script गणतंत्र दिवस परेड के लिए बंगाल सरकार की झांकी की खारिज, TMC ने केंद्र पर बोला हमला | West Bengal government's proposed tableau for Republic Day parade rejected | Patrika News

गणतंत्र दिवस परेड के लिए बंगाल सरकार की झांकी की खारिज, TMC ने केंद्र पर बोला हमला

locationनई दिल्लीPublished: Dec 29, 2023 09:37:25 pm

Submitted by:

Shaitan Prajapat

केंद्र सरकार ने 26 जनवरी 2024 को नई दिल्ली में गणतंत्र दिवस परेड के लिए पंश्चिम बंगाल सरकार की ओर से प्रस्तावित झांकी को खारिज कर दिया है। इसके बाद TMC ने केंद्र पर तीखा हमला बोला है।

republic_day_parade_99.jpg

हर साल की भाति अगले साल यानी 26 जनवरी 2024 को नई दिल्ली में गणतंत्र दिवस परेड का आयोजन किया जा रहा है। इस परेड में दिखाई जाने वाली झांकियों का प्रस्ताव राज्य सरकार द्वारा पहले ही भेजा जाता है। केंद्र सरकार ने अगले साल 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस परेड के लिए पंश्चिम बंगाल सरकार की ओर से प्रस्तावित झांकी को खारिज कर दिया है। इस बार पश्चिम बंगाल सरकार ने प्रस्तावित झांकी का विषय 'कन्याश्री प्रकल्प' परियोजना था, जो लड़कियों को स्कूल छोड़ने से रोकने के लिए एक वित्तीय सहायता योजना है। यह योजना उन्हें हाई स्टडी के लिए प्रोत्साहित करती है। मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की एक पसंदीदा परियोजनाओं में से एक है।


TMC ने केंद्र पर बोला हमला

तृणमूल कांग्रेस की नेताओं ने मोदी सरकार पर हमला बोलते हुए कहा है कि प्रस्तावित झांकी को केंद्र सरकार ने जानबूझकर खारिज कर दिया है ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि राज्य सरकार की इस 'अनूठी बालिका-बाल विकास परियोजना' की सफलता की कहानियों को व्यापक प्रचार नहीं मिल सके। केंद्र सरकार की 'बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ' परियोजना वास्तव में पश्चिम बंगाल सरकार की 'कन्याश्री प्रकल्प' परियोजना से प्रेरित थी।

...तो केंद्र सरकार की विफलताएं आ जाएगी

राज्य की महिला एवं बाल विकास और समाज कल्याण मंत्री शशि पांजा ने कहा है कि बीजेपी की केंद्र सरकार ने जानबूझ कर ऐसा किया है। उन्होंने कहा कि यदि इस झांकी को अस्वीकार नहीं किया गया होता, तो महिला-विकास में मुख्यमंत्री के नेतृत्व में बंगाल सरकार का वैज्ञानिक विजन सुर्खियों में आ गया होता। उस प्रक्रिया में उसी क्षेत्र में केंद्र सरकार की विफलताएं सामने आ गई होतीं।

यह भी पढ़ें

नॉर्थ ईस्ट में उग्रवाद का अंत! उग्रवादी संगठन उल्फा ने डाले हथियार, ULFA और केंद्र सरकार के बीच हुआ समझौता



पहले भी प्रस्तावित झांकियों हो चुकी है खारिज

ऐसा पहली बार नहीं है कि गणतंत्र दिवस परेड के लिए पश्चिम बंगाल की ओर से प्रस्तावित झांकी को खारिज कर दिया गया है। इससे पहले 2020 और 2022 में भी पश्चिम बंगाल सरकार की ओर से प्रस्तावित झांकियों को खारिज करने के मामले सामने आए थे।

यह भी पढ़ें

न्यू ईयर पर तोहफा: ई-ऑटो खरीदने वालों की बल्ले बल्ले, मिलेगी इतने लाख की सब्सिडी







ट्रेंडिंग वीडियो