कांग्रेस पार्टी का बड़ा ऐलान, अगर हमारी सरकार बनी तो खत्म करेंगे तीन तलाक कानून

महिला कांग्रेस अध्यक्ष और सांसद सुष्मिता देव ने तीन तलाक को खत्म करने की बात कही।

By: Kapil Tiwari

Updated: 07 Feb 2019, 05:03 PM IST

नई दिल्ली। कांग्रेस पार्टी की तरफ से तीन तलाक कानून पर एक बड़ा बयान आया है। गुरुवार को दिल्ली के जवाहर लाल नेहरु स्टेडियम में हुए कांग्रेस अल्पसंख्यक मोर्चा सम्मेलन में महिला कांग्रेस अध्यक्ष और लोकसभा सांसद सुष्मिता देव ने तीन तलाक कानून को खत्म करने की बात कही। उन्होंने कहा कि अगर केंद्र में हमारी सरकार बनती है तो हम तीन तलाक कानून को खत्म कर देंगे। जिस वक्त ये बयान दिया गया, उस समय सम्मेलन में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी भी मौजूद थे। सुष्मित देव के इस बयान से साफ हो गया है कि कांग्रेस पार्टी मुस्लिम महिलाओं को इंसाफ देने के लिए बनाए गए तीन तलाक कानून के खिलाफ है। ये बयान चुनावी माहौल में काफी अहम है।

मुस्लिम युवकों को जेल भेजने की साजिश है तीन तलाक कानून- कांग्रेस

कांग्रेस अल्पसंख्यक मोर्चा के सम्मेलन में सुष्मिता देव ने कहा, 'हमारी सरकार बनेगी तो हम तीन तलाक कानून खत्म कर देंगे।' उन्होंने कहा कि ये कानून मुस्लिम पुरुषों को जेल में भेजने की साजिश है। सुष्मिता देव ने कहा कि कांग्रेस एक बार में तीन तलाक देने के खिलाफ है, लेकिन इसके खिलाफ बने कानून का वह समर्थन नहीं करती।

 

सुप्रीम कोर्ट तीन तलाक को बता चुका है असंवैधानिक

आपको बता दें कि तीन तलाक कानून बनाने के पीछे केंद्र सरकार का बहुत बड़ा हाथ है। माननीय सुप्रीम कोर्ट ने 22 अगस्त, 2017 को तीन तलाक को असंवैधानिक घोषित किया था और अदालत ने ही केंद्र सरकार को इस पर कानून बनाने के लिए कहा था। पिछले साल मानसून सत्र में राज्यसभा में बिल पास करवाने में असफलता के बाद केंद्र सरकार इस मुद्दे पर अध्यादेश लेकर आई। हालांकि अध्यादेश के जरिए बनाया गया कानून छह महीने के अंदर अवैध हो जाता है, हालांकि सरकार शीतकालीन सत्र में इस बिल को पास नहीं करवा पाई।

तीन तलाक कानून पर क्या कहता है विपक्ष?

तीन तलाक कानून को लेकर विपक्ष ने कई बार सदन में हंगामा किया। विपक्ष का कहना है कि शादी दो वयस्कों के बीच एक सामाजिक कॉन्ट्रैक्ट है, इसलिए तलाक से जुड़े मसलों का समाधान भी सामाजिक ही होना चाहिए। विपक्ष का कहना है कि इस मुद्दे का अपराधिकरण नहीं किया जाना चाहिए। एक और चिंता यह है कि यदि कानून पास होता हो तो पति आरोपी होगा और उसे जेल भेज दिया जाएगा।

सम्मेलन में राहुल दी पीएम मोदी को चुनौती

इस सम्मेलन में राहुल गांधी ने केंद्र की मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए सरकार की कई नीतियों और योजनाओं पर हमला बोला। राहुल ने कहा कि आज नरेंद्र मोदी के चेहरे में घबराहट देखने को मिलती है, उनके चेहरे में डर देखने को मिलता है। राहुल ने मंच से पीएम मोदी को चुनौती भी दी। उन्होंने कहा कि अगर प्रधानमंत्री में हिम्मत है तो मुझसे बस 15 मिनट डिबेट करके दिखाएं, लेकिन मैं जानता हूं कि वो डरपोक हैं।

Congress
Show More
Kapil Tiwari
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned