IRDAI की ओर से जारी हुई Guidelines, 10 जुलाई तक Corona Kavach Policy लांच करने के निर्दश

  • इरडा ने कहा, 100 जुलाई तक लाईं जाएं कम अवधि वाली स्टैंडर्ड कोविड चिकित्सा बीमा पॉलिसी
  • साढ़े तीन महीने, साढ़े छह महीने और साढ़े नौ महीने की रखी जा सकती हैं बीमा पॉलिसी

By: Saurabh Sharma

Updated: 28 Jun 2020, 02:33 PM IST

नई दिल्ली। भारतीय बीमा विनियामक और विकास प्राधिकरण ( Insurance Regulatory and Development Authority of India ) की ओर से गाइडलाइंस जारी कर दी गई हैं। इरडा ( IRDAI ) ने साफ कर दिया है कि बीमा कंपनियों को 10 जुलाई तक कम अवधि वाली स्टैंडर्ड कोविड चिकित्सा बीमा पॉलिसी या कोरोना कवच बीमा ( Corona Kavach Policy ) पेश करना होगा। इंश्योरेंस सेक्टर ( Insurance Sector ) को इरडा की ओर से दिए हुए निर्देशों के अनुसार यह पॉलिसी साढ़े तीन महीने, साढ़े छह महीने और साढ़े नौ महीने की रखी जा सकती हैं। आइए आपको भी बताते हैं कि आखिर इरडा की ओर से किस तरह की गाइडलाइन जारी की गई हैं।

New Taxation System में बड़ा बदलाव, Travel Allowance में हो सकेगा Tax में छूट का दावा

इतने रुपए तक का मिल सकता है पॉलिसी में फायदा
जानकारी के अनुसार स्टैंडर्ड कोरोना बीमा पॉलिसी में लोगों को 50 हजार रुपए से पांच लाख रुपए तक इंश्यारेंस मिल सकता है। इरडा के अनुसाार इंश्योरेंस के इस तरह के प्रोडक्ट्स के नाम कोरोना कवच बीमा होना चाहिए। जिसके बाद कंपनियों की ओर से अपना नाम जोड़ा सकता है। गाइडलाइन के अनूसार प्रोडक्ट्स के लिए सिंगल प्रीमियम पेमेंट करना होगा।

Startup खरीदने पर Elon Musk ने Jeff Bezos को कहा नकलची बिल्ली, जानिए क्यों

प्रीमियम हो एक जैसा
- गाइडलाइन के अनुसार प्रीमियम पूरे देश में एक समान होने चाहिए।
- सेक्टर या भौगोलिक क्षेत्र के हिसाब से इन बीमा उत्पादों के लिए अलग-अलग प्रीमियम नहीं हो सकते हैं।
- बीमा प्रोडक्ट्स में कोरोना के इलाज के साथ ही किसी अन्य पुरानी अथवा नयी बीमारी के इलाज का खर्च भी शामिल होना चाहिए।
- अस्पताल में भर्ती होने, घर पर ही इलाज कराने, आयुष से उपचार करने और अस्पताल में भर्ती होने से पहले और बाद के खर्चों को कवर मिलेगा।
- सामान्य व स्वास्थ्य बीमा कंपनियों को सुनिश्चित करना होगा कि इस तरह के उत्पाद 10 जुलाई 2020 से पहले उपलब्ध हो जाएं।

ऐसा क्या हुआ, Mark Zuckerberg ने एक ही झटके में गंवा दी 7 Billion Dollar की संपत्ति

Show More
Saurabh Sharma Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned