अरुण जेटली की हालत गंभीर, कैलाश कॉलोनी स्थित घर के बाहर बढ़ी सुरक्षा

अरुण जेटली की हालत गंभीर, कैलाश कॉलोनी स्थित घर के बाहर बढ़ी सुरक्षा

Dhiraj Kumar Sharma | Updated: 16 Aug 2019, 10:56:00 PM (IST) राजनीति

  • Former FM Arun Jaitley की हालत नाजुक
  • President Ramnath Kovind हाल जानने AIIMS गए
  • घर के बाहर पुलिस ने बढ़ाई सुरक्षा, फेफड़ों में भर रहा पानी

नई दिल्ली। पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली ( Arun Jaitley )की हालत नाजुक बनी हुई है। उन्हें 9 अगस्त को इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस ( AIIMS ) में भर्ती किया गया था। जेटली की बिगड़ी तबीयत के बाद उनका हाल जानने राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ( President Ramnath Kovind ) शुक्रवार को एम्स पहुंचे। आपको बता दें कि पूर्व वित्त मंत्री को वेंटिलेटर पर रखा गया है। उन्हें सांस लेने में तकलीफ के बाद अस्पताल में भर्ती कराया गया था।

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के साथ स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन, स्वास्थ्य राज्य मंत्री अश्विन कुमार चौबे भी मौजूद रहे। पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली को ICU में रखा गया है। जहां उनकी हालत नाजुक बनी हुई है।

 

इस बीच बताया जा रहा है अरुण जेटली के कैलाश कॉलोनी स्थित निजी आवास के बाहर पुलिस सुरक्षा बढ़ा दी गई है।

हालांकि ना तो एम्स और ना ही जेटली के परिजनों की ओर से किसी भी तरह की कोई जानकारी साझा की गई है।

लेकिन उनके स्वास्थ्य को लेकर चिकित्सकों की टीम से लेकर लगातार तमाम दिग्गज नेताओं की भी नजर बनी हुई है।

पुलिस ने उनके घर के बाहर सुरक्षा कड़ी कर दी है।

9 अगस्त के बाद कोई आधिकारी बयान नहीं आया
9 अगस्त को एम्स ने उनकी सेहत को लेकर एक बयान जारी किया था, मगर उसके बाद से अभी तक एम्स प्रशासन की तरफ से कोई और आधिकारिक बयान जारी नहीं किया गया है।

जेटली के फेफड़ों में पानी जमा हो रहा है, जिसकी वजह से उन्हें सांस लेने में दिक्कत आ रही है।

यही वजह है कि डॉक्टरों ने उन्हें वेंटिलेटर पर रखा है। दरअसल उनके फेफड़ों से पानी निकाला जा रहा है, लेकिन बार-बार पानी जमा होने के चलते उनकी सेहत में सुधार नहीं हो पा रहा है।

 

arun

22 को बेटे की शादी
मीडिया रिपोर्ट्स से मिली जानकारी के मुताबिक अरुण जेटली के बेटे की शादी 22 अगस्त को तय की गई है।

ऐसे में उनकी तबीयत के चलते हो सकता है इसमें भी कुछ बदलाव किया जाए।

सांस लेने में हो रही थी परेशानी
पूर्व वित्त मंत्री और बीजेपी नेता अरुण जेटली को 9 अगस्त को सांस लेने में दिक्कत के बाद दिल्ली स्थित एम्स में भर्ती किया गया था।

चिकित्सकों की मानें तो उनके फेफड़ों में बार-बार पानी भरता जा रहा है।

इस वजह से उनकी तबीयत लगातार स्थिर बनी हुई है।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned