जम्मू कश्मीर निकाय चुनाव का तीसरा चरण: सांबा में टूटा रिकॉर्ड, 2 बजे तक 74 फीसदी मतदान

जम्मू कश्मीर निकाय चुनाव का तीसरा चरण: सांबा में टूटा रिकॉर्ड, 2 बजे तक 74 फीसदी मतदान

Chandra Prakash | Publish: Oct, 13 2018 03:06:16 PM (IST) | Updated: Oct, 13 2018 03:36:27 PM (IST) राजनीति

जम्मू-कश्मीर में तीसरे चरण का निकाय चुनाव में 96 वार्डो में हो रहा है। जिसमें कुल 365 उम्मीदवार अपने भाग्य को आजमा रहे हैं।

श्रीनगर। जम्मू कश्मीर में तीसरे चरण का नगर निकाय चुनाव जारी है। सांबा जिले में मतदान के शुरुआती पांच घंटों में लगभग 73 फीसदी मतदान हुआ है जबकि कश्मीर घाटी में मतदान प्रतिशत बहुत कम है। वहीं घाटी के पुलवामा और बांदीपोरा जिलों में कुछ उम्मीदवार निर्विरोध चुने गए वहीं अन्य वार्डो में किसी ने उम्मीदवारी पेश नहीं की।

सबसे ज्यादा बारामूला और सबसे कम श्रीनगर में मतदान

दोपहर 2 बजे तक अनंतनाग जिले में मतदान प्रतिशत 2.7 फीसदी, सांबा में 73.9 फीसदी रहा। वहीं श्रीनगर में 1.5 फीसदी, और बारामूला में 72.7 फीसदी मतदान हुआ। सीमा पर स्थित उड़ी में मतदाता बड़ी संख्या में पहुंच रहे हैं। जम्मू के सांबा और घाटी के श्रीनगर, अनंतनाग, बारामूला, पुलवामा और बांदीपोरा जिलों में मतदान सुबह छह बजे से शाम चार बजे तक होंगे। तीसरे चरण के चुनाव में 96 वार्डो में 365 उम्मीदवार चुनाव लड़ रहे हैं।

दिल्ली में बैंक लूट का सनसनीखेज CCTV फुटेज आया सामने, बदमाशों ने दिनदहाड़े गार्ड को मारी गोली

पहले दो चरण में 47.2 फीसदी रहा मतदान

चुनाव अधिकारी ने कहा कि मतदान केंद्रों पर बड़ी संख्या में चुनावकर्मियों सहित अतिरिक्त कर्मी तैनात किए गए हैं। राज्य के मुख्य निवाचन अधिकारी (सीईओ) शालीन काबरा ने कहा कि पहले दो चरण में कुल मतदान प्रतिशत 47.2 फीसदी रहा था। पहले चरण का चुनाव आठ अक्टूबर जबकि दूसरे चरण का चुनाव 10 अक्टूबर को हुआ था। दूसरे चरण के मतदान के दौरान जम्मू क्षेत्र के कठुआ, उधमपुर, किश्तवाड़, रियासी, डोडा और रामबन जिलों में और घाटी के अनंतनाग, कुपवाड़ा, श्रीनगर, बारामूला, बांदीपोरा, बडगाम और कुलगाम जिलों में स्थापित 544 मतदान केंद्रों पर मतदाताओं ने अपने मत का प्रयोग किया था।

संवेदनशील बूथों की हो रही वीडियोग्राफी

काबरा ने कहा कि निष्पक्ष चुनवा के लिए पर्यवेक्षकों की तैनाती की गई है। उन्होंने कहा कि राज्य के सभी मतदान केंद्रों पर बेसिक मिनिमम फैसिलिटीज (बीएमएफ) सुनिश्चित की गई है। काबरा ने कहा कि डिप्टी कमिश्नर सभी संवेदनशील स्थानों की वीडियोग्राफी करा रहे हैं।
राज्य में 13 साल बाद निकाय चुनाव
राज्य में 13 साल के बाद चार चरणों में निकाय चुनाव हो रहे हैं। मुख्यधारा के राजनीतिक दलों नेशनल कॉन्फ्रेंस, पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी, भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी-मार्क्‍सवादी (माकपा), डेमोक्रेटिक पार्टी नेशनलिस्ट (डीपीएन) और पीपुल्स डेमोक्रेटिक फ्रंट (पीडीएफ) ने चुनाव का बहिष्कार किया है। घाटी में 270 मतदान केंद्रों और जम्मू में 274 केंद्रों के 263 वार्डों से कुल 1,029 उम्मीदवार चुनावी मैदान में हैं। इनमें से 881 उम्मीदवार जम्मू के जिलों से जबकि 148 घाटी से हैं।

Ad Block is Banned