कम खर्च में ऑर्गेनिक खेती कर कमाना चाहते हैं मोटा मुनाफा तो जरूर जाएं इस जगह, मिलेगी पूरी ट्रेनिंग, देखें वीडियो

Highlights:

-इस शिविर में कई राज्यों के उत्पादक और आर्गेनिक खेती में रुचि रखने वाले किसान व विद्यार्थी भाग ले रहे हैं

-शिविर में कृषि वैज्ञानिक आकाश और अन्य विशेषज्ञ सवालों और आशंकाओं का निदान करेंगे

-साथ ही वे बताएंगे इस विधि से कैसे खेती की जाए और इससे क्या लाभ होते हैं

नोएडा। सेक्टर -167 में तीन दिवसीय मल्टी लेयर फार्मिंग प्रशिक्षण शिविर का आयोजन आद्या ऑर्गेनिक एंड मिल्क प्रोडक्ट्स प्राइवेट लिमिटेड द्वारा किया जा रहा है। 14 से 16 फरवरी तक आयोजित होने वाले इस शिविर में कई राज्यों के उत्पादक और आर्गेनिक खेती में रुचि रखने वाले किसान व विद्यार्थी भाग ले रहे हैं। शिविर में कृषि वैज्ञानिक आकाश और अन्य विशेषज्ञ किसानों और आर्गेनिक खेती में रुचि रखने वालों के सवालों और आशंकाओं का निदान करेंगे। साथ ही वे बताएंगे इस विधि से कैसे खेती की जाए और इससे क्या लाभ होते हैं।

यह भी पढ़ें : बोर्ड परीक्षा में घड़ी पहनकर आने वाले परीक्षार्थियों को नहीं मिलेगी एंट्री

मल्टी लेयर फार्मिंग प्रशिक्षण शिविर में कृषि वैज्ञानिक आकाश और अन्य विशेषज्ञों ने किसानों और आर्गेनिक खेती में रुचि रखने वालों को बताया कि कैसे मल्टी लेयर फार्मिंग से किसान अपनी आमदनी को 4 से 5 गुना बढ़ा सकते हैं और खर्चों को 4 से 5 गुना कम कर सकते हैं। युवाओं व किसानों को प्रैक्टिकल ट्रेनिंग देने के लिए एक मैदान को एक मॉडल खेत में तीन दिन में कन्वर्ट करके दिखाया जाएगा।

यह भी पढ़ें: होली से पहले शुरू होगा 2900 वर्ग मीटर एरिया में फैला ओपन थियेटर, जानिए कितना होगा किराया

गौरतलब है कि आर्गेनिक खेती और उत्पाद लोगों में ही नहीं बाजार में भी अपनी खास पहचान बना चुके हैं। कुछ खास वर्ग के लोग तो कीटनाशक और यूरिया आदि खादों के प्रयोग से उत्पादित फसलों से किनारा कर चुके हैं। वे आर्गेनिक खाद और गोबर खाद से उत्पादित उत्पादों और खाद्यान्नों का ही प्रयोग कर रहे हैं। एक गौमाता से प्राप्त होने वाले पंचदव्य उनको साथ में लेकर हम उन्नति कैसे कर सकते हैं। इस बारे में प्रशिक्षण शिविर मे जानकारी दी जा रही है। जिससे किसान कम खर्च में ज्यादा उत्पादन कैसे प्राप्त कर सकते इस बारे में बताया जाएगा।

Rahul Chauhan
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned