पीएम मोदी की सफलता देख भावुक हुई मां हीराबेन, घर से बाहर आकर दिया आशीर्वाद

पीएम मोदी की सफलता देख भावुक हुई मां हीराबेन, घर से बाहर आकर दिया आशीर्वाद

Dhiraj Kumar Sharma | Publish: May, 23 2019 01:40:54 PM (IST) राजनीति

  • मोदी को दोबारा जीत मिलती देख मां हुई भावुक
  • 2014 में कहा था- गुजरात की तरह देश की करना सेवा
  • इस बार भी घर से बाहर आकर दिया आशीर्वाद

नई दिल्ली। देश के इतिहास में सबसे लंबे चले लोकसभा चुनाव का फैसला आज होने जा रहा है। वोटों की गिनती भी शुरू हो गई है और सभी सीटों पर रुझान भी सामने आ गए हैं। इन रुझानों में एनडीए को एक बार फिर बहूमत मिलता दिखाई दे रहा है। जैसा की एग्जिट पोल में दिखाया गया था। प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में भाजपा और एनडीए के इस बेहतरीन प्रदर्शन का असर मोदी की मां पर भी दिखा। बेटे की अद्भुत उपलब्धि पर प्रधानमंत्री की मां हीराबेन खुद को रोक नहीं पाईं और गांधीनगर स्थित अपने आवास से बाहर निकलीं।

 

hiraben

अपनी खुशी का इजहार करने घर से बाहर निकलीं पीएम मोदी की मां हीराबेन ने इस दौरान पत्रकारों से भी बात की। बेटे की जीत की संभावना के बीच हीराबेन ने पत्रकारों का अभिवादन किया। पत्रकारों से रूबरू हुईं हीराबेने के चेहरे पर बेटे की जीत को लेकर विश्वास साफ झलक रहा था।


मोदी की मां हीराबेन के साथ घर के अन्य सदस्य भी मौजूद रहे। हालांकि इस दौरान उनकी मां ने ज्यादकुछ नहीं कहा लेकिन उनके हाव भाव से ये स्पष्ट था कि बेटे की मेहनत एक बार फिर रंग लाई। हीराबेन ने हाथ उठाकर सभी का अभिवादन तो किया ही साथ ही जीत के लिए एक बार फिर बेटे को आशीर्वाद दिया।

 

modi with mother

इससे पहले मतदान के दिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पहले अपनी मां हीराबेन से मिलने पहुंचे थे। इस दौरान उन्होंने मां से जीत के लिए आशीर्वाद भी मांगा था। यही नहीं वर्ष 2014 में जीत के बाद भी पीएम मोदी अपने मां के साथ ही नजर आए थे। इस दौरान हीराबेन ने कहा था कि उनका बेटा देश की सेवा उसी तरह करेगा जिस तरह गुजरात में की है। बहरहाल जनता ने एक बार मोदी के काम को सराहा है और उन्हें दोबारा सत्ता में आने का मौका दिया है।


आपको बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस बार वाराणसी से चुनावी मैदान में हैं और इस बार भी वो बड़ी जीत दर्ज करन की ओर बढ़ रहे हैं। पिछले चुनाव में मोदी को यहां से 5 लाख 81 हजार वोट मिले थे। मोदी ने अपने करीबी प्रतिद्वंदी और दिल्ली सीएम अरविंद केजरीवाल को करीब पौने चार लाख वोटों से हराया था। वहीं कांग्रेस के अजय राय तीसरे स्‍थान पर रहे थे।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned