करोड़ों की को-वैक्सीन से भरा कंटेनर लावारिस छोड़कर आखिर कहां गया ड्राइवर, झाड़ियों में मिला मोबाइल

हैदराबाद से करनाल भेजा जा रहा को-वैक्सीन का कंटेनर लावारिश हालत में मिला..कंटेनर में भरी थीं करीब 8 करोड़ रुपए की 2 लाख 40 हजार डोज..

नरसिंहपुर/करेली. एक ओर जहां देश में कोरोना वैक्सीन की कमी के चलते टीकाकरण धीमा हो गया है वहीं दूसरी ओर भारत बायोटेक कम्पनी की करीब 8 करोड़ रुपए कीमत की कोवैक्सीन की 2 लाख 40 हजार डोज लेकर हैदराबाद से करनाल पंजाब भेजा गया कंटेनर करेली में लावारिस हालत में खड़ा मिला। गनीमत यह थी कि ट्रक चालू हालत में था जिसकी वजह से उसका कूलिंग सिस्टम चालू रहने से वैक्सीन खराब नहीं हो सकी। कंटेनर ड्राइवर का फिलहाल पता नहीं चल पाया है उसका मोबाइल करेली में ही बायपास के पास झाड़ियों में पड़ा मिला है।

ये भी पढ़ें- कोरोना के कहर के बीच गूंजी किलकारी, संक्रमित महिला ने दिया बच्चे को जन्म

photo_2021-04-30_20-44-51.jpg

लावारिश खड़ा था को-वैक्सीन भरा कंटेनर
शुक्रवार को करेली बस स्टैंड के पास एक्सिस बैंक के सामने करेली बरमान रोड पर सड़क किनारे एक कोल्ड चेन का कंटेनर ट्रक क्रमांक टीएन 06 क्यू 6482 लावारिस हालत में चालू खड़ा मिला। बताया गया है कि कंटेनर सुबह करीब 8 बजे से सड़क किनारे चालू खड़ा हुआ था। दोपहर लगभग डेढ़ बजे यहां आसपास के रहवासियों को शंका हुई तो उन्होंने कंटेनर के नजदीक जाकर देखा तो पता चला कि ट्रक चालू है एवं ड्राइवर कंडक्टर मौजूद नहीं हैं। विंड स्क्रीन में सरकारी वैक्सीन सप्लाई लिखा हुआ था और ट्रक में एसी कंटेनर लगा हुआ था। यह सब देखकर वहां के रहवासियों ने तुरंत पुलिस को सूचना दी जिस पर करेली पुलिस तुरंत मौके पर पहुंची।

ये भी पढ़ें- साढ़े चार साल से अलग होने की लड़ रहे थे लड़ाई लेकिन मौत भी नहीं कर पाई जुदा, जानिए पूरा मामला

photo_2021-04-30_20-44-58.jpg

कंटेनर में भरी थी करोड़ों रुपए की को-वैक्सीन
करेली पुलिस ने जब जांच की तो गाड़ी के कागज देखकर पुलिस के होश उड़ गए, कागजों की जांच में पता चला ट्रक में कोवैक्सीन की 2 लाख 40 हजार डोज रखी हुई हैं। गाड़ी में पाए गए कागजों से पता चला कि टीसीआई कोल्ड चेन सॉल्यूशन कम्पनी का यह एसी कंटेनर ट्रक है जो कि भारत बायोटेक कम्पनी की कोरोना वैक्सीन को-वेक्सीन की 2 लाख 40 हजार डोज लेकर हैदराबाद से करनाल पंजाब जा रहा था। कंटेनर में 364 बड़े बॉक्स में यह कोवैक्सीन रखी हुई थी। जिसकी कीमत लगभग 8 करोड़ रुपये बताई जा रही है।

ये भी पढ़ें- कोरोना ने पति से जुदा किया तो पत्नी ने भी मौत को लगाया गले, 5 साल पहले की थी लव मैरिज

photo_2021-04-30_14-22-31.jpg

झाड़ियों में मिला ड्राइवर का मोबाइल
पुलिस ने कम्पनी के अधिकारियों से सम्पर्क कर ड्राइवर का मोबाइल नम्बर प्राप्त किया। जिसकी लोकेशन ट्रेस कराई गई जो नरसिंहपुर बायपास के आगे एक ढाबे के पास फोरलेन की मिली। करेली पुलिस ने तुरन्त वहां पहुंचकर सर्चिंग की तो फोरलेन किनारे झाडिय़ों में ड्राइवर का मोबाइल पड़ा हुआ मिला। जिसमें 122 मिस कॉल थे मोबाइल चालू था। पुलिस को शुरुआती जांच में लगा कि ड्राइवर मोबाइल यहां फेंककर भागा है। जांच में पता चला कि ड्राइवर का नाम विकास मिश्रा उम्र 22 वर्ष है जो उत्तर प्रदेश के अमेठी का रहने वाला है। ड्राइवर के पिता से पुलिस ने सम्पर्क किया तो उन्होंने बताया कि गुरुवार रात में विकास से आखिरी बार बात हुई थी, जिसमें उसकी घरवालों से किसी बात को लेकर कहासुनी हुई थी।

देखें वीडियो- ऑटो ड्राइवर ने जनसेवा के लिए ऑटो को बना दिया एंबुलेंस

COVID-19
Shailendra Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned