Pakistan: सैन्य ताकत बढ़ाने में जुटे Imran Khan, अपने बेडे में 50 से अधिक पोत शामिल करेंगी नौसेना

HIGHLIGHTS

  • पाकिस्तानी नौसेना के निवर्तमान प्रमुख एडमिरल जफर महमूद अब्बासी ने कहा कि हम आने वाले कुछ वर्षों में 20 बड़े जहाज समेत 50 से अधिक पोत अपने बेडे में शामिल करेंगे।
  • एडमिरल अमजद खान नियाजी पाकिस्तान के नए नौसेना प्रमुख ( Pakistan New Navy Chief Admiral Amjad Khan Niazi ) बन गए हैं। उन्होंन बुधवार को पाकिस्तान के 22 वें नौसेना प्रमुख के तौर पर अपना कार्यभार संभाल लिया है।

By: Anil Kumar

Updated: 07 Oct 2020, 08:30 PM IST

इस्लामाबाद। बदहाल अर्थव्यवस्था को संभालने में पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ( PM Imran Khan ) के पसीने छूट रहे हैं। गेंहू की कीमत पाकिस्तान के इतिहास में सबसे अधिक 60 रुपये किलो तक पहुंच गया है और इधर वे सैन्य ताकत को बढ़ाने में अपनी ताकत झौंक रहे हैं।

दरअसल, पाकिस्तानी नौसेना ( Pakistani Navy ) अपनी ताकत बढ़ाने के लिए एक महत्वकांक्षी योजना पर काम करते हुए अपने बेडे में 20 बड़े जहाज समेत 50 से अधिक पोत शामिल करेगी। यह जानकारी बुधवार को पाकिस्तानी नौसेना के निवर्तमान प्रमुख ने दी है।

पाकिस्तानी नौसेनिक अरब सागर में कर रहे हैं युद्धाभ्यास, पल-पल की हरकत पर है भारतीय सेना की नजर

पाकिस्तानी नौसेना के निवर्तमान प्रमुख एडमिरल जफर महमूद अब्बासी ने अपना विदाई भाषण देते हुए कहा कि 2023 और 2025 के बीच हम 4 चीनी जहाजों और 4 तुर्की निर्मित मध्य श्रेणी के जहाज अपने बेडे में शामिल करेंगे। उन्होंने कहा कि चीन के सहयोग से हैंगोर पनडुब्बी परियोजना पर योजना अनुसार काम आगे बढ़ रहा है। पाकिस्तान और चीन में 4-4 पनडुब्बियों का निर्माण किया जा रहा है।

एडमिरल अमजद खान बने नए नौसेना प्रमुख

एडमिरल जफर महमूद अब्बासी के हवाले से सरकारी रेडियो पाकिस्तान ने अपने रिपोर्ट में बताया है कि यह परियोजना हमें पनडुब्बी संचालित करने वाली नौसेना से पनडुब्बी बनाने वाली नौसेना में तब्दील कर देगी। रिपोर्ट में कहा गया है कि 20 बड़े जहाजों सहित 50 से अधिक पोत वाला बेड़ा पाकिस्तानी नौसेना की क्षमता को कई गुना अधिक मजबूत बनाएगा।

बता दें कि बुधवार को महमूद अब्बासी ने अपना विदाई भाषण देने के साथ ही औपचारिक तौर पर अपने उत्तराधिकारी एडमिरल अमजद खान नियाजी को जिम्मेदारी सौंप दी है। एडमिरल अमजद खान नियाजी पाकिस्तान के नए नौसेना प्रमुख बन गए हैं। उन्होंन बुधवार को पाकिस्तान के 22 वें नौसेना प्रमुख के तौर पर अपना कार्यभार संभाल लिया है।

पाकिस्तानी नौसेना ने भारतीय पनडुब्बी के सीमा में घुसने का दावा किया, वीडियो पर संदेह बरकरार

बता दें कि नियाजी को 1985 में पाकिस्तान नौसेना के ऑपरेशंस ब्रांच में कमीशन दिया गया था। पाकिस्तान नेवल एकेडमी में शुरुआती ट्रेनिंग पूरी होने पर उन्हें 'सोर्ड ऑफ ऑनर से सम्मानित किया जा चुका है। एडमिरल नियाजी को हिलाल-ए-इम्तियाज (सैन्य) और सितारा-ए-बसालत (स्टार ऑफ गुड कंडक्ट) भी हासिल है। इसके अलावा उन्हें फ्रांस सरकार से फ्रेंच मेडल शेवालियर (नाइट) का भी सम्मान मिल चुका है।

गौरतलब है कि नियाजी क्वेटा के आर्मी कमांड एंड स्टाफ कॉलेज और नेशनल डिफेंस यूनिवर्सिटी, इस्लामाबाद से स्नातक की डिग्री हासिल की है। इसके अलावा चीन के बीजिंग यूनिवर्सिटी ऑफ एयरोनॉटिक्स एंड एस्ट्रोनॉटिकक्स से अंडरवाटर एकॉस्टिक्स में मास्टर्स किया है।

Show More
Anil Kumar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned