scriptCovid: will omicron end the pandemic | Covid-19 : क्या ओमिक्रोन से हो रही है कोरोना महामारी के अंत की शुरुआत | Patrika News

Covid-19 : क्या ओमिक्रोन से हो रही है कोरोना महामारी के अंत की शुरुआत

दुनिया भर में ओमिक्रोन के संकट के बीच एक अच्छी खबर यह है कि अगले साल यानी 2022 में कोरोना महामारी का अंत हो सकता है। नयी वैक्सीन, बूस्टर डोज के बारे में नई शोध से इस बात को बल मिला है। कहा जा रहा है कि यह नया वेरिएंट कोरोना महामारी की अंत की शुरुआत है।

नई दिल्ली

Updated: December 27, 2021 02:03:23 pm

वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन ने कहा है कि 2022 में कोरोना महामारी का अंत हो जाना चाहिए। विश्व स्वास्थ्य संगठन का मानना है अगले साल के अंत तक पूरी दुनिया का वैक्सीनेशन हो जाएगा| साल की पहली तिमाही में ज्यादा जोखिम वाली जनसंख्या को बूस्टर डोज भी लग जाएगी। विश्व स्वास्थ्य संगठन के महानिदेशक ने कहा है कि महामारी के आए हुए 2 साल हो चुके हैं अब हम वायरस को अच्छी तरह समझ चुके हैं और हमारे पास इससे लड़ने के सभी विकल्प मौजूद हैं।
omicron.jpg
विश्व स्वास्थ्य संगठन के इस ऐलान से पहले भी कई वैज्ञानिक कह चुके हैं ओमिक्रोन वेरिएंट से संकेत मिलता है कि अब कोरोना फ्लू जैसी साधारण बीमारी बन कर रह जायेगी। अमेरिकी एक्सपर्ट का कहना है कि ओमीक्रोन की लहर से महामारी का अंत हो जाएगा। विश्वविख्यात वायरोलॉजिस्ट डॉ डेविड का कहना है कि ओमिक्रोन वैरिएंट ही महामारी को एंडेमिक यानी स्थानिक बीमारी बना देगा। वैज्ञानिकों की एक थ्योरी यह भी है कि संक्रमण की दर बहुत ज्यादा होने से लोगों में प्राकृतिक यूनिटी बन जाएगी जिससे आगे आने वाले वेरिएंट से सुरक्षा मिलेगी। इसीलिए ओमीक्रोन संक्रमण फैल तो रहा है लेकिन उसकी गंभीरता कम है।
ओमिक्रोन एक अत्यधिक संक्रामक वेरिएंट तो जरूर है। लेकिन इसके कारण गंभीर बीमारी या मौतें ज्यादा नहीं हुई हैं। दक्षिण अफ्रीका में हुए एक नए शोध से पता चला है कि डेल्टा के मुकाबले इस वैरीअंट से संक्रमित लोगों के हॉस्पिटल में भर्ती होने की संख्या में काफी कम है। ऐसा ट्रेंड आयरलैंड और इंग्लैंड में भी देखा गया है। इस नए वैरीअंट के बारे में एक हैरान करने वाली बात यह भी है कि इसका संक्रमण इतना तेजी से फैला उतनी ही तेजी से नीचे भी आया है।
एक्सपर्ट्स का कहना है कि 2022 से जो उम्मीदें बंधी है उनमें आम लोगों का सबसे बड़ा योगदान होगा। यह योगदान होगा वैक्सीन लगवाने का, मास्क लगाने का, जो लोग एक डोज के बाद दूसरा डोज लेना भूल गए हैं उन्हें दूसरी डोजे लगवाने का, इसमें किसी तरह की कोई कोताही खुद को और दूसरों को मुश्किल में डाल सकती है। इसके बाद नंबर आता है एहतियात बरतने का इसमें भीड़ से दूर रहें, सोशल डिस्टेंसिंग का ख्याल रखें, सही किस्म और सही तरीके से मास्क लगायें आदि।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

कोरोना: शनिवार रात्री से शुरू हुआ 30 घंटे का जन अनुशासन कफ्र्यूशाहरुख खान को अपना बेटा मानने वाले दिलीप कुमार की 6800 करोड़ की संपत्ति पर अब इस शख्स का हैं अधिकारजब 57 की उम्र में सनी देओल ने मचाई सनसनी, 38 साल छोटी एक्ट्रेस के साथ किए थे बोल्ड सीनMaruti Alto हुई टॉप 5 की लिस्ट से बाहर! इस कार पर देश ने दिखाया भरोसा, कम कीमत में देती है 32Km का माइलेज़UP School News: छुट्टियाँ खत्म यूपी में 17 जनवरी से खुलेंगे स्कूल! मैनेजमेंट बच्चों को स्कूल आने के लिए नहीं कर सकता बाध्यअब वायरल फ्लू का रूप लेने लगा कोरोना, रिकवरी के दिन भी घटेCM गहलोत ने लापरवाही करने वालों को चेताया, ओमिक्रॉन को हल्के में नहीं लें2022 का पहला ग्रहण 4 राशि वालों की जिंदगी में लाएगा बड़े बदलाव

बड़ी खबरें

Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.