धरने पर बैठे किसानों पर हुआ लाठीचार्ज का ऐलान तो पुलिस ने कर दिया ये हाल, देखें वीडियो

धरने पर बैठे किसानों पर हुआ लाठीचार्ज का ऐलान तो पुलिस ने कर दिया ये हाल, देखें वीडियो

Rahul Chauhan | Publish: Sep, 08 2018 01:31:03 PM (IST) Muzaffarnagar, Uttar Pradesh, India

जनपद में भारतीय किसान यूनियन अम्बावत के दर्जनों कार्यकर्त्ताओ को उस समय पुलिस की लाठियां खानी पड़ गई जब वह पुलिस पर तरह-तरह के आरोप लगाते हुए धरने पर बैठ गए।

मुजफ्फरनगर। जनपद में भारतीय किसान यूनियन अम्बावत के दर्जनों कार्यकर्त्ताओ को उस समय पुलिस की लाठियां खानी पड़ गई जब वह थाना शहर कोतवाली में घुसकर कोतवाली पुलिस पर तरह-तरह के आरोप लगाते हुए धरने पर बैठ गए। जिन्हें पुलिस ने पहले तो काफी समझाने का प्रयास किया। मगर जब कथित किसान नेता अपनी जिद पर अड़े रहे तो पुलिस ने धरना दे रहे लोगों पर लाठियां भांजनी शुरू कर दी। जिसके बाद यहां भगदड़ मच गई और दर्जनों लोग वहां से भाग निकले। जबकि कई कार्यकर्ताओं को पुलिस ने हिरासत में लेकर बाद में उन्हें छोड़ दिया।

यह भी पढ़ें : पूर्व मंत्री के बेटे ने सीएम योगी को लिखा ऐसा मार्मिक पत्र, जिसे पढ़ भर आएंगी आपकी आंखें

मामला शहर कोतवाली परिसर का है। जहां पर कुछ दिन पूर्व मौहल्ला रामपुरी में दो पक्षों के बीच झगड़ा हो गया था। पुलिस मामले की जांच कर रही है। इसी बीच भारतीय किसान यूनियन अम्बावत के कार्यकर्ताओं ने पुलिस पर मामले में ढिलाई बरतने का आरोप लगाते हुए शहर कोतवाली पुलिस की कार्य प्रणाली पर नाराजगी जताई और उसी के चलते शुक्रवार को भारतीय किसान यूनियन (अम्बावत) के दर्जनों कार्यकर्त्ता कोतवाली परिसर में माईक और लाउड स्पीकर लगाकर धरना देने पहुंच गए।

यह भी पढ़ें : आज यूपी के इस जिले से चुनाव के लिए हुंकार भरेंगे अरविंद केजरीवाल, भाजपा के यह बागी सांसद भी आएंगे नजर

बता दें कि जनपद में धारा 144 लागू है। बावजूद इसके भारतीय किसान यूनियन (अम्बावत) के कार्यकर्त्ता धरने पर बैठ गए। कोतवाली परिसर में धरने की सूचना पर एडीएम अमित कुमार और सीओ सिटी हरीश भदौरिया पुलिस बल के साथ नगर कोतवाली पहुंचे और धरने पर बैठे किसानों को समझने का प्रयास किया। मगर कथित किसान नेता अपनी बात पर अड़े रहे। जिसके बाद पुलिस ने धरने पर बैठे लोगों पर लाठियां बरसा दी। वहीं कोतवाली में भगदड़ मच गई और लोग भाग निकले। कई लोगों को पुलिस ने हिरासत में भी लिया जिन्हें चेतावनी देकर छोड़ दिया गया। वहीं अपर जिलाधिकारी प्रशासन अमित कुमार ने धरना दे रहे लोगों को मामले का निस्तारण करने का आश्वासन भी दिया है।

Ad Block is Banned