scriptएक कलेक्टर ऐसे भी..लोगों के जीवन में प्रेरणा और उत्साहवर्धन का स्रोत बनी दमोह कलेक्टर की अधिकारिक बेवसाइड | Patrika News
समाचार

एक कलेक्टर ऐसे भी..लोगों के जीवन में प्रेरणा और उत्साहवर्धन का स्रोत बनी दमोह कलेक्टर की अधिकारिक बेवसाइड

कलेक्टर सुधीर कुमार कोचर ने एक और कार्य को अपने कर्तव्य का हिस्सा बना लिया है। जो लोगों के जीवन में प्रेरणा और उत्साहवर्धन का काम कर रहा है। कोचर सोशल मीडिया के माध्यम से प्रेरित और प्रोत्साहित करने वालीं पोस्ट कर रहे हैं।

दमोहJun 21, 2024 / 06:31 pm

pushpendra tiwari

पुष्पेंद्र तिवारी दमोह. 11 मार्च 2024, दिन सोमवार। इस दिन आइएएस सुधीर कुमार कोचर ने दमोह जिले के 43वें कलेक्टर के रूप में पदभार संभाला। अपनी कार्यप्रणाली की वजह से जल्द ही वे जिले भर में लोकप्रिय हो गए। वजह है कलेक्टर सुधीर कुमार कोचर का छोटी से छोटी और बड़ी से बड़ी हर समस्या पर ध्यान देना और इनके निराकरण तक लगातार बारीकी से नजर बनाए रखना। यह तो रही उनकी प्रशासनिक कर्तव्य, जिसे वे बखूबी निभा रहे हैं।
वहीं कलेक्टर सुधीर कुमार कोचर ने एक और कार्य को अपने कर्तव्य का हिस्सा बना लिया है। जो लोगों के जीवन में प्रेरणा और उत्साहवर्धन का काम कर रहा है। कोचर सोशल मीडिया के माध्यम से प्रेरित और प्रोत्साहित करने वालीं पोस्ट कर रहे हैं। इन पोस्ट में उनके विचार न सिर्फ जीवन की सच्चाई बयां करने वाले होते हैं, बल्कि लोगों के लिए प्रेरणा का स्रोत भी बन रहे हैं। जो छात्र या लोग पढ़ाई या जीवन की आपाधापी में तनाव व चिंताग्रस्त हैं, वे कलेक्टर सुधीर कुमार कोचर के विचारों से नई सीख व प्रेरणा ले रहे हैं। कहीं न कहीं कलेक्टर के विचार लोगों के जीवन में बदलाव की वजह भी बन रहे हैं। यहां बता दें कि कलेक्टर सुधीर कुमार कोचर सोशल मीडिया के माध्यम से जिले के लोगों से सीधे कनेक्ट हैं। खास कर युवाओं से उनका जुड़ाव खास है। समस्याएं सुनने के साथ ही कलेक्टर सोशल मीडिया के माध्यम से प्रेरक विचार साझा कर रहे हैं। यह विचार लोगों खासतौर से युवाओं के लिए प्रेरणास्रोत बन रहे हैं। खास बात ये है कि कलेक्टर सुधीर कुमार कोचर ने प्रेरणादायी विचार ऐसे ही सांझा नहीं करने लगे। दरअसल उनके पास प्रशासनिक कार्यों से जुड़ी समस्याओं के अलावा कई बार लोग जीवन से जुड़ी समस्याएं लेकर भी पहुंचे। जिसके बाद उन्होंने समझा कि प्रेरित करने पर भी लोगों की आधी समस्याएं हल हो सकती हैं। यही कारण है कि उन्होंने सोशल मीडिया के माध्यम से प्रेरित करने वाले विचार सांझा करना शुरू किए। जिसका नतीजे भी सामने आ रहे हैं। लोग इन विचारों से प्रेरणा ले रहे हैं।
वर्जन

कलेक्टर सुधीर कमार कोचर कर्मठ अधिकारी हैं। ऐसे अधिकारी पाना दमोह का सौभाग्य है। उनके कार्यप्रणाली और विचार वास्तव में हमारे लिए प्रेरणा का स्रोत है।
निवेश खान, युवा

वंचितों का हित कलेक्टर के विचारों में भी झलकता है। विचार उपजा है तो शायद कलेक्टर का वंचितों से साक्षात्कार हुआ है। उम्मीद है कलेक्टर के विचार लोगों के लिए प्रेरणा बनेंगे।
माधव सिंह ठाकुर, युवा
मैंने जिले में सुधीर सर जैसा कलेक्टर नहीं देखा था। कर्तव्य कैसे निभाए जाते हैं, ये कलेक्टर सुधीर कुमार कोचर की कार्यप्रणाली से सीखना चाहिए। उनके विचार भी हम लोगों को बहुत कुछ सिखाते हैं।
राकेश राय, युवा
यह भी पढ़ें..
हादसों को रोकने यातायात अमला ट्रालियों के पीछे चिपका रहा रेडियम

दमोह. जिले में ट्रैक्टर ट्रॉलियों से हादसे बढ़े हैं। इनमें ज्यादातर ऐसे ट्रैक्टर ट्रॉली थे, जो यातायात नियमों को ताक पर रखकर संचालित होते पाए गए। एक खास बात ये भी चिन्हित की गई कि ट्रैक्टर ट्रॉलियों मे रेडियम पट्टी नहीं चिपकी थी। हालांकि अब यातायात पुलिस ने इसे संज्ञान में लिया है। ऐसे में यातायात पुलिस का अमला ट्रैक्टर ट्रॉलियों में रेडियम पट्टी लगा रहा है। यातायात पुलिस ने शहर में लगातार वाहनों की जांच कार्रवाई कर रही है। बीते दिनों के दौरान यातायात पुलिस ने कई ट्रैक्टर ट्रॉली बगैर रेडियम के चिन्हित किए। जिन्हें रेडियम लगाकर छोड़ा गया। अभी तक दर्जनों वाहनों में रेडियम पट्टी चिपकाई जा चुकी है। इनमें बड़ी संख्या ट्रैक्टर ट्रॉलियों की भी है। यातायात पुलिस को उम्मीद है कि रेडियम चिपकाने से टि रात के दौरान ट्रैक्टर.ट्रॉलियों से होने वाले हादसों में कमी आएगी। यातायात थाना प्रभारी दलबीर सिंह मार्को का कहना है कि हादसे रोकने के लिए वाहनों में रेडियम पट्टी लगाई जा रही है। खासकर ट्रैक्टर ट्रॉलियों पर फोकस है। क्योंकि ट्रॉलियों में पीछे लाइट नहीं होती। इससे हादसों की आशंका रहती है। रेडियम से वाहन चालकों को दूर से ही ट्रॉली नजर आ जाती है। मार्को ने बताया कि अभी तक कई ट्रैक्टर ट्रॉलियों में रेडियम पट्टी चिपकाई जा चुकी है। आगे भी अभियान चलाकर यह कार्रवाई जारी रहेगी।

Hindi News/ News Bulletin / एक कलेक्टर ऐसे भी..लोगों के जीवन में प्रेरणा और उत्साहवर्धन का स्रोत बनी दमोह कलेक्टर की अधिकारिक बेवसाइड

ट्रेंडिंग वीडियो