Today History 11 May: भारत ने रचा था इतिहास, सफल पोखरण परमाणु परीक्षण का किया ऐलान

Today History 11 May भारत ने अमरीका की नाक के नीचे Pokhran में किया परमाणु परीक्षण का ऐलान, रच दिया था इतिहास

नई दिल्ली। भारत में 11 मई का दिन काफी अहम है। इतिहास ( Today History 11 May ) में इस दिन कई बड़ी घटनाएं हुई हैं। साल के इस 131वें दिन के नाम पर बहुत सी घटनाएं दर्ज हैं। लेकिन सबसे ज्यादा जिस घटना को याद किया जाता है वो है राजस्थान ( Rajasthan ) के पोखरण ( Pokhran ) में परमाणु परीक्षण ( Nuclear Test ) का ऐलान।

यह दिन देश के इतिहास में एक और खास घटना के साथ दर्ज है। वर्ष 2000 में 11 मई के ही दिन भारत की आबादी ने एक अरब का आंकड़ा छू लिया, जब नयी दिल्ली में जन्मी एक बच्ची को देश का एक अरबवां नागरिक करार दिया गया।

यह भी पढ़ेँः Good News: देश में अब सस्ती मिलेगी कोरोना की दवा, जानिए कैसे सबको मिलेगा फायदा

तात्कालीन प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के शासनकाल में 11 मई 1998 को भारत ने ऐसा कारनामा कर दिखाया जिससे पूरी दुनिया दंग रह गई।

भारत ने पोखरण फील्ड फायरिंग रेंज में खेतोलाई गांव के पास कुल पांच परमाणु परीक्षण किए। खास बात यह है कि इस पूरे परीक्षण को इतने गुपचुप तरीके से किया गया कि पूरी दुनिया के परमाणु संयंत्रों और सैन्य गतिविधियों पर सैटेलाइट से निगरानी करने वाला अमरीका भी दंग रह गया था।

ये बोले अटल बिहारी वाजपेयी
इन सफल परीक्षणों के बाद तात्कालीन प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी ने कहा- 'आज, 15.45 बजे भारत ने पोखरण रेंज में अंडरग्राउड न्यूक्लियर टेस्ट किया'।

अटल खुद धमाके वाली जगह पर गए थे। पूर्व राष्ट्रपति एपीजे अब्दुल कलाम ने टेस्ट के सफल होने की घोषणा की थी।

बाद में कलाम ने एक इंटरव्यू में बताया था कि उस समय भारत पर अंतरराष्ट्रीय दबाव काफी ज्यादा था, लेकिन तत्कालीन पीएम वाजपेयी ने तय किया था कि वह आगे बढ़कर परीक्षण करेंगे। आपको बता दें कि र्व राष्ट्रपति डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम की अगुआई में मिशन को अंजाम दिया गया था।

नेशनल टेक्नोलॉजी डे तौर पर मनाया जाता है
इस सफल परीक्ष के साथ ही भारत एक परमाणु ताकत बना। वाजपेयी ने नारा दिया था- जय जवान, जय किसान और जय विज्ञान। इसी वजह से इस दिन को हर साल नेशनल टेक्नोलॉजी डे के तौर पर मनाया जाता है।

आपको बता दें कि अमरीकी खुफिया एजेंसी सीआईए ( CIA ) भारत पर नजर रखे हुए थी और उसने पोखरण पर निगरानी रखने के लिए 4 सैटलाइट लगाए थे। बावजूद इसके भारत ने सीआईए और उसके सैटलाइटों को चकमा देने की योजना बनाई और इसे सफलतापूर्वक अंजाम भी दिया।

यह भी पढ़ेँः कोरोना नहीं अब इस वजह से जा रही संक्रमितों की जान, आंध्र प्रदेश के तिरुपति में बड़े हादसे के बाद मचा हड़कंप

देश और दुनिया में 11 मई की प्रमुख घटनाएं
2020 : देश में कोरोना से संक्रमित लोगों की कुल संख्या 67,152 पर पहुंची। मरने वालों का आंकड़ा 2,206 को पार कर गया।

2008: में न्यूयॉर्क के कॉर्नेल विश्वविद्यालय के वैज्ञानिकों ने देश का पहला जेनेटिकली मोडिफाइड मानव भ्रूण तैयार किया था
2000: में पापुलेशन वॉच के मुताबिक भारत की जनसंख्या एक अरब पार पहुंची थी।
1998: यूरोप की एकल मुद्रा यूरो का पहला सिक्का बनाया गया था।
1995: अमरीका के न्यूयार्क शहर में 170 से अधिक देशों ने परमाणु अप्रसार संधि पर हस्ताक्षर किए थे।
1988: आज के ही दिन फ्रांस ने परमाणु परीक्षण किया था।
1965: बांग्लादेश 11 मई को आए चक्रवाती तूफान में 17 हजार लोगों की मौत हो गई थी।
1951: राष्ट्रपति राजेन्द्र प्रसाद ने नवनिर्मित सोमनाथ मंदिर का उद्घाटन किया था।
1833: अमरीका से क्यूबेक जा रहे जहाज लेडी ऑफ द लेक के हिमखंड से टकराकर अटलांटिक महासागर में डूबने से 215 लोगों की मौत हो गई थी।
1784 : अंग्रेजों और मैसूर के शासक टीपू सुल्तान के बीच संधि।

धीरज शर्मा
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned