दबाव में पाकिस्तान, मसूद अजहर और हाफिज सईद के कई संगठनों पर गिरी गाज

दबाव में पाकिस्तान, मसूद अजहर और हाफिज सईद के कई संगठनों पर गिरी गाज

Siddharth Priyadarshi | Publish: May, 12 2019 07:50:37 AM (IST) | Updated: May, 13 2019 08:37:05 AM (IST) पाकिस्तान

  • पुलवामा हमले के बाद भारत की आक्रामक कूटनीति का असर
  • न चाहते हुए करनी पड़ी मसूद अजहर और हाफिज सईद के संगठनों पर कार्रवाई
  • आतंकवाद को फंडिंग करने के आरोप में पाकिस्तान पर लग सकते हैं अंतरराष्ट्रीय प्रतिबंध

इस्लामाबाद। मसूद अजहर पर भारत की कूटनीतिक जीत से पाकिस्तान के हौसले पस्त होते नजर आ रहे हैं। आंतकवाद के मुद्दे पर दुनिया भर में घिर रहे पाकिस्तान को न चाहते हुए भी मसूद अजहर और हाफिज सईद जैसे पालतू आतंकियों पर कार्रवाई करनी पड़ रही हैं। पाकिस्तान ने मसूद अजहर के जैश ए मोहम्मद और हाफिज सईद के जमात उद दवा सहित कई आतंकी संगठनों पर बड़ी कार्रवाई करते हुए उन्हें बैन कर दिया है। पाकिस्तान के इस कदम को इइस्लामाबाद द्वारा एफएटीएफ की बैठक से पहले ब्लैक लिस्टेड होने से बचने के प्रयास के रूप में देखा जा रहा है। बता दें कि एफएटीएफ पाकिस्तान द्वारा आतंकियों की फंडिंग करने की मामलों की जांच कर रहा है।

ईरानी खतरों से निपटने की चुनौती, अमरीका ने खाड़ी में तैनात कीं पैट्रियट मिसाइलें

बैन हुए मसूद अजहर और हाफिज सईद के संगठन

अपनी जमीन से संचालित होने वाले आतंकी संगठनों पर एक अंतरराष्ट्रीय जांच का सामना करने के बाद पाकिस्तान ने शनिवार को घोषणा की कि उसने अपनी प्रतिबंधित सूची में JeM, JuD और FIF से जुड़े कई संगठनों को सूचीबद्ध किया है। इस कदम को इस्लामाबाद द्वारा एफएटीएफ की बैठक से पहले ब्लैक लिस्टेड होने से बचने के प्रयास के रूप में देखा जा रहा है। पाकिस्तान को ब्लैक लिस्टेड करने के लिए भारत UN में कड़ी मेहनत कर रहा है, जिसके परिणामस्वरूप पाकिस्तान को कई प्रतिबंधों का सामना करना पड़ सकता है। अब पाकिस्तान ने जैश-ए-मोहम्मद (JeM), जमात-उद-दावा (JuD), और फलाह-ए-इन्सानियत फाउंडेशन (FiF) जैसे प्रतिबंधित आतंकी संगठनों के साथ उनके संबंध के कारण नई संस्थाओं पर प्रतिबंध लगा दिया गया है। पाकिस्तान सरकार के मंत्रिमंडल से मंजूरी के बाद कई ऐसे संगठनों को शनिवार शाम अभियोजन सूची में रखा गया है। पाकिस्तान सरकार की ओर से जारी एक प्रेस बयान में कहा गया है कि यह मानने के उचित आधार हैं कि ये संगठन या तो आतंकी संगठनों के स्वामित्व वाले हैं या प्रत्यक्ष या परोक्ष रूप से आतंकी संगठनों द्वारा नियंत्रित किए जा रहे हैं।

पाक-अफगान सीमा पर अमरीकी ड्रोन का हमला, 5 आतंकी ढेर

इन संगठनों पर गिरी गाज

पाकिस्तान ने जैश और जेयूडी से संबंधित संगठनों पर शनिवार को प्रतिबंध लगा दिया। ये संगठन हैं अल-अनफाल ट्रस्ट, इदारा खिदमत-ए-ख़लक अल-दावत उल इरशाद, अल-हमद ट्रस्ट, मस्जिदें वेलफेयर ट्रस्ट, अल-मदीना फाउंडेशन, माज-बीन-जबल एजुकेशन ट्रस्ट। जिन नए संगठनों पर प्रतिबंध लगाया गया है, अब उन्हें अपनी गतिविधियां तत्काल बंद करनी होंगी। अल-फजल फाउंडेशन, अल-ईसार फाउंडेशन जैसे जैश से जुड़े संगठनों के दफ्तर सील कर दिए गए हैं। इससे पहले JuD, JeM और FIF पर कार्रवाई के तहत पाकिस्तान ने मार्च में इन संगठनों के 100 से अधिक कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार किया। सरकार ने इन संगठनों की अन्य सुविधाओं और परिसंपत्तियों के नियंत्रण को भी जब्त कर लिया।

विश्व से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर ..

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned