scriptएक साल से सलाद बंद, भोजन में भी रोटी व सब्जी की कटौती, सुबह का दलिया दोपहर में परोस रहे | Patrika News
समाचार

एक साल से सलाद बंद, भोजन में भी रोटी व सब्जी की कटौती, सुबह का दलिया दोपहर में परोस रहे

जिला अस्पताल में मेनू के अनुसार नहीं मिल रहा मरीजों को भोजन

शाहडोलJul 09, 2024 / 12:05 pm

Kamlesh Rajak

जिला अस्पताल में मेनू के अनुसार नहीं मिल रहा मरीजों को भोजन
शहडोल
. जिला चिकित्सालय में मरीजों के आहार में कटौती की जा रही है। अच्छा भोजन न मिलने से मरीज परेशान हो रहे हैं। जिसके कारण अधिकांश मरीज अस्सताल का खाना लेने से कतराने लगे हैं। पत्रिका टीम ने शनिवार से सोमवार तक लगातार तीन दिन लगातार पहुंचकर स्थिति देखी, यहां सुधार की काफी गुजाइंश नजर आई। सुबह के नाश्ते में भी कटौती करते हुए सिर्फ चाय व बिस्कुट से ही काम चलाया जा रहा है। भोजन की थाली से सलाद पूरी तरह गायब हो चुकी है। रोटी भी कई दिन नहीं दी जाती है। करीब एक साल से सलाद नहीं बट रहा है। वहीं जनरल मरीजों व एसएनसीयू में भर्ती शिशुओ की माताओं को अलग-अलग चाय नाश्ता व भोजन परोसने का प्रावधान है लेकिन कंपनी की लापरवाही से एक ही भोजन को सभी मरीजों को परोस कर खानापूर्ति की जाती है।
शनिवार को नहीं मिली मरीजों को रोटी
शनिवार को पत्रिका टीम जिला अस्पताल में दोपहर 1 बजे भोजन व्यवस्था का हाल जाने पहुंची तो मरीजों को मेनू के अनुसार भोजन वितरण नहीं होना पाया गया। दोपहर के भोजन में सिर्फ दलिया, दाल व सब्जी परोसा गया, जबकि रोटी व सलाद थाली से गायब था। जिससे मरीजों को दलिया खाकर दिन व्यतीत करना पड़ा। कर्मचारियों ने बताया कि रसोई में आटा खत्म हो गया है, जिसके कारण रोटी का वितरण नहीं हो सका है। इसी तरह सुबह के नाश्ते व रात्रि के भोजन वितरण में भी कटौती की जाती है।
सुबह नाश्ता में दलिया, दोपहर में भी परोस दिया, चाय भी नहीं बटी
जिला अस्पताल में नाश्ता से लेकर भोजन तक में कटौती किया जा रहा है। कई बार सुबह की दलिया दोपहर को परोसा जा रहा है। सोमवार को भी मरीजों को मेन्यू अनुसार सुबह 9 बजे नाश्ता में पोहा या उपमा दिया जाना था, लेकिन दलिया देकर काम चलाया गया, इतना ही नहीं सुबह की बची हुई दलिया को दोपहर के भोजन में परोस दिया गया। मरीजों सुबह व शाम चाय के साथ 4 बिस्किट दिया जाना है, लेकिन अस्पताल में बीते करीब एक सप्ताह से मरीजों को चाय बिस्किट का वितरण बंद किया गया है। पोषण आहर में ठेका कंपनी मनमाना रवैया अपना रही है।
एसएनसीयू में भर्ती शिशु व माताओं को ये देना है डाइट
डाइट चार्ट के अनुसार एसएनसीयू में भर्ती शिशुओं की माताओं को शनिवार को 1.30 से 2 बजे के बीच बंटने वाले दोपहर के भोजन में हरी सब्जी 100 ग्राम, अरहर की दाल 30 ग्राम, सलाद 1 कटोरी, 3-4 नग रोटी व नमकीन वाली दलिया परोसा जाना था। वहीं अन्य भर्ती मरीजों को दोपहर के भोजन में सलाद 1 कटोरी, 3-4 नग रोटी, 100 ग्राम हरी सब्जी, दाल कटोरी, दलिया 1 कप दिया जाना था, लेकिन भोजन की वितरण करने वाली कंपनी ने दलिया, दाल व लौकी सब्जी परोस कर खानापूर्ति कर ली। जबकी सलाद व रोटी का वितरण नहीं किया गया। इसी तरह भर्ती मरीजों को सुबह का नाश्ता, दोपहर का भोजन, संध्या में वितरण होने वाले चाय बिस्कुट व रात्रि भोजन में कटौती की जाती है। अस्पताल में भर्ती मरीजों को मानी तो हर रोज लौकी व कद्दू की सब्जी परोसी जाती है, कभी-कभी भाजी दिया जाता है।
इनका कहना
अस्पताल में भोजन व्यवस्था के लिए नया टेंडर हुआ है। जल्द ही व्यवस्थाएं सुधर जाएंगी, मरीजों को मेनू के अनुसार भोजन वितरण कराया जाएगा। लापरवाही हो रही है तो कार्रवाई करेंगे।
डॉ. जीएस परिहार, सिविल सर्जन जिला अस्पताल, शहडोल

Hindi News/ News Bulletin / एक साल से सलाद बंद, भोजन में भी रोटी व सब्जी की कटौती, सुबह का दलिया दोपहर में परोस रहे

ट्रेंडिंग वीडियो