारी किए सख्त निर्देश, जानिए किन चीजों को लेकर गृह मंत्रालय की एडवाइजरी में की गई मनाही

तांडव वेब सीरीज में हिंदू देवताओं पर कथित आपत्तिजनक टिप्पणियों के खिलाफ विरोध जताया गया था। सोशल मीडिया पर आपत्तियां जताए जाने के बाद सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय की ओर से मेकर्स को नोटिस जारी किया गया।

इस वेब सीरीज के डायरेक्टर अली अब्बास जफर ने माफी मांगी थी। यही नहीं अब इस वेब सीरीज से उन सीन्स को हटा भी दिया गया है, जिन्हें लेकर आपत्ति जताई गई थी।

धीरज शर्मा
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned