लोकसभा चुनाव 2019: केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने पश्चिम बंगाल के लोगों से बिना डरे मतदान की अपील की

लोकसभा चुनाव 2019: केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने पश्चिम बंगाल के लोगों से बिना डरे मतदान की अपील की

Dhirendra Kumar Mishra | Publish: May, 12 2019 01:46:23 PM (IST) | Updated: May, 12 2019 01:58:34 PM (IST) राजनीति

  • प्रकाश जावड़ेकर ने ममता को सत्‍ता से बेदखल करने की अपील की
  • पश्चिम बंगाल में छठे चरण में हुई हिंसक घटनाएं
  • पहली बार पश्चिम बंगाल में टीएमसी और भाजपा के बीच है सीधा मुकाबला

नई दिल्‍ली। लोकसभा चुनाव के छठे चरण का मतदान सुबह से जारी है। इस चरण में भी पश्चिम बंगाल में पहले की तरह हिंसक घटनाओं को देखते हुए केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने बड़ा बयान दिया है। उन्‍होंने पश्चिम बंगाल के मतदाताओं से बिना डरे मतदान की अपील की है। उन्‍होंने कहा कि पश्चिम बंगाल में टीएमसी प्रमुख और मुख्‍यमंत्री ममता बनर्जी के कुशासन को मतदान के बल पर ही खत्‍म किया जा सकता है। प्रदेश के मतदाता ही टीएमसी को सत्‍ता से बाहर का रास्‍ता दिखा सकते हैं।

शीला और केजरीवाल के ट्वीटर वार में कूदे कुमार विश्‍वास, पूछा- तो तीन महीने से लगा रहे थे चक्‍कर

चुनावी हिंसा में 2 मरे

केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने छठे चरण में मतदान के दौरान हिंसक घटनाओं के बीच यह बयान दिया है। उन्‍होंने कहा कि पश्चिम बंगाल में हर चरण में हिंसक घटनाएं हुई हैं। रविवार को मतदान शुरू होने से पहले ही झारग्राम में भारतीय जनता पार्टी के बूथ कार्यकर्ता का शव बरामद हुआ है। मृत व्यक्ति का नाम रामेन सिंह बताया जा रहा है। भाजपा के कार्यकर्ता के अलावा एक टीएमसी कार्यकर्ता का भी शव बरामद हुआ है। वहीं मिदनापुर में दो भाजपा के कार्यकर्ताओं को गोली मारने की घटना भी सामने आई है।

लोकसभा चुनाव: हरियाणा में सवा शेर कौन खट्टर या हुड्डा, प्रत्‍याशियों के साथ इनकी...

 

टीएमसी और भाजपा के बीच सीधा मुकाबला

बता दें कि पश्चिम बंगाल में लोकसभा की 42 सीटें हैं। इन सीटों पर टीएमसी और भाजपा के बीच सीधा मुकाबला है। इस बार भाजपा का 23 सीटों पर जीत हासिल करने का लक्ष्‍य है तो ममता बनर्जी सभी सीटों पर टीएमसी के उम्‍मीदवारों की जीत सुनिश्चित करने में लगी हैं। अभी तक भाजपा की बंगाल में न्यूनतम उपस्थिति रही है। 2014 तक यहां पर मुख्य लड़ाई टीएमसी और वामदलों के बीच थी।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned