scriptDeal with Dawood's sister Haseena, landlady did not get even a single | दाऊद की बहन हसीना के साथ डील, जमीन मालकिन को एक पाई भी नहीं मिली | Patrika News

दाऊद की बहन हसीना के साथ डील, जमीन मालकिन को एक पाई भी नहीं मिली

10 जनवरी, 1995 को दर्ज हुई थी पहली एफआइआर

75 लाख में खरीदी 300 करोड़ की जमीन

मुंबई

Updated: February 24, 2022 08:40:10 pm

मुंबई. महाराष्ट्र के कैबिनेट मंत्री नवाब मलिक पर जिस जमीन सौदे के लिए प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) का शिकंजा कसा है, वह कुर्ला के गोवावाला कंपाउंड में है। यह भूखंड लगभग तीन एकड़ का है। 300 करोड़ रुपए की जमीन मलिक परिवार ने महज 75 लाख में हथिया ली। कथित तौर पर यह डील दाऊद की बहन हसीना पारकर ने कराई थी। हसीना को 55 लाख रुपए नकद चुकाए गए थे। जमीन की देखरेख करने वाले शाहवली खान और जमीन मालकिन के कथित पॉवर ऑफ अथॉरिटी होल्डर सलीम पटेल को 30 लाख के एवज में 20 लाख मिले थे।
दाऊद की बहन हसीना के साथ डील, जमीन मालकिन को एक पाई भी नहीं मिली
दाऊद की बहन हसीना के साथ डील, जमीन मालकिन को एक पाई भी नहीं मिली
हैरानी यह कि जमीन मालकिन मुनीरा प्लंबर को एक पाई भी नहीं मिली। जमीन हड़पने के लिए सॉलिड्स इनवेस्टमेंट्स प्रालि नामक कंपनी इस्तेमाल की गई। यह कंपनी मलिक परिवार की है। मुनीरा ने ईडी को बताया कि उन्होंने शाहवली को किराया वसूलने की जिम्मेदारी दी थी। भूखंड से अवैध निर्माण और कब्जा हटाने के लिए प्लंबर ने पटेल की मदद ली। इसके लिए पटेल को पांच लाख रुपए दिए थे। शाहवली खान के भाई रहमान ने ईडी को बताया कि मलिक के भाई असलम ने जबर्दस्ती भूखंड पर कब्जा कर लिया। रहमान ने 10 जनवरी, 1995 को मलिक के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई थी। खान ने ईडी को बताया कि जमीन पर हसीना की भी नजर थी। मलिक और हसीना के बीच कई दौर की बातचीत हुई। कम से कम दो बैठकों में खान भी मौजूद था।
हसीना संभालती थी अवैध कारोबार
दाऊद के भागने के बाद मुंबई और आसपास के क्षेत्रों में उसका अवैध कारोबार हसीना ही संभालती थी। पटेल उसका सुरक्षा गार्ड और ड्राइवर था। शाहवली भी दाऊद गिरोह से जुड़ा था। 1993 के मुंबई बम धमाकों में उसे सजा हुई है। औरंगाबाद जेल में वह आजीवन सजा काट रहा है। खान ने ईडी को बताया कि हसीना के कहने पर ही सलीम ने जमीन बेच दी। सूत्रों के अनुसार दाऊद के भाई कासकर और हसीना के बेटे ने भी मलिक का नाम लिया है।
जमीन बेचने के लिए नहीं कहा
मुनीरा प्लंबर ने ईडी को बताया कि उन्होंने भूखंड से अवैध कब्जा हटाने के लिए सलीम की मदद ली थी। इसके एवज में पांच लाख रुपए चुकाए थे। उन्होंने जमीन बेचने के लिए कभी नहीं कहा था। जब पता चला कि पटेल अंडरवल्र्ड से जुड़ा है, तो परिवार के हित में उन्होंने पुलिस से शिकायत नहीं की।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

किसी भी महीने की इन तीन तारीखों में जन्मे बच्चे होते हैं बेहद शार्प माइंड, लाइफ में करते हैं बड़ा कामपैदाइशी भाग्यशाली माने जाते हैं इन 3 राशियों के बच्चे, पिता की बदल देते हैं तकदीरइन राशि वालों पर देवी-देवताओं की मानी जाती है विशेष कृपा, भाग्य का भरपूर मिलता है साथ7 दिनों तक मीन राशि में साथ रहेंगे मंगल-शुक्र, इन राशियों के लोगों पर जमकर बरसेगी मां लक्ष्मी की कृपादो माह में शुरू होने वाला है जयपुर में एक और टर्मिनल रेलवे स्टेशन, कई ट्रेनें वहीं से होंगी शुरूपटवारी, गिरदावर और तहसीलदार कान खोलकर सुनले बदमाशी करोगे तो सस्पेंड करके यही टांग कर जाएंगेआम आदमी को राहत, अब सिर्फ कमर्शियल वाहनों को ही देना पड़ेगा टोल15 जून तक इन 3 राशि वालों के लिए बना रहेगा 'राज योग', सूर्य सी चमकेगी किस्मत!

बड़ी खबरें

नोट गिनने में लगीं कई मशीनें..नोट ढ़ोते-ढ़ोते छूटे पुलिस के पसीने, जानिए कहां मिला नोटों का ढेरपुलिस में मामला दर्ज, नाराज कांग्रेस विधायक का इस्तीफा, जानें क्या है पूरा मामलाडिकॉक-राहुल ने IPL में रचा इतिहास, तोड़ डाला वार्नर और बेयरेस्टो का 4 साल पुराना रिकॉर्डDelhi LG Resigned: दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल ने दिया इस्तीफा, निजी कारणों का दिया हवालाIndia-China Tension: पैंगोंग झील पर बॉर्डर के पास दूसरा पुल बना रहा चीन, सैटेलाइट इमेज से खुलासाHeavy rain in bangalore: तेज बारिश से दो मजदूरों की मौत, मुख्यमंत्री ने की मुआवजे की घोषणाज्ञानवापी मस्जिद: नौ तालों में कैद वजूखाना, दो शिफ्टों में निगरानी कर रहे CRPF जवान, महंतो का नया दावापाकिस्तान व चीन बॉडर पर S-400 मिसाइल तैनात करेगा भारत, जानिए क्या है इसकी खासियत
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.