Unlock 4.0: कोरोना वायरस महामारी के बीच दिल्ली के बाद बेंगलुरु मेट्रो भी सेवाएं शुरू करने को तैयार

  • आगामी 1 सितंबर से देश भर में शुरू होगा अनलॉक का चौथा चरण।
  • बेंगलुरु मेट्रो और दिल्ली मेट्रो ने कर ली है सेवाएं चालू करने की पूरी तैयारी।
  • दोनों मेट्रो कॉरपोरेशन को ही संचालन शुरू करने के लिए दिशा-निर्देशों का इंतजार।

 

नई दिल्ली। कोरोना वायरस महामारी के चलते देश में लागू लॉकडाउन के दौरान मार्च के आखिर में सार्वजनिक परिवहन की सेवाओं में शामिल मेट्रो को भी बंद कर दिया गया था। हालांकि आगामी 1 सितंबर से शुरू होने वाले अनलॉक 4.0 में दिल्ली मेट्रो के बाद अब बेंगलुरु मेट्रो ने भी कहा है कि वो सेवाएं शुरू करने को तैयार है।

कर्नाटक में संचालित बैंगलोर मेट्रो रेल कॉर्पोरेशन लिमिटेड (बीएमआरसीएल) के एक अधिकारी ने बुधवार को कहा, "हम केंद्रीय गृह मंत्रालय द्वारा जारी स्टैंडर्ड ऑपरेशन प्रोटोकॉल (एसओपी) और केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के दिशा-निर्देशों के मुताबिक पूर्व-पश्चिम और उत्तर-दक्षिण मार्गों पर संचालन फिर से शुरू करने के लिए केंद्र सरकार की मंजूरी का इंतजार कर रहे हैं।"

अधिकारी ने आगे कहा, "अनलॉक के तीन क्रमिक चरणों में हालांकि सीमित बस, ट्रेन और विमान सेवाओं को धीरे-धीरे फिर से चालू करने की अनुमति दी जा चुकी है। वहीं, सार्वजनिक स्थानों पर भीड़ को रोकने के लिए नियमित एक्सप्रेस/मेल यात्री ट्रेनें और मेट्रो रेल सेवाएं अभी तक निलंबित रही हैं।"

स्वच्छ भारत का संदेश दे रही बेंगलूरु मेट्रो

बीते 25 मार्च से बंद बेंगलुरु मेट्रो अप-डाउन रूट पर चार लाख से अधिक मुसाफिरों को उनके गंतव्य तक पहुंचाती है। बेंगलुरु मेट्रो वर्तमान में 44 स्टेशनों के बीच कुल 42.3 किलोमीटर लंबा सफर तय करती है।

मेट्रो अधिकारी ने कहा, "सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों और दिशा-निर्देशों का पालन करते हुए छह-कोच वाली मेट्रो ट्रेन में यात्रियों की संख्या एक तिहाई तक सीमित की जा सकती है।" अधिकारी ने बताया कि मेट्रो सामान्य दिनों में प्रति यात्रा पर करीब 1,000 यात्रियों को लेकर जाती थी।

उन्होंने कहा कि प्रवेश द्वार यात्रियों की स्क्रीनिंग होगी और यात्रा के दौरान मास्क पहनने की सलाह भी दी जाएगी। यात्रियों को 'आरोग्य सेतु' एप्लिकेशन (ऐप) डाउनलोड करने के लिए भी कहा जाएगा।

दिल्ली मेट्रो भी है रेडी

दिल्ली मेट्रो में महिलाओं के फ्री सफर पर मोदी सरकार का इनकार, कहा-हमें नहीं मिला कोई प्रस्ताव

इससे पहले मंगलवार को दिल्ली मेट्रो रेल कॉरपोरेशन (डीएमआरसी) ने कहा कि सेवाएं शुरू करने के लिए उसे सरकार की हरी झंडी मिलने का इंतजार है। इस संबंध में दिल्ली मेट्रो के एक अधिकारी ने बताया कि बीते 22 मार्च से दिल्ली मेट्रो सेवाओं को निलंबित किया गया था। अब डीएमआरसी सभी सुरक्षा उपाय लागू करके फिर से मेट्रो सेवाएं शुरू करने के पूर तरह तैयार है। हालांकि केंद्र सरकार ने अभी तक अनुमति नहीं दी है। इस बीच संभावना जताई जा रही है कि 'अनलॉक 4.0' में मेट्रो को चरणबद्ध तरीके से और व्यापक प्रतिबंधों के साथ चालू किया जा सकता है।

कुछ वक्त पहले ही दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कोरोना वायरस के हालात में सुधार की बात कहते हुए ट्रायल बेसिस पर दिल्ली मेट्रो को चरणबद्ध ढंग से शुरू करने के लिए कहा था। वहीं, डीएमआरसी के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि सभी व्यवस्थाएं की जा चुकी हैं। मेट्रो स्टेशन काफी लंबे वक्त से बंद थे, इसलिए स्टेशनों को सैनिटाइज करने के लिए केवल दो दिन का वक्त चाहिए। ट्रेनों का एक बैच हब डिपो में फंसा हुआ है। इनसे धूल हटाने, स्टेशनों की सफाई करने की जरूरत होगी और ये सभी काम दो दिन में पूरे हो जाएंगे।

डीएमआरसी ने कहा, "कोरोना वायरस से निपटने के लिए लॉजिस्टिक्स प्लानिंग के अलावा, एहतियात के तौर पर सोशल डिस्टेंसिंग, ग्राउंड मार्किंग जैसे उपाय भी अपनाए जाएंगे। ट्रेनों की फ्रीक्वेंसी बढ़ाना सरकार के दिशा-निर्देशों पर निर्भर करेगा।

Coronavirus Pandemic
Show More
अमित कुमार बाजपेयी
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned