scriptBihar Political Crisis Why Nitish Kumar Angry on BJP, Latest Situation | बिहारः जदयू और भाजपा के बीच तकरार की वो पांच वजहें, जिससे टूटने के कगार पर पहुंची नीतीश कुमार सरकार | Patrika News

बिहारः जदयू और भाजपा के बीच तकरार की वो पांच वजहें, जिससे टूटने के कगार पर पहुंची नीतीश कुमार सरकार

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की पार्टी जनता दल यूनाइटेड (JDU) को एनडीए का पुराना सहयोगी माना जाता है। भाजपा और जदयू ने एक साथ मिलकर लंबे समय तक बिहार में सत्ता संभाली है। लेकिन इससमय यह गठबंधन टूटने के कगार पर है। यहां जानिए इसके पांच बड़े कारण।

नई दिल्ली

Published: August 09, 2022 10:11:32 am

Bihar Political Crisis: बीजेपी से मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की नाराजगी की वजह से बिहार का सियासी तापमान लगातार चढ़ा हुआ है। आज जदयू के साथ-साथ राजद, कांग्रेस और हम के विधायकों की मीटिंग होनी है। जिसके बाद बिहार में नई सरकार के गठन की घोषणा की जा सकती है। नीतीश कुमार की गिनती एनडीए के सबसे पुराने सहयोगियों में होती थी, लेकिन बीते कुछ दिनों से वो भाजपा से नाराज है। इस कारण बिहार में एनडीए टूट के कगार पर पहुंच चुका है। यहां जानिए बिहार के मुख्यमंत्री और जदयू नेता नीतीश कुमार की बीजेपी से नाराजगी की पांच बड़ी वजहें।

modi_nitish.jpg
Bihar Political Crisis Why Nitish Kumar Angry on BJP, Latest Situationबिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की पार्टी जनता दल यूनाइटेड (JDU) को एनडीए का पुराना सहयोगी माना जाता है। भाजपा और जदयू ने एक साथ मिलकर लंबे समय तक बिहार में सत्ता संभाली है। लेकिन इससमय यह गठबंधन टूटने के कगार पर है। यहां जानिए इसके पांच बड़े कारण।

नीतीश कुमार की पार्टी जदयू की भाजपा से इस समय नाराजगी की सबसे बड़ी वजह है- पार्टी तोड़ने की साजिश। दरअसल भाजपा पर यह आरोप है कि वह जदयू को कमजोर करने की कोशिश में लगी है। गाहे-बगाहे जदयू के कई नेताओं ने इस संबंध में भाजपा पर हमला भी किया है। जदयू के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष और केंद्रीय मत्री आरसीपी सिंह पर हुई कार्रवाई भी इसी वजह से की गई।

डूबता हुआ जहाज बताकर आरसीपी सिंह ने दिया था इस्तीफा

आरसीपी सिंह पर आरोप था कि वो भाजपा के साथ मिलकर जदयू को तोड़ने की कोशिश कर रहे थे। कई मीडिया रिपोर्ट में दावा किया जा रहा था कि आरसीपी सिंह बिहार के एकनाथ शिंदे होंगे। वो 20 विधायकों के साथ मिलकर जदयू को तोड़ने की कोशिश में थे। पार्टी से इस्तीफे के बाद आरसीपी ने जदयू को डूबता हुआ जहाज बताया था।

बिहार में गृह मंत्री अमित शाह के बढ़ते दखल से भी परेशानी


नीतीश कुमार बिहार में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के बढ़ते दखल से भी परेशान थे। बीते दिनों में जब केंद्रीय मंत्रीमंडल में जदयू से मंत्री बनाए जाने की चर्चा चल रही थी, तब कहा जा रहा था कि अमित शाह ने आरसीपी का नाम लिया। नीतीश और जदयू की नाराजगी इस बात से थी कि हमारी पार्टी से केंद्र में मंत्री कौन बनेगा यह हम तय करेंगे ना कि किसी दूसरी पार्टी का कोई नेता।

बराबर सीट जीतने पर भी केंद्र में सीट के अनुसार मंत्री पद नहीं मिलना


2019 के लोकसभा चुनाव के बाद जब केंद्र में मोदी सरकार के दूसरी कैबिनेट का गठन हो रहा था, तब यह मंत्री पद के बंटवारे को लेकर जदयू की नाराजगी सामने आई थी। भाजपा केंद्रीय मंत्रीमंडल में जदयू को एक मंत्री पद दे रही थी। जबकि जदयू की मांग यह थी कि बिहार से जितने भी मंत्री बनाए जाए उसमें से आधा जदयू के सांसद हो। इसके पीछे तर्क यह दिया जा रहा था कि लोकसभा चुनाव में बिहार में भाजपा और जदयू को 16-16 सीटों पर जीत मिली थी। लेकिन यह संभव नहीं हो सका।

सीएए-एनआरसी जैसे मसलों पर नीतीश का मत अलग


सीएए-एनआरसी जैसे मसलों पर बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का मत बीजेपी से अलग है। इसका उन्होंने कई बार सार्वजनिक मंच से प्रदर्शन भी किया है। जब सीएए-एनआरसी के मसले पर पूरे देश में प्रदर्शन हो रहा था कि तब नीतीश ने इसे बिहार में लागू नहीं करने की बात कही थी। जबकि दूसरी ओर बिहार बीजेपी के नेता गिरिराज सिंह समते अन्य कई बार इसकी मांग कर चुके थे।

यह भी पढ़ेंः RJD नेता बोले-'नीतीश BJP का साथ छोड़े तो हम गले लगाने को तैयार'

विधानसभा स्पीकर विजय सिन्हा और सीएम के बीच तकरार


बिहार विधानसभा के अध्यक्ष विजय कुमार सिन्हा भाजपा के विधायक हैं। सदन में कई मौकों पर वो सरकार को असहज करने वाले सवाल खड़े कर चुके हैं। स्पीकर के इस व्यवहार से सीएम नीतीश कुमार नाराज चल रहे थे। इसका सदन में एक बार उन्होंने सार्वजनिक तौर पर प्रदर्शन भी किया। सदन में सीएम और स्पीकर के बीच जमकर बहस हुई थी। इसके अलावा भी बीजेपी से नीतीश कुमार की नाराजगी की कई और वजहें हैं। लेकिन सबसे प्रमुख वजहों में यहीं पांच है।

सबसे लोकप्रिय

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Weather Update: राजस्थान में बारिश को लेकर मौसम विभाग का आया लेटेस्ट अपडेट, पढ़ें खबरTata Blackbird मचाएगी बाजार में धूम! एडवांस फीचर्स के चलते Creta को मिलेगी बड़ी टक्करजयपुर के करीब गांव में सात दिन से सो भी नहीं पा रहे ग्रामीण, रात भर जागकर दे रहे पहरासातवीं के छात्रों ने चिट्ठी में लिखा अपना दुःख, प्रिंसिपल से कहा लड़कियां class में करती हैं ऐसी हरकतेंनए रंग में पेश हुई Maruti की ये 28Km माइलेज़ देने वाली SUV, अगले महीने भारत में होगी लॉन्चGanesh Chaturthi 2022: गणेश चतुर्थी पर गणपति जी की मूर्ति स्थापना का सबसे शुभ मुहूर्त यहां देखेंJaipur में सनकी आशिक ने कर दी बड़ी वारदात, लड़की थाने पहुंची और सुनाई हैरान करने वाली कहानीOptical Illusion: उल्लुओं के बीच में छुपी है एक बिल्ली, आपकी नजर है तेज तो 20 सेकंड में ढूंढकर दिखाये

बड़ी खबरें

Nobel Prize 2022: स्वीडन के स्वांते पाबो को चिकित्सा के लिए मिला नोबेल प्राइजJammu-Kashmir News: उधमपुर में खाई में गिरी बस, स्कूली बच्चों समेत 65 घायल, 1 की मौत6 राज्यों की 7 विधानसभा सीटों पर 3 नवंबर को होंगे उपचुनाव, छह को आएंगे नतीजेयूएई में सोमवार 3 अक्टूबर से बदल रहे हैं इमिग्रेशन रूल, भारतीयों को ऐसे होगा फायदाDussehra Rally: राष्ट्रवादी ने ताकत लगाई तो..., शिवसेना की दशहरा रैली को लेकर रोहित पवार ने दिया बड़ा बयानMaharashtra Politics: एकनाथ खडसे की होगी ‘घर वापसी’? अमित शाह और देवेंद्र फडणवीस से जल्द करेंगे मुलाकातआई2यू2: सक्रिय हुआ अमरीका - भारत समेत चार देशों का 'पश्चिमी Quad' समूह, खाड़ी क्षेत्र पर करेगा फोकसपीएम नरेंद्र मोदी के हिमाचल दौरे को लेकर बोले केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर - 'हिमाचल की जनता उनका बेसब्री से इंतजार कर रही है'
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.