Lockdown के बीच LIC ने Home Loan की ब्याज दरों में की कटौती

  • Cibil Score 800 या उससे अधिक होने पर 7.5 फीसदी सालाना ब्याज पर दिया जाएगा लोन
  • इससे पहले Home Loan की ब्याज दर 8.10 फीसदी थी, पॉलिसी धारकों भी गई है ब्याज दरों में राहत

By: Saurabh Sharma

Updated: 24 Apr 2020, 09:24 AM IST

नई दिल्ली। भारतीय जीवन बीमा निगम हाउसिंग फाइनेंस ( Life Insurance Corporation of India Housing Finance ) ने देश के लोगों को बड़ी राहत देते हुए होम लोन की ब्याज दर में बड़ी कटौती कर दी है। एलआईसी हाउसिंग फाइनेंस लिमिटेड ( LIC Housing Finance Limited ) ने व्यक्तिगत होम लोन लेने वालों के लिए अपनी ब्याज दरों गिरावट की है। अब नए कस्टमर्स को 800 या उससे ज्यादा के सिबिल स्कोर ( Cibil Score ) पर 7.5 फीसदी सालाना ब्याज दर से होम लोन दिया जाएगा। इससे पहले यह दर 8.10 फीसदी देखने को मिल रही थी। वहीं दूसरी ओर अगर कस्टमर एलआईसी का सिंगल प्रीमियम टर्म एश्योरेंस ( LIC Single Premium Term Assurance ) पॉलिसीधारक है तो उसे 7.40 फीसदी की ब्याज दर से होम लोन दिया जाएगा। खास बात ये है कि यह राहत पाने के लिए आपकी पॉलिसी लोन के बराबर होना जरूरी है।

यह भी पढ़ेंः- पीएनबी ने करोड़ों ग्राहकों दिया बड़ा तोहफा, 50000 रुपए के ट्रांजेक्शन पर कोई चार्ज नहीं

एचडीएफसी भी दे चुकी है राहत
होम लोन पर एलआईसीएचएफ से पहले हाउसिंग फाइनेंस कंपनी एचडीएफसी भी ब्याज दरों में 0.15 फीसदी की कटौती कर चुकी है। कंपनी ने हाउसिंग लोन से जुड़े अपने रिटेल प्राइम लेंडिंग रेट में 0.15 फीसदी की गिरावट की है। इस फैसले का लाभ एचडीएफसी के सभी मौजूदा रिटेल होम लोन कस्टमर्स को मिलेगा। जानकारी के अनुसार सैलरी पाने वाले लोगों के लिए इस कटौती के बाद बयाज दरें 7.85 फीसदी से लेकर 8.15 फीसदी के बीच होंगी। इस फैसले का लाभ पुराने ग्राहकों को भी मिलेगा।

यह भी पढ़ेंः- सरकार का बड़ा ऐलान, अब EMI में देंगे Health Insurance Premium

एचडीएफसी बैंक ने भी घटाई थी एमसीएलआर दरें
वहीं एचडीएफसी बैंक ने भी महीने की शुरुआत में ब्याज दरों में 0.20 फीसदी की कटौती करने का ऐलान किया था। बैंक ने एक दिन के लोन पर मार्जिनल कॉस्ट ऑफ फंड बेस्ड लेंडिंग रेट यानी एमसीएलआर को घटाकर 7.60 फीसदी कर दिया था। वहीं, बैंक ने एक साल का एमसीएलआर 7.95 फीसदी कर दिया है। 3 साल के एमसीएलआर पर बैंक 8.15 फीसदी की दर से ब्याज लेगा।

Show More
Saurabh Sharma Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned