scriptजम्मू-कश्मीर: ‘POK में हो रहे अत्याचारों का खामियाजा भुगतेगा पाकिस्तान’, शौर्य दिवस कार्यक्रम में बोले रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह | Pakistan will have to bear consequences for atrocities in PoK: Rajnath Singh | Patrika News
नई दिल्ली

जम्मू-कश्मीर: ‘POK में हो रहे अत्याचारों का खामियाजा भुगतेगा पाकिस्तान’, शौर्य दिवस कार्यक्रम में बोले रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह

जम्मू-कश्मीर में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि “पीओके में हो रहे अत्याचारों का पाकिस्तान को खामियाजा भुगतना पड़ेगा। वहां हो रही सभी प्रकार की अमानवीय घटनाओं के लिए पाकिस्तान पूरी तरह जिम्मेदार है।”

नई दिल्लीOct 27, 2022 / 03:05 pm

Abhishek Kumar Tripathi

pakistan-will-have-to-bear-consequences-for-atrocities-in-pok-rajnath-singh_1.jpg

Pakistan will have to bear consequences for atrocities in PoK: Rajnath Singh

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह आज जम्मू-कश्मीर दौरे पर हैं, जहां वह शौर्य दिवस कार्यक्रम में संबोधित करते हुए आतंकवाद, पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर (POK) में आम लोगों पर किए जा रहे अत्यातार सहित अन्य मुद्दों का जिक्र करते हुए पाकिस्तान पर जमके निशाना साधा। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि आज वीर सेनानियों की कुर्बानियों और बलिदान को याद करने का दिन है। आज भारत की जो एक विशाल इमारत हमें दिखाई दे रही है, वह वीर योद्धाओं के बलिदान की नींव पर ही टिकी हुई है।
इसके साथ ही राजनाथ सिंह ने कहा कि “साल 1947 में भारत और पाकिस्तान के बीच विभाजन की पटकथा लिखी गई थी, जो सूखी भी नही थी कि पाकिस्तान में विश्वासघात की एक नई पटकथा लिखी जानी लगी थी। विभाजन के कुछ दिन के अंदर पाकिस्तान का जो चरित्र सामने आया, उसकी कभी कल्पना भी नहीं की गई थी।
 
POK में हो रहे अत्याचारों का खामियाजा भुगतेगा पाकिस्तान
रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि मैं पाकिस्तान से पूछना चाहता हूं कि उसने हमारे क्षेत्र के लोगों को कितने अधिकार दिए हैं, जिस पर वह अनधिकृत कब्जा कर लिया है? उन्होंने कहा कि आज जो POK में अमानवीय घटनाए हो रही हैं उसके लिए पूरी तरह से पाकिस्तान जिम्मेदार है। आज जो पाकिस्तान POK में अत्याचार के बीज बो रहा है उसको आने वाले समय में कांटो का सामना करना पड़ेगा।
आतंकवाद का नहीं होता कोई धर्म
राजनाथ सिंह ने कहा कि “आतंकवाद का तांडव इस राज्य ने जो कश्मीरियत के नाम पर देखा, उसका वर्णन भी नहीं किया जा सकता है। उस दौरान अनगिनत लोगों की जाने गई और अनगिनत घर तबाह हो गए। धर्म के नाम पर कितने लोगों का खून बहा इसका कोई हिसाब ही नहीं है।” इसके साथ ही उन्होंने सवाल करते हुए कहा कि कई लोगों ने आतंकवाद को धर्म से जोड़ने की कोशिश की, लेकिन क्या आतंकवाद के शिकार किसी एक धर्म तक ही सीमित हैं? आतंकवादी क्या हिन्दू या मुसलमान देखकर हरकत करता है? आतंकवादी केवल भारत को निशाना बनाकर अपनी योजनाओं को अंजाम देना जानते हैं।
 
स्वार्थी तत्वों ने कश्मीरी समाज को कई हिस्सों में बांटा: राजनाथ सिंह
रक्षा मंत्री ने कहा कि जम्मू-कश्मीर को लंबे समय तक अंधेरे में रखने के लिए स्वार्थी राजनीति जिम्मेदार है। आजादी के बाद कुछ स्वार्थी तत्वों ने कश्मीरी समाज को कई हिस्सों में बांट दिया, जिसके कारण लोग कश्मीरियत भूलकर कश्मीरी समाज हिंदू, मुस्लिम, राजपूत और सिख में बंट गए।

यह भी पढ़ें

मां भारती के सपूत वेबसाइट लॉन्च, शहीदों के परिवार की अब आप भी कर सकेंगे आर्थिक मदद

 

Hindi News/ New Delhi / जम्मू-कश्मीर: ‘POK में हो रहे अत्याचारों का खामियाजा भुगतेगा पाकिस्तान’, शौर्य दिवस कार्यक्रम में बोले रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह

ट्रेंडिंग वीडियो