हो जाए सावधान, ‘मेक इन इंडिया’ का Logo लगाकर बेचा जा रहा है बेकार Mask, हो सकता है खतरनाक

Highlights
- कुछ उपद्रवी इस कोरोना काल का फायदा उठाते हुए गैर कानूनी काम कर रहे हैं
- ताजा मामला चंडीगढ़ (Coronavirus in Chandigarh) में सामने आया है
- जहां खादी के नाम पर नकली मास्क (Fake Mask) बेचने और सोशल मीडिया (Social Media) पर उसके विज्ञापन के मामले को गंभीरता से लेते हुए खादी ग्राम उद्योग आयोग (Khadi Village Industries Commission) ने सोमवार को चंडीगढ़ निवासी के खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज कराई


नई दिल्ली. भारत में कोरोना वायरस (Coronavirus in India) के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं। इसको देखते हुए कई देशों ने कोरोना वायरस (Coronavirus Outbreak) से सुरक्षित रहने के लिए लोगों को घर से न निकलने व मुंह पर मास्क (Mask) लगाने की सलाह दे रहे हैं। आज मास्क हामरे जीवन का एक महत्वपूर्ण हिस्सा हो चुका है। वहीं कुछ उपद्रवी इस कोरोना काल का फायदा उठाते हुए गैर कानूनी काम कर रहे हैं।

ताजा मामला चंडीगढ़ (Coronavirus in Chandigarh) में सामने आया है, जहां खादी के नाम पर नकली मास्क (Fake Mask) बेचने और सोशल मीडिया (Social Media) पर उसके विज्ञापन के मामले को गंभीरता से लेते हुए खादी ग्राम उद्योग आयोग (Khadi Village Industries Commission) ने सोमवार को चंडीगढ़ निवासी के खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज कराई।

गैरकानूनी तरीके से बेचा दा रहा था मास्क

चंडीगढ़ के एसएसपी (SSP of Chandigarh) को दी शिकायत में आयोग ने कहा है कि खुशबू नाम की महिला गैरकानूनी तरीके से मास्क को खादी का बताकर बेच रही थी।

‘मेक इन इंडिया’ का झूठा लोगो

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तस्वीर वाले मास्क पर खादी का लोगो और ‘मेक इन इंडिया’ (Make in India) व ‘वोकल फॉर लोकल’ (Vocal for Local) छपे होने से महिला झूठा भ्रम फैला रही थी कि उसकी वेबसाइट को खादी उत्पाद बेचने के लिए अधिकृत किया गया है।

होगी सख्त कार्रवाई

खादी ग्राम उद्योग आयोग के चेयरमैन विनय कुमार सक्सेना (Vinay Kumar Saxena, Chairman, Khadi Village Industries Commission) ने कहा कि हम खादी के नाम का दुरुपयोग करने वाले किसी व्यक्ति को नहीं बख्शेंगे। उन सबके खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

गौरतलब है कि चंडीगढ़ में कोरोना वायरस के सोमवार को शहर में कुल 23 नए कोरोना पॉजिटिव मामले दर्ज किए गए। इसके अलावा चार कोरोना संक्रमित मरीजों को ठीक होने के बाद डिस्चार्ज किया गया। शहर में अभी तक 910 लोगों में कोरोना वायरस की पुष्टि हो चुकी है। इसके अलावा शहर में 575 कोरोना संक्रमित मरीज ठीक होने के बाद डिस्चार्ज किए जा चुके हैं। शहर में कोरोना एक्टिव मरीजों की संख्या 321 हो गई है। ऐसे में शहर में लगातार बढ़ रहे कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या को देखते हुए स्वास्थ्य विभाग चिंता में है।

PM Narendra Modi
Ruchi Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned