तेलंगाना में लॉकडाउन बढ़ाने पर सीएम केसीआर लेंगे फैसला, ओवैसी ने किया विरोध

कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच तेलंगाना सरकार लॉकडाउन के मुद्दे पर अलग-अलग विकल्प तलाश रही है। वहीं, लॉकडाउन बढ़ाने के फैसले से पहले हैदराबाद से लोकसभा सांसद और एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने कड़ा विरोध किया है।

हैदराबाद। कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों के बीच तेलंगाना में लॉकडाउन बढ़ाने को लेकर आज (रविवार, 30 मई) को सरकार फैसला लेगी। लेकिन लॉकडाउन बढ़ाने के फैसले से पहले ही सियासत शुरू हो गई है। एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने लॉकडाउन बढ़ाए जाने को लेकर विरोध जताया है।

दरअसल, तेलंगाना के मुख्यमंत्री के. चंद्रशेखर राव (केसीआर) रविवार दोपहर 2 बजे से लॉकडाउन के विस्तार और कई अन्य मुद्दों पर चर्चा करने के लिए कैबिनेट की बैठक कर रहे हैं। अभी तक बैठक में यह तय नहीं किया गया है कि लॉकडाउन बढ़ेगा या नहीं। हालांकि, सरकार लॉकडाउन के मुद्दे पर अलग-अलग विकल्प तलाश रही है। वहीं, फैसले से पहले हैदराबाद से लोकसभा सांसद और एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने कड़ा विरोध किया है।

बता दें कि राज्य के लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग ने अपनी रिपोर्ट सरकार को सौंप दी है, जिसके आधार पर सीएम केसीआर निर्णय लेंगे। उच्च न्यायालय के निर्देश पर, तेलंगाना सरकार ने, COVID-19 की दूसरी लहर के प्रसार को रोकने के लिए, 12 मई से शुरू होने वाले दस दिनों के लिए लॉकडाउन की थी।

ओवैसी ने जताया विरोध

तेलंगाना में लॉकडाउन बढ़ाए जाने के फैसले का विरोध किया है। उन्होंने एक के बाद एक पांच ट्वीट करते हुए तेलंगाना सरकार पर निशाना साधा है। ओवैसी ने लिखा कि लॉकडाउन से गरीबों का जीवन बर्बाद हो रहा है। जैसा की आंकड़ों से पता चलता है कि 12 मई को लॉकडाउन लागू होने से पहले ही COVID के मामले बहुत कम हो रहे थे। ऐसे में इससे स्पष्ट है कि कोरोना के मामलों को रोकने में लॉकडाउन मददगार नहीं है।

उन्होंने आगे कहा कि लॉकडाउन के बिना COVID का मुकाबला किया जा सकता है। ओवैसी ने मुख्यमंत्री केसीआर से शाम 6 बजे से प्रतिबंध लगाने का आग्रह किया है। उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा कि लॉकडाउन का विस्तार न करें, बल्कि यदि भीड़ को कम करना है तो हम शाम के कर्फ्यू (शाम 6 बजे के बाद) या COVID समूहों के लिए मिनी-लॉकडाउन पर विचार कर सकते हैं। लेकिन करीब 3.5 करोड़ लोगों से सिर्फ 4 घंटे की लॉकडाउन छूट के साथ हफ्तों तक जीने की उम्मीद करना बिल्कुल भी उचित नहीं है।

Anil Kumar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned