Maha Lock Down: थम गई कभी न रुकने, सोने वाली मुंबई, देश की आर्थिक राजधानी पर लगा ब्रेक...

लॉक डाउन ( Lock Down ) के पहले ही दिन मुंबई ( Mumbai ) में हर तरफ सन्नाटा पसरा दिखाई दिया, मंगलवार ( Tuesday ) देर शाम से 21 दिनों ( 21 Days ) का लॉक डाउन जारी

रोहित के. तिवारी
मुंबई. कभी न रुकने और कभी न थमने वाली देश की आर्थिक राजधानी मुंबई में मानो ब्रेक सा लग गया हो। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ओर से लागू किए गए 22 मार्च के जनता कर्फ्यू के सफल होने के बाद जहां पीएम मोदी की ओर से मंगलवार देर शाम से 21 दिनों का लॉक डाउन जारी किया गया, वहीं लॉक डाउन के पहले ही दिन मुंबई में हर तरफ सन्नाटा पसरा दिखाई दिया। दिलचस्प बात यह रही कि पत्रिका मुंबई के एफबी पेज पर हालातों के मदृदेनजर जनता कर्फ्यू वाले दिन दोपहर में ही साफ कर दिया गया था कि देशवासी आगे भी कर्फ्यू के लिए तैयार रहें। हुआ भी कुछ वैसा सोमवार का दिन बीतने के बाद ही मंगलवार देर शाम प्रधानमंत्री की ओर से देश भर में 21 दिनों के लिए लॉक डाउन घोषित कर दिया गया।

Mumbai News Live : आर्थिक राजधानी में कारोबारियों का क्यों दम निकलता है चर्नी रोड स्टेशन का नाम सुनकर

Maha Lock Down: थम गई कभी न रुकने, सोने वाली मुंबई, देश की आर्थिक राजधानी पर लगा ब्रेक...

प्रिंट मीडिया के इतिहास में पहली बार...
बहरहाल, देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ओर से लागू किए गए लव डाउन के पहले दिन पत्रिका की ओर से लाइव कवरेज का बीड़ा उठाया गया। यह लाइव कवरेज मुंबई के अंधेरी से होते हुए बांद्रा, दादर, सिद्धिविनायक, वर्ली नाका होते हुए महालक्ष्मी, सात रास्ता के आगे चर्चगेट समेत नरीमन पॉइंट, मंत्रालय, गेटवे ऑफ इंडिया, फोर्ट, सीएसटी, मस्जिद बंदर, भायखला के आगे सायन, कुर्ला, घाटकोपर, कांजुरमार्ग तक किया गया। वहीं पत्रिका मुंबई के पास उपलब्ध विजुअल्स पर गौर फरमाया जाए तो मानो देश की आर्थिक राजधानी मुंबई सो सी गई हो, जबकि कुछ लोग ही आवश्यक कार्यों के चलते सड़कों पर नजर आए। वहीं प्रिंट मीडिया के इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ है, जबकि पत्रिका की ओर से लोगों को घर बैठे ही लगभग पूरी मुंबई को लाइव दिखाने का जिम्मा उठाया गया हो।

Video: मुंबई में बेस्ट बसों की हड़ताल का चौथा दिन, सड़कों पर पसरा सन्नाटा

दिहाडी मजदूरों को बेहद परेशानी...
अंधेरी से दादर की ओर जाने वाले एसवी रोड पर सड़क के दोनों ओर लगभग सभी दुकानें बंद दिखाई दीं तो वहीं इक्का-दुक्का मेडिकल स्टोर समेत कुछ एक किराने की दुकानें खुली नजर आईं, जबकि उन दुकानों पर भीड़ बिल्कुल भी नहीं दिखाई दी। वहीं दादर स्थित सिद्धिविनायक मंदिर में भी जहां सन्नाटा पसरा दिखाई दिया, वहीं वहां तैनात सुरक्षाकर्मियों की ओर से रोड पर निकल रहे लोगों को घर पर ही रहने की हिदायत दी गई। जबकि बांद्रा में कुछ लोगों से बातचीत में पता चला कि रोजमर्रा और दिहाडी मजदूर बेहद परेशान हैं, उनके जहां रहने की दिक्कत है तो वहीं उन्हें इस लॉक डाउन के दौरान पाई पाई के लिए मोहताज होना पड रहा है। इसके बावजूद सरकार की ओर से सिर्फ आश्वासन ही दिया जा रहा है।

वेस्टर्न रेलवे ने किया महापरिनिर्वाण दिवस पर विशेष इंतज़ाम

अनायास दिखने पर खदेड रही पुलिस...
वहीं माहिम में सुरक्षा में लगे पुलिसकर्मियों की माने तो जनता की ओर से लॉक डाउन को सफल बनाने का काम किया जा रहा है, जबकि अनायास ही कुछ शरारती तत्वों की ओर से सडकों पर निकल रहे लोगों को पुलिस की ओर से खदेड भगाया जा रहा है। आगे बढ़ते ही वर्ली नाका पहुंचने पर कुछ पुलिस वालों ने कहा कि मुंबईकरों की ओर से लॉकडाउन का अच्छा प्रतिसाद देखा जा रहा है, जबकि जबकि देश में लागू लॉकडाउन के नियमों की अवहेलना करने वालों पर पुलिस कर्मचारियों की ओर से हल्का-फुल्का बल भी प्रयोग किया जा रहा है।

HOSPITAL शिवाजी अस्पताल की सुरक्षा व्यवस्था की अनदेखी

सोशल डिस्टेंस बनाने का आह्वान...
इसके महालक्ष्मी स्टेशन के आगे सात रास्ता होते हुए मुंबई सेंट्रल इलाके में एक शॉपिंग सेंटर पर जबरदस्त भीड़ पत्रिका कैमरे में कैद की गई। भीड़ में शामिल लोगों का कहना था कि वे लोग दो से तीन घंटे से लाइन में खड़े हैं, ताकि वे आवश्यक सामानों की खरीदारी कर सकें। इसके विपरीत शॉपिंग सेंटर के कर्मचारियों की ओर से भीड़ को लाइन में खड़े होकर सोशल डिस्टेंस बनाने का आह्वान किया जा रहा था।

महालक्ष्मी मंदिर यहां प्रसाद में बंटते हैं सोने चांदी के आभूषण, देखें यहां पहली बार

नरीमन प्वाइंट को महामारी की नजर...
कभी न खाली नजर आने वाला चर्चगेट के चौराहा चौराहे पर जहां सन्नाटा पसरा पडा था, वहीं कई पुलिसवाले बंदोबस्त में कार्यरत दिखाई दिए। जबकि मुसाफिरों और कपल्स से दिन—रात गुलजार रहने वाला नरीमन प्वाइंट इलाके को मानो के महामारी वायरस की नजर लग गई हो। जहां भरी दुपहारी में भी लोग छतरी में दुबके नजर आते थे, वह नरीमन प्वाइंट इलाका भी बुधवार को वीरान सा दिखाई दिया। साथ ही नरीमन प्वाइंट पर स्थित बड़े—बड़े कारपोरेट घरानों के बाहर भी लॉक डाउन का भारी असर नजर आया। हर तरफ दूर-दूर तक सिर्फ सन्नाटा ही पसरा दिखाई दिया।

Video: इस तरह प्लेटफॉर्म पर चढ़ी लोकल ट्रेन

 

वायरस का रोना रो रहीं बडी तादात में बोट्स...
मंत्रालय से लेकर ओवल पार्क और हुतात्मा चौक के आगे गेटवे ऑफ इंडिया पर भी दूर-दूर तक सूनसान सडकें ही दिख रही थीं, जबकि रोजाना मुंबईकरों और सैलानियों समेत मुसाफिरों से गुलजार रहने वाला गेटवे आफ इंडिया पर बडी तादात में खड़े बोट्स भी मानो कोरोना वायरस का रोना रो रहे हों। आजकल आलीशान बोट्स भी शांत समंदर में सिर्फ हिचकोले मारने का ही काम कर रही हैं। वहीं बंदोबस्त में लगे पुलिस कर्मचारी लोगों को घर पर ही रहने की सलाह देते ही नजर आए, जबकि वहां पर रोजाना भीख मांगने वाले बिल्कुल असहाय और भूखे से दिखाई दिए।

इंडिया गेट और गेटवे ऑफ इंडिया के बाद गेटवे ऑफ हरियाणा

पुलिसकर्मियों को उठानी पडी मशक्कत...
सीएसटी से होते हुए मस्जिद बंदर में कुछ लोग अपने घरों में सिलेंडर ले जाते दिखाई दिए तो वहीं एक सिलेंडर विक्रेता ने कहा कि वह तीन बजे तक करीब 35 सिलेंडरों की डिलेवरी घरों तक कर चुका है, जबकि वह भी देश के लॉक डाउन में पूरी तरह से शिरकत कर रहा है। वहीं भायखला में लोगों द्वारा घर से बाहर निकलने को लेकर बंदोबस्त में जुटे पुलिस कर्मचारियों को कहीं न कहीं मशक्कत उठानी पड़ी, हूटर बजाकर, लोगों को अपनी बाइक से दौडाकर पुलिस वाले स्थानीय लोगों को जहां खदेडते दिखाई दिए, वहीं पुलिकर्मियों की ओर से लोगों को लाउडिस्पीकर के सहयोग से घर में ही रहने की सख्त हिदायत दी गई।

वीडियो : रामलला के मुख्य पुजारी ने कहा अयोध्या की पुरानी मस्जिदों को संरक्षण की ज़रुरत

बडी संख्या में लॉक डाउन का समर्थन...
इसके विपरीत भायखला से होते हुए सायन, कुर्ला, घाटकोपर समेत विक्रोली, भांडुप, मुलुंड कांजुरमार्ग की सड़कों पर भी दूर-दूर तक सन्नाटा ही दिखाई दिया, जबकि कुछ वाहन और कुछ लोग जो दिखाई भी दिए, उन्हें भी किसी न किसी आवश्यक काम से अपने घरों से बाहर निकलने के लिए मजबूर होना पडा। वहीं बडी संख्या में मुंबईकरों की ओर से पीएम मोदी की ओर से देश भर में लागू लॉक डाउन का समर्थन किया जा रहा है।

मुंबई की भायखला जेल की 57 महिला कैदियों की तबीयत बिगड़ी,फूड प्वॉयजनिंग बताया जा रहा कारण

Corona virus corona virus in india
Show More
Rohit Tiwari Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned