सिर्फ सेटिंग्स में बदलाव कर आप व्हाट्सएप, सिग्नल और टेलीग्राम जैसे एप को बना सकते हैं सुरक्षित

Highlights.

- साइबर सुरक्षा विशेषज्ञों ने सुझाए उपाय, हाइजैकर्स और चोरों से कैसे सुरक्षित करें अपने मैसेज

- व्हाट्सएप की प्राइवेसी पॉलिसी से खफा करोड़ों लोगों ने सिग्नल या टेलीग्राम जैसे एप्स को डाउनलोड किया

- साइबर विशेषज्ञों ने व्हाट्सएप, सिग्नल और टेलीग्राम पर प्राइवेसी बरकरार रखने तथा साइबर हमलों से बचने के उपाय बताए हैं

 

नई दिल्ली.

व्हाट्सएप की नई प्राइवेसी पॉलिसी आने के बाद मैसेजिंग एप्स में सुरक्षा को लेकर बहस तेज हो गई है। लोग जानना चाहते हैं कि कैसे चैट और निजी जानकारी को सुरक्षित रखा जाए। व्हाट्सएप की प्राइवेसी पॉलिसी से खफा करोड़ों लोगों ने सिग्नल या टेलीग्राम जैसे एप्स को डाउनलोड किया। फिर भी मुद्दा वही है कि ऐसा क्या किया जाए कि प्राइवेसी बनी रहे। वहीं, साइबर हमलों से भी बचा जा सके। साइबर सुरक्षा विशेषज्ञों ने व्हाट्सएप, सिग्नल और टेलीग्राम पर प्राइवेसी को बरकरार रखने तथा साइबर हमलों से बचने के कुछ उपाय साझा किए हैं।

सिग्नल और टेलीग्राम अधिक सुरक्षित

साइबर सुरक्षा विशेषज्ञों के मुताबिक प्राइवेसी की दृष्टि से व्हाट्सएप की तुलना में सिग्नल और टेलीग्राम अधिक सुरक्षित हैं। व्हाट्सएप जहां आपके कॉन्टैक्ट, फोटो गैलरी, लोकेशन आदि की जानकारी जुटाता है। वहीं, सिग्नल आपके फोन नंबर के अलावा कुछ भी कलेक्ट नहीं करता है। जबकि टेलीग्राम केवल आपके फोन से सिर्फ आपकी कॉन्टैक्ट इंफॉर्मेशन जुटाता है।

ऐसे कर सकते हैं खुद को सुरक्षित

1- व्हाट्सएप

- टू-स्टेप वेरिफिकेशन से अपना 6 अंकों का पिन नम्बर बनाएं। इससे हैकर्स आपके व्हाट्सएप को हाइजैक नहीं कर पाएंगे।
- व्हाट्सएप पर प्राप्त फोटो को फोन गैलरी में सेव करने के ‘ऑटोमैटिकली सेव’ ऑप्शन को बंद कर दें।
- किसी भी संदेहास्पद लिंक या अटैचमैंट को न खोलें।
- बैकअप को टर्न ऑफ कर दें। अगर आप क्लाउड पर बैकअप रखते हैं तो यह एंड-टू-एंड इंक्रिप्शन नहीं होता है।

2- टेलीग्राम

- टू-स्टेप वेरीफिकेशन को एक्टिव करें।
- अपनी प्राइवेसी सेटिंग को बदलें। इसमें आप तय कर सकते हैं कि कौन आपसे कॉन्टेक्ट कर सकता है, कौन आपका स्टेटस देख सकता है या फिर कौन आपकी प्रोफाइल देख सकता है।
- लॉक कोड का इस्तेमाल करें।
- समय-समय पर अपने एक्टिव सेशन को जांचते रहें।
- सीक्रेट चैट से अपनी चैट को एंड-टू-एंड इंक्रिप्शन करें।
- सेल्फ डिस्ट्रक्शन को एक्टिवेट करें। इसमें आपका मैसेज देखे जाने के कुछ समय बाद खुद नष्ट हो जाएगा।

3- सिग्नल

- रजिस्ट्री लॉक को एक्टिवेट करें। इससे अगर आपका अकाउंट हाइजैक या चोरी हो तब कोई आपकी कन्वर्सेशन हिस्ट्री को एक्सेस ना कर पाए।
- बायोमैट्रिक सिक्योरिटी या पासवर्ड से स्क्रीन लॉक को सेट करें।
- प्रिव्यू ऑप्शन को बंद रखें। इससे आपके मैसेज मेन स्क्रीन पर नहीं आएंगे।
- स्क्रीनशॉट ऑप्शन को बंद रखें।
- इसे अपना डिफॉल्ट एसएमएस मैसेजिंग एप बनाएं।

Ashutosh Pathak
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned