North East Delhi Violence: पिंजरा तोड़ संगठन की दो लड़कियां गिरफ्तार, जाफराबाद में दंगा भड़काने का आरोप

  • North East Delhi Violence: दिल्ली पुलिस ( Delhi Police ) ने दो लड़कियों को किया गिरफ्तार
  • जाफरावाद ( Jafarabad ) में हिंसा भड़काने का आरोप
  • पिंजरा तोड़ संगठन ( Pinjra Tod Organisation ) की सदस्य हैं दोनों लड़कियां

नई दिल्ली। कोरोना वायरस ( coronavirus ) संकट के बीच उत्तर-पूर्वी ( North East ) दिल्ली हिंसा ( Delhi Violence ) मामले में पुलिस ( Delhi Police ) ने दो लड़कियों को गिरफ्तार किया है। ये दोनों लड़कियां पिंजरा तोड़ संगठन ( Pinjra Tod Organisation ) की सदस्य बताई जा रही हैं। फिलहाल पुलिस दोनों लड़कियों से पूछताछ कर रही है।

जानकारी के मुताबिक, इन दोनों लड़कियों के नाम नताशा ( Natasha ) और देवांगना ( Devangana ) हैं। इन दोनों लड़कियों पर जाफराबाद ( Jafarabad ) मेट्रो स्टेशन पर भीड़ इकट्ठा करने और दंगा भड़काने का आरोप है। पुलिस का कहना है कि नागरिकता संशोधन कानून ( CAA ) के खिलाफ इन दोनों लड़कियों ने भीड़ इकट्ठा किया था, जिसके बाद दंगा भड़क गया था। इसी मामले में दोनों लड़कियों को दिल्ली पुलिस ने गिरफ्तार किया है। यहां आपको बता दें कि उत्तर-पूर्वी दिल्ली दंगा मामले में दिल्ली पुलिस पहले भी कई गिरफ्तारियां कर चुकी है।

यहां आपको बता दें कि पिछले महीने जामिया मिल्लिया इस्लामिया ( jamia millia islamia ) के पूर्व छात्र संगठन के अध्यक्ष शिफा-उर-रहमान को भी दंगा भड़काने के आरोप में गिरफ्तार किया गया था। अध्यक्ष को UAPA के तहत गिरफ्तार किया गया था। अधिकारियों का कहना है कि शिफा-उर-रहमान जामिया समन्वय समिति का सदस्य भी है और दंगा भड़काने का आरोपी भी है। पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी का कहना था कि पूर्व अध्यक्ष के खिलाफ तकनीकी साक्ष्य थे, जिससे साफ पता चलता है कि दंगा फैलान के लिए उसने भीड़ को उकसाया था। CCTV फुटेज में भी वह दिखा था। इसके अलावा मोबाइल के जरिए भी उसके बारे में कई जानकारी मिली थी। यहां आपको बता दें कि CAA के खिलाफ उत्तर-पूर्व दिल्ली में भड़की हिंसा के कारण काफी जान-माल का नुकसान हुआ था।

Kaushlendra Pathak
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned